• लॉग इन करें
  • |
  • रजिस्टर
पेरेंटिंग स्वास्थ्य

रात 9 बजे रोशनी करनी है लेकिन इन 9 बातों का जरूर रखें ध्यान

Prasoon Pankaj
गर्भावस्था

Prasoon Pankaj के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Apr 05, 2020

रात 9 बजे रोशनी करनी है लेकिन इन 9 बातों का जरूर रखें ध्यान
विशेषज्ञ पैनल द्वारा सत्यापित

देश अभी कोरोना वायरस से जंग लड़ रहा है ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 5 अप्रैल यानि रविवार को रात के 9 बजे 9 मिनट के लिए अपने घरों के लाइट को बंद करके दीया, कैंडल, टॉर्च या मोबाइल के टॉर्च से रोशनी करने की अपील की है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसके लिए अपने ट्वीट में अपील करते हुए कहा है कि इस रविवार 5 अप्रैल को हम सबको मिलकर, कोरोना के संकट के अंधकार को चुनौती देनी है, और प्रकाश की ताकत का परिचय देना है। #9pm9minute

लेकिन इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने कुछ सावधानियां बरतने की अपील की भी है। इसके अलावा हम आपको कुछ वैसी महत्वपूर्ण बातों के बारे में भी बताने जा रहे हैं जो खास तौर पर बच्चे की सुरक्षा के लिए बहुत आवश्यक है।

  • आज रात 9 बजे जब हम लोग अपने घरों में रोशनी की ताकत का एहसास कराएं तो हमें सोशल डिस्टेंसिंग का भरपूर ख्याल रखना है। हमें अपने परिवार और बच्चे के संग ही रोशनी जलानी है।

  • प्रधानमंत्री का स्पष्ट निर्देश है कि रोशनी करने के लिए अपने घर की बालकनी का ही इस्तेमाल करें। सोसाइटी के पार्क में इकट्ठा होकर या समूह में जुट कर रोशनी ना करें। 

  • घर के लाइट को बंद रखने की अपील की गई है और चूंकि आपके घर में छोटे बच्चे भी हैं तो लाइट बंद करने से पूर्व ही अपने पास में कैंडल, दीया, टॉर्च या मोबाइल अपने पास में रख लें। घर की लाइट को बंद करने से पहले ही बच्चे को बालकनी में लेकर चले जाएं और इस दौरान बच्चे के साथ रहें। घर की लाइट अचानक काट देने से बच्चे डर भी सकते हैं तो इसके लिए आप अपने बच्चे को पहले ही समझा दें कि हम आज यह काम किसलिए करने जा रहे हैं।

  • सबसे महत्वपूर्ण जानकारी की जब आप दीया या कैंडल जलाएं तो ये सुनिश्चित कर लें कि आपके आसपास में कोई सैनिटाइजर ना हो या आपने अपने हाथ में तत्काल सैनिटाइजर का प्रयोग नहीं किया हो। चूंकि हैंड सेनेटाइजर्स में 60% या इससे ज्यादा अल्कोहल होता है और वे बहुत ज्वलनशील होते हैं यानि कि इनमें आल लगने की संभावना ज्यादा होती है। इसलिए एक्सपर्ट्स के मुताबिक सैनिटाइजर्स का इस्तेमाल वहां नहीं करना चाहिए जहां आग लगने की संभावना ज्यादा हो। 

  • बालकनी में रोशनी करते समय में साथ में बाल्टी में पानी भरकर जरूर रख लें। चूंकि आपके घर की बालकनी में एक साथ परिवार के सभी सदस्य इकट्ठा होंगे और कैंडल या दिया जलाएंगे तो उस समय में किसी भी प्रकार की अनहोनी से बचने के लिए पहले से ही एक बाल्टी पानी साथ में रख लें। 

  • कोरोना के खिलाफ यह देशवासियों की एकजुटता दिखाने का प्रतीक मात्र है तो इसको दीपावली नहीं समझें। विषम परिस्थितियों में हम सभी देशवासी एक हैं और इस संकट का सामना करने के लिए तैयार हैं यह एहसास हमें कराना है। दीप जलाना है लेकिन पूरी सावधानी के साथ

  • अपने बच्चों को पहले से ही इसके बारे में अच्छे से समझा दें और उन पर निगरानी बनाए रखें। आपके बच्चे कई तरह के प्रश्न पूछ सकते हैं तो आप उनको अच्छे से बता दें कि हम आज रोशनी क्यों जला रहे हैं।

  • ढीले ढ़ाले कपड़े या सूती कपड़ो में रहकर ही रोशनी करें। रात के समय में जब सबलोग इकट्ठा होकर अपने घरों में कैंडल या दीया जलाएंगे तो इस बात का ध्यान रखें कि आपने कॉटन या ढीले कपड़े ही पहने हों और विशेष रूप से बच्चों को भी आरामदायक कपड़े ही पहनाएं।

  • फर्स्ट एड किट का भी इंतजाम पहले से ही करके रख लें। अपने घरों की लाइट को बंद करने और कैंडल-दीए जलाने से पहले ही फर्स्ट एड किट को अपने पास में रख लें। ताकि किसी प्रकार की असावधानी ना हों 

एक और सबसे जरूरी बात की अगर आपके घर में कैंडल या दीया ना हो तो उसको बाजार में जाकर खरीदने की बिल्कुल आवश्यकता नहीं है। आप अपने मोबाइल की लाइट या टॉर्च का भी प्रयोग कर रोशनी भी कर सकते हैं। सोशल डिस्टेंसिंग ही कोरोना से बचाव का मुख्य उपाय है तो इसके नियमों का हमें खुद और अपने बच्चों को भी पालन करने के लिए समय-समय पर जागरुक करते रहना चाहिए।

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

इस ब्लॉग को पेरेंट्यून विशेषज्ञ पैनल के डॉक्टरों और विशेषज्ञों द्वारा जांचा और सत्यापित किया गया है। हमारे पैनल में निओनेटोलाजिस्ट, गायनोकोलॉजिस्ट, पीडियाट्रिशियन, न्यूट्रिशनिस्ट, चाइल्ड काउंसलर, एजुकेशन एंड लर्निंग एक्सपर्ट, फिजियोथेरेपिस्ट, लर्निंग डिसेबिलिटी एक्सपर्ट और डेवलपमेंटल पीड शामिल हैं।

  • 3
कमैंट्स ()
Kindly Login or Register to post a comment.

| Apr 05, 2020

Jo diye mombatti ka pure desh ka kharcha hoga utne m besahara logo ka pet bhar jata or diya mombatti se carona to ni jane wala 😇 Are diye ki wajaye ek plant lagane ko bol dete usse bi carona to ni jsta lkn pollution kam ho sakta tha...

  • Reply
  • रिपोर्ट

| Apr 05, 2020

  • Reply
  • रिपोर्ट

| Apr 05, 2020

  • Reply
  • रिपोर्ट
+ ब्लॉग लिखें

टॉप पेरेंटिंग ब्लॉग

Sadhna Jaiswal

आज के दिन के फीचर्ड कंटेंट

गर्भावस्था

Ask your queries to Doctors & Experts

Download APP
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}