• लॉग इन करें
  • |
  • रजिस्टर
खाना और पोषण

ये हैं वो 10 फूड आइटम्स जो कैंसर से बचाव करने में मददगार हैं

Prasoon Pankaj
3 से 7 वर्ष

Prasoon Pankaj के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Sep 25, 2020

ये हैं वो 10 फूड आइटम्स जो कैंसर से बचाव करने में मददगार हैं
विशेषज्ञ पैनल द्वारा सत्यापित

बीमार होने पर इलाज कराने से बेहतर ही कि हम पहले से ही सचेत हो जाएं और बचाव के उपायों पर ज्यादा फोकस करें। कैंसर जैसी बीमारी का नाम सुनते ही मन सिहड़ जाता है इसलिए ये बहुत जरूरी है कि हम अपने लाइफस्टाइल को सही कर लें ताकि हम गंभीर बीमारियों से सुरक्षित रह सकें। आज हम आपको इस ब्लॉग में बताने जा रहे हैं उन 10 फूड आइटम्स के बारे में जिनका नियमित रूप से सेवन करके कैंसर जैसी बीमारियों से बचाव मुमकिन है। ब्रिटिश कैंसर एक्सपर्ट डॉ रॉबर्ट थॉमस ने अपनी रिसर्च में उन 10 फल, सब्जियों और मसालों के नाम के बारे में विस्तार से जानकारी दिया है जो कैंसर से बचाव करने में मददगार हो सकते हैं।

कैंसर के खतरे को कम करते हैं ये 10 फूड आइटम्स 

ब्रिटिश कैंसर एक्सपर्ट डॉ रॉबर्ट थामस के मुताबिक इन पौधों से मिलने वाले फायटोकेमिकल अनेक प्रकार के रोगों से मानव शरीर की रक्षा करने में सक्षम हैं। कैंसर के अलावा आर्थराइटिस, हृदय रोग, स्ट्रोक और आंखों की रोशनी को कम होने से भी बचाते हैं। रिसर्च के मुताबिक जिन महिलाओं ने दिन में बार बार फायटोकेमिकल युक्त खाद्य पदार्थ जिनमें फल सब्जियां मसाले शामिल हैं उनमें ब्रेस्ट कैंसर का खतरा कम हुआ। फायटोकेमिकल के बारे में एक और जानकारी ये भी है कि जो लोग बीमार हैं तो इसके प्रभाव के चलते उनके रिकवरी होने की संभावना और बढ़ जाती है।

1.ब्रॉकली, गोभी, पत्तागोभी- आपको बताना चाहूंगा कि इंग्लैंड के बेडफोर्ड अस्पताल में 12 साल तक डेढ़ लाख से ज्यादा ऐसे लोगों पर स्टडी की गई जो ब्रॉकली, गोभी या पत्तागोभी का सेवन कर रहे थे उनके अंदर कैंसर का खतरा कम पाया गया। इन सब्जियों में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट एंजाइम रसायन, प्रदूषण फैलाने वाले केमिकल्स औऱ कीटनाशकों के असर को कम करता है। इन सब्जियों में विटामिन सी, फाइबर जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं।

2. हल्दी- भारत में सर्वाधिक प्रयोग में लाया जाने वाला मसाला है हल्दी। कोई ऐसा घर नहीं जहां हल्दी का इस्तेमाल नहीं होता हो। हल्दी के अनेक गुण होते हैं जिनमें से प्रमुख ये है कि हल्दी सूजन औऱ संक्रमण के खतरे को दूर करता है। हल्दी में करक्यूमिन नामका तत्व कैंसर के खतरे को कम करता है। हल्दी में फाइबर, विटामिंस और मिनरल्स पाए जाते हैं। केरला के तिरुअनंतपुरम में श्री चिभा तिरुनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज ने हल्दी से कैंसर का इलाज करने का अमेरिकी पेटेंट प्राप्त कर लिया है। इस संस्थान ने दावा भी किया है कि हल्दी में मौजूद करक्यूमिन नामका तत्व कैंसर का इलाज करने में सक्षम है।

अनार- अनार कई खूबियों से भरा हुआ फल है। अनार में पॉलिफिनॉल्स काफी मात्रा में पाया जाता है। इसका सबसे बड़ा गुण ये है कि अनार के अंदर वायरस के संक्रमण से बचाने की शक्ति होती है और यह कई प्रकार के कैंसर का खतरा भी कम करता है।  एक शोध के मुताबिक ये पाया गया है हल्दी ब्रॉकली और अनार में ऐसे तत्व मौजूद हैं जो प्रोस्टेट कैंसर को विकसित होने की रफ्तार को कम कर देता है।

 नट्स-  अखरोट, बादाम, काजू जैसे नट्स में ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो बढ़ती उम्र के साथ होने वाली बीमारियों को घटाते हैं। ये शरीर में ऐसे बैक्टीरिया की संख्या बढ़ाते हैं जो फायदा पहुंचाते हैं। इनमें मौजूद ओमेगा-3 और 6 इम्यून सिस्टम को बेहतर बनाते हैं। प्रोटीन और विटामिन-ई यूवी रेडिएशन और कैंसर फैलाने वाले तत्वों से बचाते हैं।

5. दालें, बीज और साबुत अनाज- इनमें फायटोकेमिकल लिगनेंस और आइसोफ्लेवॉन्स पाए जाते हैं। यह हार्मोन के कारण होने वाले कैंसर को रोकने में मदद करता है, जैसे ब्रेस्ट कैंसर और ओवेरियन कैंसर। अलसी, तिल, कद्दू, सूरजमुखी के बीज, दालें, किनुआ और ओट्स को डाइट में शामिल कर सकते हैं।

6. टमाटर में लाइकोपीन पाया जाता है जो कैंसर को रोकता है। एक रिसर्च के मुताबिक, शरीर में जिन कोशिकाओं के कारण कैंसर होता है, लाइकोपीन उन कोशिकाओं को खत्म करता है।

7. मिर्च पर कई रिसर्च हुई हैं, जो बताती हैं, यह कैंसर कोशिकाओं को फैलने से रोकता है। अगर डाइट में इसे हल्दी के साथ शामिल किया जाता है तो ब्रेस्ट और बॉवेल कैंसर का खतरा घट जाता है। चीनी आबादी का बड़ा हिस्सा मिर्च वाला भोजन खाता है। चीन में हुई रिसर्च के मुताबिक, जो हफ्ते में एक सा दो बार मिर्च खाते हैं उनमें मौत का खतरा 10 फीसदी तक कम रहता है।

8. प्याज और लहसुन

इनमें पॉलिफिनॉल्स, गैलिक एसिड और एम्पफेरॉल पाया जाता है जो फेफड़े, इसोफेगस और पेन्क्रियास के कैंसर का खतरा घटाता है। खासतौर उन लोगों में जो अल्कोहल लेते हैं और स्मोकिंग करते हैं। प्याज और लहसुन, सलाद और चटनी में भी शामिल कर सकते हैं।

. सिट्रस फूट्स और बेरीज

इनमें विटामिन-सी, फायबर और मिनिरल्स के अलावा कई तरह के फायटोकेमिकल्स पाए जाते हैं। यह शरीर में रोगों से लड़ने वाले इम्यून सिस्टम को बेहतर बनाते हैं। जो कई तरह की बीमारियों को रोकने में मदद करता है।

 

10. चुकन्दर

 

बहुत कम ही ऐसी सब्जियां हैं जिनमें बीटालेंस पाया है। चुकन्दर उनमें से एक है। कई रिसर्च में ये साबित हो चुका है कि चुकन्दर शरीर में सूजन और कैंसर का खतरा घटाता है। इसमें एस्कॉर्बिक एसिड, कैरोटिनॉयड्स और फ्लेवेनॉयड्स पाए जाते हैं। ये एंटीऑक्सीडेंट्स हैं जो इम्यून सिस्टम बेहतर बनाते हैं।

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

इस ब्लॉग को पेरेंट्यून विशेषज्ञ पैनल के डॉक्टरों और विशेषज्ञों द्वारा जांचा और सत्यापित किया गया है। हमारे पैनल में निओनेटोलाजिस्ट, गायनोकोलॉजिस्ट, पीडियाट्रिशियन, न्यूट्रिशनिस्ट, चाइल्ड काउंसलर, एजुकेशन एंड लर्निंग एक्सपर्ट, फिजियोथेरेपिस्ट, लर्निंग डिसेबिलिटी एक्सपर्ट और डेवलपमेंटल पीड शामिल हैं।

  • कमेंट
कमैंट्स ()
Kindly Login or Register to post a comment.
+ ब्लॉग लिखें

टॉप खाना और पोषण ब्लॉग

Sadhna Jaiswal

आज के दिन के फीचर्ड कंटेंट

गर्भावस्था

Ask your queries to Doctors & Experts

Download APP
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}