गर्भावस्था

गर्भावस्था के प्रारंभिक 10 लक्षण

Supriya Jaiswal
गर्भावस्था

Supriya Jaiswal के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Aug 24, 2018

गर्भावस्था के प्रारंभिक 10 लक्षण

मां बनना एक बहुत ही सुखद एहसास होता है और हर औरत ये जानने के लिए बैचेन रहती है कि वह मां बनने वाली है या नहीं, लेकिन उन्हे पता नहीं चल पाता है इसके लिए वह घर पर टेस्ट करती हैं या लैब में गर्भावस्था टेस्ट करवाती हैं। गर्भावस्था के ये शुरुआती लक्षण जैसे स्‍तनों में भारीपन, पीठ में दर्द, मूड बदलना आदि गर्भावस्‍था के प्रारंभिक लक्षण है। इसके अलावा भी प्रेगनेंसी के अन्‍य शुरूआती लक्षण होते है। अक्‍सर प्रेगनेंसी के शुरूआती दिनों में महिलाओं को पीरियड्स रुकने तक पता ही नहीं चल पाता है कि उनकी कोख में कोई पल रहा है। आइये जानें  गर्भावस्‍था के प्रारम्भिक कुछ लक्षण।

गर्भावस्था की शुरुआत में ये लक्षण नजर आ सकते हैं/ Early pregnancy symptom

1.सांस लेने में भारीपन लगना

  • क्या आपको सांस लेने में उतना ही भारीपन लगता है जैसे कि आप अभी - अभी सीढि़यां चढ़कर आई हों, ऐसा इसलिए है क्योंकि आप प्रेग्नेंट है
     
  • आपके पेट में पल रहे भ्रूण को ऑक्सीजन की आवश्यकता होती है जो वो आपसे लेता है
     
  • यह तकलीफ आपको पूरे गर्भावस्था के दौरान रहने वाली है, खासकर उस चरण में जब बच्चा पेट मे बढ़ रहा होगा और आपके फेफड़ों और डायाफ्राम पर दबाव पड़ना शुरू होगा।

2.स्तनों में भारीपन

  • क्या आपको सुबह - सुबह उठकर अपनी ब्रा के अंदर भारीपन महसूस होता है
     
  • स्तनों में भारीपन, उनके आकार में परिवर्तन, निपल्स के आसपास के हिस्से में यानि एरोला में ज्यादा कालापन आना और स्तनों में नसों का फूलना आदि गर्भावस्था के लक्षण है
     
  • आप समझिए कि आप मां बनने वाली है। ऐसे समय में सबसे अच्छी और आरामदायक ब्रा पहनें जिससे आपकी परेशानी कम हो सकें।

3.थकान

  • प्रेग्नेंसी के दौरान हारमोंस में परिवर्तन होता है ऐसे में शरीर थक जाता है
     
  • कई महिलाएं तो प्रेग्नेंसी के शुरूआती तीन महीनों में सबसे ज्यादा थका हुआ महसूस करती है और बाद में भ्रूण के परिपक्व होने पर उनकी दिक्कतें बढ़ती जाती है।

4.उलटी आना:

  • अधिकांश महिलाओं को गर्भावस्था के शुरूआती 6 महीनों में सुबह - सुबह उलटी आने की समस्या सबसे ज्यादा होती है
     
  • कई महिलाओं को सुबह, दोपहर और रात के दौरान भी उलटी आती है ऐसा उनके शरीर में होने वाले परिवर्तनों के कारण होता है
     
  • उलटी की दिक्कत प्रेग्नेंसी के छठे महीने के बाद कम हो जाती है। इस दौरान ऐसा भोजन लें जो पेट आसानी से पचा सकें जैसे - सूप या रस।

5.बार- बार पेशाब का आना

  • प्रेग्नेंसी के शुरूआती दिनों में पेशाब बार - बार आती है क्योंकि इस दौरान आपका शरीर अतिरिक्त तरल पदार्थ उत्पादित करता है जिससे मूत्राशय पर दबाव पड़ता है और आपको बार - बार पेशाब के लिए जाना पड़ता है

6.सिरदर्द और पीठदर्द

  • गर्भावस्था का प्रारंभिक लक्षण सिरदर्द भी है क्योंकि इस अवस्था में हार्मोन में परिर्वतन होता है जिससे सिरदर्द होता है
     
  • ऐसे में अगर आप कन्फर्म है कि आप प्रेग्नेंट है तो सिरदर्द दूर करने के लिए ब्रुफेन जैसी सेफ दवाई का सेवन करें या डॉक्टर से सलाह लें 
     
  • अगर आपको पहले कभी भी पीठदर्द की समस्या से नहीं जूझना पड़ता था लेकिन आजकल पीठ में हल्का - हल्का दर्द रहता है तो इसका मतलब है कि आपके लिग्मेंट्स लूज हो रहे है
     
  • ऐसा आपकी गर्भावस्था के कारण हो रहा है जिसमें आपका वजन बढ़ता है और आपके पॉश्चर में परिवर्तन आता है

7. पेट में ऐंठन

  • क्या आप प्रेग्नेंट है। ऐसा कहना मुश्किल है लेकिन अगर आप पेट में ऐंठन महसूस कर रही है तो इसका प्रमुख कारण पेट में बच्चे के आकार के बढ़ने के कारण होने वाला खिंचाव है।

8.खाने से अरूचि होना

  • अचानक आपको खट्टे का ज्यादा मन होने लगा है और साधारण खाने से अरूचि होने लगी है तो समझिए कि आपके पेट में कोई नन्ही जान पल रही है
     
  • ऐसी अवस्था में भोजन से अरूचि होना और चटपटे भोजन को खाने का मन करना स्वाभाविक होता है, क्योंकि शरीर के हारमोन्स में परिवर्तन होने लगते है।

9.मूड बदलना या मिज़ाज बदलना

  • आपका मिज़ाज आजकल बदला - बदला सा रहता है
     
  • पल भर पहले कुछ और काम करने का मन, कुछ देर बाद ही कुछ और काम करने का मन होना यानि मूड का बदलना भी प्रेग्नेंसी के शुरूआती लक्षणों में से एक है
     
  • ऐसे में अपने पति का सहारा लें और उन्हे बताएं कि आपका मूड आजकल बदलता रहता है, वह आपको समझेगें।

10.देर से पीरियड का आना

  • गर्भावस्था के प्रारंभिक लक्षणों में से एक लक्षण पीरियडस का देर से आना भी है। वैसे यह काफी कम होता है लेकिन होता है
     
  • अक्सर प्रेग्नेंट होने के बाद शुरूआत में ही पीरियडस आने बंद हो जाते है
     
  • अगर आपके पीरियडस नियमित रूप से आते है और इस बार देर हो रही है तो आप अपना परीक्षण जरूर करवा लें

हमारी सलाह ये है कि अगर आप इन लक्षणों को महसूस करती हैं तो निश्चित रूप से आपको डॉक्टर के पास परीक्षण के लिए जाना चाहिए।

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

  • कमेंट
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.
+ ब्लॉग लिखें
टॉप गर्भावस्था ब्लॉग
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}