पेरेंटिंग स्वास्थ्य

नवजात शिशु को घमौरी निकल रहे हैं तो आजमाएं इन उपायों को

Parentune Support
0 से 1 वर्ष

Parentune Support के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Jun 09, 2018

नवजात शिशु को घमौरी निकल रहे हैं तो आजमाएं इन उपायों को

नवजात शिशु को घमौरी निकल रहे हैं तो इन उपाय को आजमाएं

गर्मीयो में घमौरियां होना आम बात है और यह ऐसी समस्या है जिससे नवजात शिशु हो या वयस्क कोई भी अछूता नहीं रहता है। यह समस्या गर्म और नम मौसम के कारण उत्पन्न होती है, जिसके कारण कंधों, जांघों और शरीर के अन्य हिस्सों में लाल दाने निकल आते हैं। जिससे कि शरीर में काफी जलन और खुजली होती है। नवजात शिशु के लिए ये एक बड़ी परेशानी है क्यूंकि घमौरियों की जलन से शिशु रोते रहते है |आइये बताते है कुछ उपाय जिन्हें आजमाकर आपके शिशु को घमौरियों से राहत मिलेगा |


सूती और थोड़े ढीले कपड़े पहनाये --गर्मी में पॉलीस्टर और नायलॉन के कपड़े पहनाने से बच्चों को घमौरियां होती है क्युंकी कसे हुए टाइट कपड़ो में ऑक्सीजन नहीं मिल पता है| इसलिए अपने बच्चो को आरामदायक कपड़े पहनायें |

पसीना ना जमा रहने दे --अगर नवजात शिशु को पसीना होता है तो उसे तुरंत पोछ दे अधिक समय तक त्वचा पे पसीने के रहने से भी त्वचा संबंधी परेशानिया होती है |

समय -समय पर पानी पिलाते रहे -- शिशु के शरीर में पानी की कमी न होने दे वरना त्वचा रुखी हो जाती है और बच्चे खुजली करते है ,त्वचा में इन्फेक्शन या घमौरियां होने का खतरा बढ़ जाता है |

दही का लेप -- आप अपने शिशु को नहाने से पहले पूरे शरीर में दही लगा कर 5 मिनट तक रहने दें। इससे उसे काफी ठंडक पहुंचेगी साथ ही घमौरियों की समस्या से भी राहत मिलेगी।

मुल्तानी मिट्टी और गुलाबजल-- मुल्तानी मिट्टी और गुलाबजल का लेप भी घमौरियों से निजात दिलाने में मदद करता है। इसके लिए आप मुल्तानी मिट्टी में गुलाबजल डालकर इसका लेप तैयार कर लें और इसे शिशु के बॉडी पर लगा दें। 5 से 7 मिनट बाद बच्चे को नहला दें, इससे बच्चे के शरीर की गर्मी बाहर निकल आएगी और जलन भी कम होगा।

शिशु की साफ-सफाई पर ध्यान दें-- गर्मी के मौसम में शिशु की साफ-सफाई पर भी ध्यान दें। क्योंकि, नवजात  शिशु बहुत जल्दी इंफेक्शन की चपेट में आ जाते हैं। इसलिए, गर्मी के मौसम में उन्हें समय से नहाएं और उन्हें साफ-सुथरा रखने कोशिश करें। इससे घमौरी होने की समस्या से राहत मिलेगी।

टैल्कम पाउडर-- टैल्कम पाउडर का इस्तेमाल घमौरियों से बचने के लिए भी किया जाता है| टैल्कम पाउडर घमौरियों से बचाने और इसके उपचार में सहायक है |देखें कि पाउडर का शिशु पर क्या असर होता है और यदि उसे चकत्ते होने लगें, तो पाउडर का इस्तेमाल बंद कर दें और शिशु के डॉक्टर से मिलें।

चंदन पाउडर-- चंदन पाउडर अपने ठंडे गुणों के लिए जाना जाता है, इसमें आप गुलाबजल मिला कर उसके बॉडी पर लेप की तरह लगा दें उसके कुछ देर बाद नहला दें। इससे घमौरियों की समस्या से काफी आराम मिलता है।

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

  • कमेंट
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.
+ ब्लॉग लिखें
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}