• लॉग इन करें
  • |
  • रजिस्टर
पेरेंटिंग

बच्चे की लंबाई बढ़ाने में मददगार हैं ये 15 फूड आइटम्स

Prasoon Pankaj
3 से 7 वर्ष

Prasoon Pankaj के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Jan 18, 2021

बच्चे की लंबाई बढ़ाने में मददगार हैं ये 15 फूड आइटम्स
विशेषज्ञ पैनल द्वारा सत्यापित

किसी भी व्यक्ति के व्यक्तित्व को बढ़ाने में लंबाई का महत्वपूर्ण योगदान होता है। आप भी ये जरूर चाहते होंगे कि आपके बच्चे का लंबाई परफेक्ट हो और उसकी पर्सनालिटी कुछ ऐसी हो कि हर कोई तारीफ करे। अब आप सोच रहे होंगे कि बच्चे की लंबाई बढ़ाने के लिए क्या कर सकते हैं। संतुलित भोजन व पौष्टिक आहार लेने से बच्चे का शारीरिक विकास अच्छे से होता है। आज हम आपको इस ब्लॉग में बताने जा रहे हैं कि बच्चे के आहार में किन चीजों का होना आवश्यक है ताकि उनकी लंबाई सही से बढ़ सके।( Foods for the Growing Child In Hindi)

बच्चे की लंबाई बढ़ाने में मददगार साबित होते हैं ये आहार / Foods that helps in increasing height of children In Hindi

डॉ राकेश तिवारी के मुताबिक लड़को को 2800 से 3000 और लड़कियों को 2200 से 2500 कैलोरीज की आवश्यकता होती है। इस कैलोरी का 40 प्रतिशत भाग प्रोटीन से आना चाहिए।

  • दूध- सभी खाद्य पदार्थों में दूध को अमृत तुल्य स्थान प्राप्त है। दूध में पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम मौजूद होता है और जैसा कि आप जानते भी होंगे कि हड्डियों को मजबूत बनाने में कैल्शियम की अहम भूमिका होती है। अगर आप अपने बच्चे के आहार में नियमित रूप से दूध को शामिल करते हैं तो उनकी लंबाई बढ़ने के साथ ही हड्डियों का भी समुचित विकास हो सकता है।

  • पत्तेदार सब्जियां- सब्जियां तो निश्चित रूप से आप अपने बच्चे के डाइट में शामिल करें और विशेष रूप से वैसी सब्जियां जो पत्तेदार हों। पत्तेदार सब्जियों में माइक्रो न्यूट्रिएंट्स पाए जाते हैं और ये आपके बच्चे की लंबाई बढ़ाने में काफी मददगार हो सकते हैं।

  • मीट- अगर आप नॉनवेज हैं तो फिर निश्चित रूप से अपने बच्चे के आहार में मीट को शामिल करें। मीट में पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन होता है और इसको खाने से आपके बच्चे के शरीर में पर्याप्त ऊर्जा मिलती है। प्रोटीन की वजह से बच्चे के बीमार होने की संभावनाएं भी कम होते हैं और मीट का सेवन करने से बच्चे की लंबाई में वृद्धि तो होती ही है।

  • अंडा- अंडे की एक खास बात ये है कि आप इसको कई तरीकों से अपने बच्चे को खिला सकती हैं जैसे कि उबले हुए अंडे, ऑमलेट, एग करी, एग फ्राइड राइस एवं अन्य। अंडा में प्रोटीन की प्रचुरता होती है और विशेषज्ञों के मुताबिक अंडा का सेवन करने से बच्चे के शारीरिक व मानसिक विकास में सहयोग मिलता है। इसलिए आप अपने बच्चे के आहार में प्रतिदिन कम से कम 1 अंडा तो जरूर शामिल कर सकते हैं।

  • फल और जूस- अलग-अलग प्रकार के फलों में कैल्शियम, मैग्नीशियम, प्रोटीन, विटामिन्स और अन्य प्रकार के पोषक तत्व पाए जाते हैं। नियमित रूप से फलों का सेवन करने से आपके बच्चे के बीमार होने की संभावनाएं भी कम हो जाते हैं। इसके अलावा उनका शारीरिक विकास भी अच्छे से हो पाता है। फलों व इसके जूस का सेवन करने से बच्चे की लंबाई बढ़ती है बस इस बात का ध्यान रखें कि बच्चे को ताजे फलों का जूस दें और पैकेट बंद जूस से परहेज रखें।  पपीता, संतरा, तरबूज, आम, सेब और खुबानी जैसे फल तो और ज्यादा फायदेमंद हैं।

  • चिकन- चिकन में भी पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन मौजूद होते हैं। चिकन आपके बच्चे के शरीर की मांसपेशियों का निर्माण करने में मदद करता है और इसका सेवन करने से भी लंबाई में इजाफा हो सकता है।

  • सोयाबीन- पौष्टिकता से भरपूर सोयाबीन में प्रोटीन, फोलेट, विटामिन, कार्बोहाइड्रेट और फाइबस जैसे तत्व मौजूद होते हैं। अगर आप शाकाहारी हैं तो प्रोटीन विकल्प के तौर पर सोयाबीन सर्वश्रेष्ठ विकल्पों में से एक हो सकता है। सोयाबीन का सेवन करने से बच्चा स्वस्थ रहेगा औऱ उसकी लंबाई में भी वृद्धि हो सकती है।

  • केला- ये एक ऐसा सर्वसुलभ फल है जो सालों भर उपलब्ध हो जाता है। केला में पोटैशियम, मैंगनीज, और कैल्शियम जैसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं इसके अलावा इसको सुपाच्य आहार भी माना जाता है। केला का सेवन करने से भी लंबाई बढ़ सकती है।

  •  ओटमील- इसको हम दलिया के नाम से भी जानते हैं। दलिया में प्रोटीन पर्याप्त मात्रा में मौजूद होता है। शरीर की मांसपेशियों को बढ़ाने में और लंबाई बढ़ाने के लिए ये एक बेहतरीन विकल्प साबित हो सकता है। सुबह के नाश्ते में आप अपने बच्चे को दलिया सर्व कर सकती हैं।

  •  नट्स और बीज- आपके बच्चे के आहार में नट्स और बीज का होना जरूरी है। नट्स और बीज में मिनरल्स के साथ हेल्दी फैट, और अमीनो एसिड मौजूद होते हैं। नाश्ते के रूप में इनका सेवन किया जा सकता है।

  •  मछली- क्या आप जानते हैं कि मछली का सेवन करने से बच्चे का बौद्धिक विकास भी होता है। मछली में पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन और विटामिन डी पाए जाते हैं और ये आपके बच्चे के हड्डियों व मांसपेशियों का विकास करने में मददगार साबित होते हैं।

  • गाजर- विटामिन ए से भरपूर गाजर आपके बच्चे के आंखों की रोशनी बढ़ाने और हड्डियों को स्वस्थ रखने में बहुत मददगार साबित हो सकता है। 

  • साबुत अनाज- आपके बच्चे के स्वास्थ्य के लिए ये जरूरी है कि आप उनके आहार में साबुत अनाज को शामिल करें। साबुत अनाज में फाइबर, विटामिन, आयरन, मैग्नीशियम और सेलेनियम जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। बच्चे की लंबाई बढ़ाने में साबूत अनाज मददगार हो सकते हैं।

  • शलजम- मुमकिन है कि शलजम का स्वाद बच्चे को पसंद नहीं आए लेकिन इसको कम मात्रा में ही सही बच्चे के आहार में जरूर शामिल करें। दरअसल शलजम ग्रोथ हार्मोन को बढ़ाने में मददगार हो सकता है। शलजम में विभिन्न प्रकार के विटामिन और मिनरल्स पाए जाते हैं। 

  • फली- ग्रोथ हार्मोन को बढ़ाने में इसकी महत्वपूर्ण भूमिका हो सकती है। फली में पर्याप्त मात्रा में फाइबर मौजूद होता है। 

वैसे खाद्य पदार्थ जिनका सेवन करने से बच्चे को परहेज करना चाहिए

ऊपर की लिस्ट में हमने आपको उन खाद्य पदार्थों के बारे में विस्तार से बताया है जिनका सेवन करने से बच्चे की लंबाई बढ़ाने में मदद मिल सकती है वहीं कुछ ऐसे भी फूड आइटम्स हैं जो बच्चे के लिए नुकसानदेह हो सकते हैं।

  1. बच्चे को अत्यधिक मात्रा में चीनी, चाय-कॉफी और कोल्ड ड्रिंक्स का सेवन करने से परहेज रखना चाहिए क्योंकि ये आपके बच्चे के शरीर में मौजूद कैल्शियम के अवशोषण को बुरी तरीके से प्रभावित कर सकते हैं।

  2. बच्चे के सामने धूम्रपान ना करें

  3. भोजन की समय सारणी का नियम पूर्वक अनुसरण करें

  4. भोजन की बुरी आदतों के चलते बच्चे को अल्पायु में ही कई प्रकार की बीमारियां जैसे कि डायबिटीज, मोटापा इत्यादि घेर सकता है।

  5. आपका बच्चा पर्याप्त मात्रा में नींद ले ये उसकी लंबाई बढ़ाने के लिए बहुत आवश्यक है

  6. योग, तैराकी, साइक्लिंग जैसे व्यायाम करने से भी बच्चे की लंबाई बढ़ती है

  7. बिना डॉक्टर की सलाह के किसी प्रकार की दवा बच्चे को नहीं दे

  8. फास्ट फूड से बच्चा जितनी दूरी बना कर रखे उतना अच्छा

बच्चे की लंबाई नहीं बढ़ने के कई कारण हो सकते हैं जैसे कि आनुवांशिक लेकिन अगर परिवार में सभी लंबे हैं औऱ बच्चे की लंबाई नहीं बढ़ रही है तो निश्चित रूप से डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। आंकड़ों के मुताबिक हमारे देश के बच्चे की औसत लंबाई विश्व के औसत से काफी कम है। आपको जानकर हैरानी होगी कि अपने देश के 40 फीसदी बच्चे निर्धारित लंबाई को हासिल नहीं कर पाते हैं और उसकी मुख्य वजह है उचित पोषण का अभाव। इसलिए ये बहुत आवश्यक है कि आप अपने बच्चे के आहार में पर्याप्त मात्रा में पोषक तत्वों से भरपूर खाद्य सामग्रियां शामिल करें।

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

इस ब्लॉग को पेरेंट्यून विशेषज्ञ पैनल के डॉक्टरों और विशेषज्ञों द्वारा जांचा और सत्यापित किया गया है। हमारे पैनल में निओनेटोलाजिस्ट, गायनोकोलॉजिस्ट, पीडियाट्रिशियन, न्यूट्रिशनिस्ट, चाइल्ड काउंसलर, एजुकेशन एंड लर्निंग एक्सपर्ट, फिजियोथेरेपिस्ट, लर्निंग डिसेबिलिटी एक्सपर्ट और डेवलपमेंटल पीड शामिल हैं।

  • कमेंट
कमैंट्स ()
Kindly Login or Register to post a comment.
+ ब्लॉग लिखें

टॉप पेरेंटिंग ब्लॉग

Ask your queries to Doctors & Experts

Ask your queries to Doctors & Experts

Download APP
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}