स्वास्थ्य

बच्चों के खान-पान में चाँदी के बर्तनों के इस्तेमाल के फायदे

Shikha Garg
0 से 1 वर्ष

Shikha Garg के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Sep 12, 2018

बच्चों के खान पान में चाँदी के बर्तनों के इस्तेमाल के फायदे

एक माँ होते हुये क्या आपने कभी इस बात पर गौर किया है चांदी के बर्तनों में ऐसा क्या है जो हमारे बुर्जुगों को यह सलाह देने के लिये प्रेरित करता है कि बच्चों को खाने-पिलाने के लिए चाँदी के बर्तनों इस्तेमाल किया जाए? गर्भवती माताओं और बच्चों से जुड़ी रस्मों में खासतौर पर चांदी के उपहार ही देने को अहमियत क्यों दी जाती है?

जाहिर तौर पर, ऐसा माना जाता है कि चांदी की कीटाणुओं से लड़ने वाली खूबियां शिशु की रोग प्रतिकारक ताकत बढ़ाने में मददगार होती हैं इसलिए नई माताओं को अपने शिशु को चांदी के चम्मच से खाने-पिलाने के लिये सलाह दी जाती है।

हम बस आंख बंद करके अपने बड़ों की मान्यता और उनके तर्जुबे पर भरोसा कर लेते है पर मैं, आपको बच्चों को चांदी के बर्तनों में खाने-पिलाने से होने वाले 5 रोगनाशक फायदों के बारे में बताउंगी।

मेरी दादी माँ के मुताबिक इन्हीं वजहों से हमारे बुजुर्ग बच्चों के खाने-पिलाने के लिये चांदी के बर्तनों के इस्तेमाल के लिये जोर देते हैं।  

1. चांदी में कीटाणू नहीं पनपते

ऐसा माना जाता है कि चांदी 100 प्रतिषत कीटाणु मुक्त होती है। इसी वजह से हमारे बड़े यह सलाह देते हैं कि बच्चों को दी जाने वाली खाने-पीने की चीजें चांदी के बर्तनों में दी जाएं। इसके साथ-साथ यह भी सच्चाई है कि चांदी में कीटाणु नहीं पनप सकते, इसलिये इन बर्तनों में कीटाणु खत्म करने के लिए किसी खास साफ-सफाई की जरूरत नहीं होती बस गर्म पानी से साधारण धुलाई करने से भी यह बर्तन दुबारा इस्तेामाल किये जा सकते हैं।

2. चांदी बच्चों की रोग प्रतिकारक ताकत बढ़ाती है

कीटाणू खत्म कर देने वाली खूबी होने की वजह से चांदी के बर्तनों में खाने-पीने से शिशुओं और बच्चों की रोग प्रतिकारक ताकत बढ़ती है। इसकी दूसरी खासियत यह है कि चांदी के बर्तन में गर्म खाना परोसे जाने पर इसका असर हमारे खाने पर भी होता है क्यांेकि कीटाणू खत्म करने वाली खूबियां खाने में मिल जाती हैं इसीलिये शिशु और बच्चों को खाने-पीने में चांदी के बर्तनों के इस्तेमाल पर जोर दिया जाता है।

3. चांदी का गैर-विषाक्त होना

चांदी में गैर-विषाक्त या जहरीले तत्वों के खात्मे की खूबी होना एक बहस का मुद्दा है क्योंकि खालिस चांदी को जहरीला माना जाता है, पर दूसरी ओर यह मान्यता भी है कि खालिस चांदी को तपा कर बने बर्तनों में गैर-विषाक्तता बढ़ जाती है और इसमें जहरीले तत्वों का खात्मा करने का गुण आ जाता है इसीलिये ऐसा विश्वास है कि चांदी के बर्तन में खाने-पीने से न केवल जहरीले तत्वों से बचाव होता है बल्कि बच्चों की रोग प्रतिकारक ताकत भी बढ़ती है।

4. चांदी तरल चीजों की ताजगी बनाए रखती है

ऐसा माना जाता है कि चांदी के बर्तन में पानी या कोई अन्य तरल चीजों के रखे जाने पर इनकी ताजगी काफी समय तक बरकरार रहती है। पुराने समय मे, राजा-महाराजा अपने पीने के पानी और यहां तक कि शराब को भी चांदी की सुराही में रखा करते जिससे उसका स्वाद और ताजापन बरकरार रहे।

5. शरीर के तापमान को काबू में रखती है

चांदी में शिशु और बच्चों को फायदा पहुंचाने वाली हजारों खूबियां होती हैं और इनमें से एक है कि चांदी का इस्तेमाल हमारे शरीर के तापमान को काबू में रखता है और सामान्य बनाये रखता है और जाहिर तौर पर यही वजह है कि नवजात शिशुओं को पहनाये जाने वाले सामान चांदी के बने होते हैं।

 

यदि आप भी चांदी के अन्य दूसरे फायदों के बारे में जानती हैं तों हमे बतायें। 

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

  • 4
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.

| Sep 18, 2018

hello meri baby 11 month ki hai pr wo boht patli hai mai use hathy krne ke liye kya kru

  • रिपोर्ट

| Sep 12, 2018

yes me bhi apne baby ko silver ke bowl me hi khilati hu..

  • रिपोर्ट

| Aug 04, 2018

my baby age is 5 month . can i give formula milk in silver bowel

  • रिपोर्ट

| Aug 02, 2018

Thanks for ur information

  • रिपोर्ट
+ ब्लॉग लिखें
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}