• लॉग इन करें
  • |
  • रजिस्टर
पेरेंटिंग गर्भावस्था

10 सटीक तरीके गर्भ में पल रहे शिशु के साथ कनेक्ट होने के

Prasoon Pankaj
गर्भावस्था

Prasoon Pankaj के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Dec 12, 2019

10 सटीक तरीके गर्भ में पल रहे शिशु के साथ कनेक्ट होने के
विशेषज्ञ पैनल द्वारा सत्यापित

गर्भ में पल रहे शिशु की एक-एक हरकत को सिर्फ मां महसूस कर सकती है। हम आपको कुछ ऐसे तरीकों के बारे में बताने जा रहे हैं जिनसे आप आसानी से अपने पेट में पल रहे शिशु से कनेक्ट हो सकते हैं।  मां बनने की अनुभूति जहां एक तरफ महिलाओं के लिए खुशी लेकर आती है, वहीं दूसरी तरफ यह कई चुनौतियां व तकलीफ भी लेकर आती है। इस तकलीफ को केवल गर्भवती ही महसूस कर सकती है। 9 महीने तक महिला बच्चे को गर्भ में रखती है। इस दौरान कई शारीरिक कष्ट भी उठाती है। वह आने वाले बच्चे के इंतजार में इन सभी परेशानियों को आराम से उठा लेती है। प्रेग्नेंसी के दौरान गर्भवती महिलाएं पेट में पल रहे बच्चे को लेकर काफी कुछ सोचती भी रहती हैं। इस ब्लॉग में हम बताएंगे कि आखिर कैसे आप गर्भ में पल रहे अपने शिशु के साथ कनेक्ट हो सकती हैं।

गर्भ में पल रहे शिशु से कनेक्ट होने के लिए किन तरीकों को आजमाएं?। How to Connect With Your Unborn Baby in Hindi

प्रेग्नेंसी के आखिरी स्टेज में आप बच्चे की कई गतिविधियों को महसूस कर सकती हैं। आइए जानते हैं कुछ ऐसे ही उपाय जिनसे आप गर्भ में पल रहे शिशु से आसानी से कनेक्ट हो सकती हैं...

  1. शिशु से बात करें – आप पेट पर हाथ रखते हुए बच्चे से कुछ कहती रहें। इससे शिशु आपसे कनेक्ट होगा। वह आपकी आवाज पहचानने लगेगा। यही नहीं जन्म के बाद उसका आपसे अधिक जुड़ाव भी हो जाएगा। 

  2. तनाव मुक्त बनें और खुश रहें – खुश रहना सबके लिए फायदेमंद होता है। अगर आप गर्भवती हैं तो आपके लिए ये और जरूरी हो जाता है। दरअसल गर्भ में पल रहा बच्चा मां के मूड को महसूस करता है। अगर आप तनाव में रहेंगी तो शिशु भी उदास हो सकता है। आपके तनाव लेने से गर्भ में बच्चे का वचन कम होना व प्रीमैच्योर डिलीवरी जैसे खतरे भी हो सकते हैं। वहीं अगर आप खुश रहेंगी तो बच्चा भी खुश रहेगा और आपसे जुड़ेगा।

  3. पेट पर मालिश - आप गर्भावस्था के आखिरी स्टेज में बच्चे से कनेक्ट होने के लिए पेट पर मालिश करने का तरीका भी अपना सकती हैं। यह सबसे बेहतर तरीकों में से एक है। आप धीरे-धीरे अपने पेट को छूएं और मालिश करें। इससे आपको व आपके शिशु को भी आराम होगा और वह आपसे कनेक्ट होगा।

  4. म्यूजिक सुनकर - एक्सपर्ट बताते हैं कि गर्भ में शिशु के पास सुनने की क्षमता विकसित हो जाती है। ऐसे में आप म्यूजिक के जरिए भी उससे कनेक्ट हो सकती हैं। कई रिसर्च में सामने आया है कि 10 मिनट शास्त्रीय संगीत सुनने से गर्भ में पल रहे बच्चे का विवेक कौशल बढ़ता है। इसके अलावा शिशु का शारीरिक व मानसिक विकास भी होता है। जब आप म्यूजिक सुनकर उसे गाएंगी तो आपका बच्चा भी आपसे कनेक्ट होगा।

  5. डांस करके – प्रेग्नेंसी में आप डांस करके भी बच्चे से कनेक्ट हो सकती हैं। हालांकि डांस के दौरान कोई भी मुश्किल स्टैप न करें। डांस हल्का ही करें तो बेहतर। डांस करने से आपका बच्चा भी खुश होगा और आपसे कनेक्ट होगा।

  6. कुछ पढ़कर – आप कुछ पढ़कर भी गर्भ में पल रहे शिशु से कनेक्ट हो सकती हैं। आपको कहानियां, कविताएं, नर्सरी राइम्स, धार्मिक ग्रंथ, भजन व आरतियों का अध्ययन करना चाहिए। जब आप इसे जोर से पढ़ेंगी तो बच्चा भी इसे महसूस करेगा और आपसे जुड़ेगा और नए-नए शब्द सीखेगा।

  7. बच्चे के साथ खेलकर – गर्भ में पल रहे बच्चे से कनेक्ट होने के लिए यह भी बेहतरीन तरीका है। आप एक टॉर्च लें और उसे जालकर उसकी रोशनी पेट पर डालें। आपको बच्चे की मूवमेंट महसूस होगी। आप जब लाइट बंद करेंगी, तो भी बच्चा कुछ न कुछ हरकत करेगा। इस प्रकार के खेल से आप शिशु से आसानी से जुड़ सकेंगी।

  8. पौष्टिक व सुगंधित आहार से – गर्भावस्था में आप जो खाती हैं, वहीं आपके बच्चे में भी जाता है। आप अगर सुगंधित व पौष्टिक आहार का सेवन करेंगी तो यह बच्चे तक जल्दी पहुंचेगा और वह आपसे कनेक्ट होगा।

  9. स्नान से – गर्भावस्था में बच्चे से कनेक्ट होना चाहती हैं, तो आपके पास स्नान करने का भी विकल्प है। आप गुनगुने पानी में लंबे समय तक स्नान करें। इससे आप तनावमुक्त होंगी और इस स्थिति में गर्भ में पल रहा बच्चा भी आपसे कनेक्ट होगा। हालांकि इस बात का ध्यान रखें कि पानी न ज्यादा ठंडा हो और न अधिक गर्म। आप स्नान के लिए बाथ टब या शावर का इस्तेमाल कर सकती हैं।

  10.  योग व ध्यान से - यह गर्भ में पल रहे बच्चे से जुड़ने का सबसे आसान तरीका है। इससे न सिर्फ आप बल्कि पेट में पल रहा बच्चा भी आराम महसूस करेगा और आप से कनेक्ट होगा। योग के दौरान गहरी सांस लेना आपको शिशु के करीब लाता है।

अपने बच्चे को गर्भ में पल रहे शिशु से कनेक्ट कैसे करें ? / Older Siblings Bonding With Baby Before Birth in Hindi

ये एक बहुत महत्वपूर्ण और जरुरी है कि आप अपने पहले बड़े बच्चे को होने वाले नए मेहमान बच्चे के बारे में पहले से भावनात्मक जुड़ाव को स्थापित करें। इसके लिए आप अपने बच्चे को होने वाले शिशु के बारे में कुछ बातचीत करते रहें, उसको गर्भावस्था (प्रेग्नेंसी) से संबंधित कहानियां सुनाएं, उनको आप अपने पेट को छूने दें ताकि वे बेबी के किक को अनुभव कर सकें। आप अपने बच्चे को कहें कि वे होने वाले शिशु के लिए क्या गिफ्ट दे सकते हैं इस पर विचार करें। इसके अलावा आप अपने बच्चे को शॉपिंग में इन्वॉल्व करें। बेबी के आगमन की तैयारी में बच्चे की क्रिएटिविटी को महत्व दें।

 

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

इस ब्लॉग को पेरेंट्यून विशेषज्ञ पैनल के डॉक्टरों और विशेषज्ञों द्वारा जांचा और सत्यापित किया गया है। हमारे पैनल में निओनेटोलाजिस्ट, गायनोकोलॉजिस्ट, पीडियाट्रिशियन, न्यूट्रिशनिस्ट, चाइल्ड काउंसलर, एजुकेशन एंड लर्निंग एक्सपर्ट, फिजियोथेरेपिस्ट, लर्निंग डिसेबिलिटी एक्सपर्ट और डेवलपमेंटल पीड शामिल हैं।

  • 1
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.

| Jan 18, 2020

शिशु कोन से महिने से माँ की आबज सुन सकता है ।

  • रिपोर्ट
+ ब्लॉग लिखें

टॉप पेरेंटिंग ब्लॉग

Ask your queries to Doctors & Experts

Download APP
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}