Health and Wellness

बच्चों के लिए अजवाइन के कुछ चमत्कारिक गुण

Parentune Support
All age groups

Created by Parentune Support
Updated on Oct 01, 2017

बच्चों के लिए अजवाइन के कुछ चमत्कारिक गुण

अजवाइन, एक ऐसा मसाला जिसमें कई औषधीय गुण मौजूद हैं। इसका इस्तेमाल रसोई के साथ ही आयुर्वेद में भी खूब किया जाता है। बच्चे, बड़े और बूढ़े सभी को यह अलग-अलग तरह से लाभ पहुंचाता है, लेकिन बात अगर बच्चों की करें तो अजवाइन उनके स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद है। दरअसल अजवाइन में थाइमोल नामक तत्व होता है। यह तत्व पेट से गैस्ट्रिक रिहाई जूस बाहर निकालता है और पाचन क्रिया को ठीक करता है। इसके अलावा भी इसके कई लाभ हैं। आज हम बता रहे हैं कि आखिर अजवाइन आपके बच्चे के लिए कितना चमत्कारिक है।

 

अजवाइन के क्या फायदे हैं?Advantages of Celery in Hindi

  1. अजवाइन में मौजूद थाइमोल बच्चों को सर्दी और खांसी में सबसे ज्यादा लाभ पहुंचाता है। अगर आपका बच्चा भी सर्दी व खांसी से परेशान है, तो सबसे पहले कुछ मिनट के लिए एक तवा या भारी तली वाले बर्तन पर अजवाइन के 2 बड़े चम्मच लें और उन्हें कम आंच पर भुनें। इसके बाद एक साफ मलमल अथवा कॉटेन के कपड़े में भुना हुआ अजवाइन डालकर एक पोटली बना लें। इस पोटली से अपने बच्चे की छाती पर सेक करें। यह सर्दी व बंद नाक खोलने में भी बहुत लाभदायक है।
     
  2. अजवाइन के तेल से छोटे बच्चे की मालिश ठंड और सर्दी में शिशु की काफी हिफाजत करता है। तेल बनाने के लिए 1 बड़े चम्मच अजवाइन को 1 बड़े चम्मच मसाज तेल (तिल या सरसों) के साथ कुछ सेकेंड्स के लिए गर्म करें। तेल के ठंडा होने के बाद इस तेल को बच्चे के सीने पर लगाएं और धीरे से मालिश करें। इससे काफी फायदा होता है।
     
  3. अजवाइन काढ़े से बच्चे की खांसी व सर्दी के अलावा पाचन समस्या भी ठीक हो सकती है। इस काढ़े को बनाने के लिए आपको 1/3 कप गुड़, 1/2  कप पानी, 1 छोटा चम्मच अजवाइन, 8-10 तुलसी के पत्ते,  1/2 छोटा चम्मच हल्दी, 1 लौंग व काली मिर्च की 5 नग की जरूरत होती है।  ये सभी सामान एक बर्तन में मिलाकर 10 मिनट के लिए उबालने पर काढ़ा तैयार हो जाता है। इसे छानकर बच्चे को 1 चम्मच पिलाने से भी काफी फायदा होता है। हालांकि इस काढ़े को खांसी की दवाई के साथ न दें।
     
  4. अक्सर आपने देखा होगा कि नवजात को पेट संबंधी परेशानी होने पर नानी-दादी मां को अजवाइन चबाने का सलाह देती है। यहां तक कि डिलिवरी के बाद मां को अजवाइन का पानी पीने के लिए भी कहा जाता है। दरअसल यह मां और नवजात दोनों की सेहत के लिए फायदेमंद होता है। दरअसल अजवाइन मां के दूध के जरिए बच्चे के शरीर में पहुंचकर फायदा पहुंचाता है और नवजात के पेट से जुड़ी सभी समस्याओं को दूर करता है।
     
  5. इसके अलावा अगर अजवाइन का चूर्ण रात में सोते समय रोजाना बच्चे को खिलाया जाए, तो बच्चे की मिट्टी खाने की आदत छूट जाती है।
     
  6. अजवाइन की सुगंध से बच्चे की बंद नाक खोलने में भी मदद मिलती है। 

 

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

  • 4
Comments()
Kindly Login or Register to post a comment.

| Jul 18, 2018

12 devasacya Beby la gas jhal ahe mulagi ahe

  • Report

| Apr 06, 2018

My son has problem of stomach ache every time he eats something.. Is it helps

  • Report

| Jan 02, 2018

Meri beti 14 month ki Hai or use constipation ki problem Hai. Kya ajwain use help KR skta Hai.

  • Report

| Dec 28, 2017

Do mhine ke bachchhe ko gas problem m ajavain kitni oor kaise de

  • Report
+ START A BLOG
Top Health and Wellness Blogs
Loading
Heading

Some custom error

Heading

Some custom error