बच्चे की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए क्या करें?

Translated to English

What to do to increase the child's immune system?

Created by
Updated on May 15, 2019

nutrition Corner

Answer:
नमस्ते Salik Ram, नवजात शिशु की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए आप इन बातों का ध्यान रखें। माँ का दूध, शिशु के पैदा होते ही उसके शरीर की बीमारी से लड़ने की ताकत बढ़ाने का सबसे अच्छा जरिया होता है। माँ के दूध में बीमारी से लड़ने वाले बहुत से तत्व होते हैं जो संक्रमण, एलर्जी, मूत्र की नली का संक्रमण, यहाँ तक कि ‘अकस्मात षिषु मृत्यु (एस.आई.डी.एस.)’ के खतरे को कम करता है। नींद की कमी आपके शिशु को बुरी तरह से थका सकती है, जो संक्रमण का खतरा बढ़ाता है या उसकी सेहत में सुधार की गति को धीमा करता है। नये शिशु को कम से कम 18 घंटे की नींद की जरूरत होती है, घुटनें से चलने वाले या नया-नया चलना सीखने वाले शिशु को कम से कम 12 से 13 घंटे नींद की जरूरत होती है जबकि बालविहार जाने वाले शिशु को 10 घंटे नींद की जरूरत होती है। अगर आपके शिशु को नींद नहीं आ रही या उसे सोने में परेशानी हो रही है तो शिशु के डाक्टर से सलाह लेना मददगार रहता है। टीकाकरण नियम से करायेंः टीके लगवाना बचपन की बहुत सी बीमारियों से लड़ने के लिये शरीर की ताकत बढ़ाता है। इसलिये सलाह है कि तयशुदा टीकों को शिशु की उम्र के हिसाब से और तय समय पर लगवायें। कुछ डाक्टर शिशु को खास वजहों से अलग से कुछ और टीके लगवाने की सलाह देते हैं जिन्हें स्थिति को समझते हुये और इसके फायदे-नुकसान को देखते हुये लगवाया जा सकता है।

Login or Signup to see Expert's complete response
+ Ask an expert
Ask your queries to Doctors & Experts

Ask your queries to Doctors & Experts

Download APP
Skip

Find answers from Doctors about your baby's health and development

Parentune

24X7 Parents' Partner

Parentune
Download APP

31% Queries Answered Instantly

Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}