Child Psychology and Behaviour

बच्चों की झूठ बोलने की आदत छुड़वानी हो तो इन सात संकेतों पर दें ध्यान

Parentune Support
All age groups

Created by Parentune Support
Updated on Sep 27, 2017

बच्चों की झूठ बोलने की आदत छुड़वानी हो तो इन सात संकेतों पर दें ध्यान

माता पिता को हमेशा बच्चों का दोस्त बन कर रहने की सलाह दी जाती है, ताकि बच्चे उनसे सबकुछ शेयर कर सकें. लेकिन उस स्थिति में माता-पिता दोस्त बन कर भी कुछ नहीं कर पाते जब बच्चे उनसे झूठ बोलने लगते हैं. ऐसे में ये बेहद ज़रूरी हो जाता है कि आप बच्चे के व्यवहार से जान पाएं कि कहीं वो आपसे झूठ तो नहीं बोल रहा. झूठ बोलना एक ऐसी बुरी आदत है, जो यदि बचपन में पड़ जाये तो आगे भी बच्चे के व्यवहार को बिगाड़ती रहती है. हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बता रहे हैं, जिनसे आप बच्चे के व्यवहार से ही समझ जायेंगे कि वो आपसे झूठ बोल रहा है या सच.

 

क्यों झूठ बोलते हैं बच्चे:

बच्चे कई बार आपकी डांट सुनने से बचने के लिए झूठ कह देते हैं. इसके अलावा वो शर्म से बचने के लिए भी झूठ का सहारा लेने लगते हैं.
 

बच्चे को सच बोलने के लिए ऐसे करें प्रेरित

बच्चा झूठ न बोले इसके लिए आपको भी कुछ बातों का ख्याल रखना चाहिए, घर में ऐसा माहौल रखें कि बच्चा खुलकर सच बोल सके. बच्चे को ऐसा नहीं लगना चाहिए कि सच बोलने पर उसे सज़ा मिल सकती है. आपको सच बोलने पर उसकी सराहना करनी चाहिए.
 

कैसे पता लगायें कि बच्चा झूठ बोल रहा है?
 

1. चेहरे के हाव-भाव

बच्चे अपनी भावनाओं को छुपाना अच्छे से नहीं जानते, इसलिए यदि आप उनके हाव-भाव पर ध्यान देंगे तो आप समझ सकती हैं कि वो कब आपसे झूठ बोल रहा है. उसकी बॉडी लैंग्वेज पर गौर करें. देखिये कि क्या वो नज़रें चुरा रहा है. 
 

2. दोबारा बताने को कहें

यदि आपको शक़ हो कि बच्चा झूठ बोल रहा है, तो उसे पूरी बात फिर से बताने को कहिये. यदि वो ऐसा करते हुए घबराने लगे या असहज महसूस करे तो हो सकता है कि वो झूठ बोल रहा है, क्योंकि बार-बार झूठ बोलना उसके लिए इतना आसान नहीं होता.
 

3. बोलने का तरीका

यदि आपका बच्चा हकलाता न हो और वो अचानक कुछ बताते हुए हकलाने लगे या साफ़ न बोल पाए, तो आपको उससे ठीक से पूछना चाहिए.

 

4. अचानक चिढ़ जाना

अकसर जब बच्चे झूठ बोल रहे होते हैं तो वो ओवर रियेक्ट करने लगते हैं. ज़्यादा पूछ-ताछ करने पर वो गुस्सा भी होने लगते हैं.
 

5. चेहरे को छूना

बच्चे झूठ बोलते हुए अकसर अपनी नाक या कान को छूने लगते हैं. कुछ बच्चे अपना होंठ काटने लगते हैं, ऐसे छोटे-छोटे संकेत आप पकड़ सकते हैं.
 

6. पलकें झपकाना

अगर वो ज़यादा पलकें झपकाते हुए या बिलकुल पलके न झपकाते हुए बात करे तो हो सकता है वो आपसे कुछ छुपा रहा है.
 

7. बात बदलने पर राहत

जब बच्चा कुछ छुपा रहा होता है और आप टॉपिक बदल देते हैं, तो उसे राहत महसूस होती है, क्योंकि झूठ बोलते हुए वो तनाव महसूस करते हैं.
 

      

  • Comment
Comments()
Kindly Login or Register to post a comment.
+ START A BLOG
Top Child Psychology and Behaviour Blogs
Loading
Heading

Some custom error

Heading

Some custom error