• लॉग इन करें
  • |
  • रजिस्टर
शिक्षण और प्रशिक्षण

आपका बच्चा बन सकता है डिजिटल और सोशल मीडिया ट्यूटर इसे पढ़े ..

Parentune Support
11 से 16 वर्ष

Parentune Support के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया May 28, 2020

आपका बच्चा बन सकता है डिजिटल और सोशल मीडिया ट्यूटर इसे पढ़े
विशेषज्ञ पैनल द्वारा सत्यापित

आज का युग डिजिटल है।बच्चे भी सोशल मीडिया, डिजिटल और स्मार्टफोन का उपयोग कर रहे है| बच्चो के साथ-साथ माता-पिता भी खुद को अपडेट कर रहे हैं। हमारी सोच बदल रही है। दैनिक जीवन के कार्य आसान बन रहे हैं। बच्चे घर बैठे-बैठे ही बहुत से काम इंटरनेट से ही कर रहे हैं और सोशल मीडिया से भी जुड़े रहते हैं। यह बदलाव दुनियाभर में हो रहा है, अपने मित्रों, परिचितों व पारिवारिक सदस्यों के साथ जुड़े रहने के लिए सोशल मीडिया आज कल बहुत बड़ी भूमिका निभा रहा है। हमारे बच्चे हमसे पहले ही डिजिटल डिवाइस और सोशल मीडिया को इस्तेमाल करना सिख रहे है |बच्चो के साथ कदम से कदम मिला के चलने के लिए हमें भी आधुनिक बनने की जरुरत है |

हम अक्सर हैरान हो जाते है जब हम अपने बच्चो को बहुत ही आसानी से नयी टेक्नोलॉजी को सीखता देखते है पर जब हम कोसिस करते है तो हमसे वो उतनी आसानी से नहीं होता है |आपको कोई ऐसा चाहिए होता है जो आपको सिखा सके पर जिसे बच्चे को अज तक आप सिखाते आये है उसी से सिखने में क्या हर्ज है |आज आपको कुछ ऐसे टिप्स देंगे जीससे आपका बच्चा बन सकता है आपका सोशल मीडिया और डिजिटल डिवाइस ट्यूटर|

सीखते समय वो आपका बच्चा नहीं ट्यूटर है -- कुछ लोगो के लिए ये थोडा मुस्किल होगा की आपका बच्चा आपको सिखा रहा है और आपको ध्यान लगा कर समझना है क्युकी हमेशा आप सिखाते है और आपका बच्चा सुनता है पर जब आप सिख रहे है तो ध्यान दे की आप एक छात्र की तरह बरताव करे ना की माता-पिता की तरह क्युकी ऐसा ना करने से आपका बच्चा आपको सिखाने में संकोच करने लगेगा और वो आपको सिखाने में कम रूचि लेगा |
 

शर्मिन्दा महसूस ना करे  -- किसी भी चीज को सिखने मे समय लगता है ,हो सकता है आपको समझ नहीं आ रहा हो और आप ये सोचने लगे की कैसे बोलू की मुझे समझ नहीं आया और आप छोटा महसूस करने लगे| आपको ऐसा करने की जुरूरत नहीं आप प्यार से और धीरे-धीरे सीख सकते है |आपके बच्चे को भी खुशी होगी की मेरे माता-पिता मुझसे कुछ सीख रहे है |
 

अपने बच्चे की प्रशंसा करे --- आपको उनकी तारीफ करनी चाहिए की वो कितनी आसानी से सीख गये ना की उन्हें ताना दे की “हाँ ये तो तुम बहुत जल्दी सीख गये ,बस पढाई ही नहीं करी जाती तमसे “ नकारात्मक बाते बच्चो में मन में बैठ जाती है और बार बार ऐसे बाते सुनने के बाद वो वही चीज करना सुरु कर देते है |
 

यह  आपके और उनके बिच के रिश्ते को मजबूत करेगा -- आधुनिक चीजो में बच्चो की रूचि काफी ज्यादा होती है और जब आप उनकी इस रूचि में शामिल होंगे तो उन्हें अच्छा लगेगा |साथ में सिखने से आपक दोनों के बिच बात चित करने के लिए बहुत से विषय होंगे जो आपक दोनों के रिश्ते को और भी मजबूत बनाने में मदद करेगा |

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

इस ब्लॉग को पेरेंट्यून विशेषज्ञ पैनल के डॉक्टरों और विशेषज्ञों द्वारा जांचा और सत्यापित किया गया है। हमारे पैनल में निओनेटोलाजिस्ट, गायनोकोलॉजिस्ट, पीडियाट्रिशियन, न्यूट्रिशनिस्ट, चाइल्ड काउंसलर, एजुकेशन एंड लर्निंग एक्सपर्ट, फिजियोथेरेपिस्ट, लर्निंग डिसेबिलिटी एक्सपर्ट और डेवलपमेंटल पीड शामिल हैं।

  • कमेंट
कमैंट्स ()
Kindly Login or Register to post a comment.
+ ब्लॉग लिखें
Megha
मॉमबेस्डर
आज के दिन के फीचर्ड कंटेंट

आज का पैरेंटून

पैरेंटिंग के गुदगुदाने वाले पल

Ask your queries to Doctors & Experts

Download APP
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}