गर्भावस्था

नार्मल डिलीवरी से आपके शिशु पर होने वाले फायदे

Supriya Jaiswal
गर्भावस्था

Supriya Jaiswal के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Oct 26, 2018

नार्मल डिलीवरी से आपके शिशु पर होने वाले फायदे

नार्मल डिलीवरी मतलब आपका शरीर तैयार है बच्चे को जन्म देने के लिए और आपको एक असहनीय पीड़ा का सामना करके एक नन्ही सी जान को इस दुनिया में लाना है। कुछ जटिल स्थितियों में सिजेरियन करना अनिवार्य होता है क्युंकी उसके अलावा कोई दूसरा चारा नहीं होता पर आज कल कुछ महिलाएं नार्मल डिलीवरी के दर्द से बचने के लिए एपीड्यूरल डिलीवरी या सिजेरियन करना पसंद करती है। हम आप को बता दें की नार्मल डिलीवरी से आपको ही नहीं आपके बच्चे को भी बहुत से फायदे होते हैं।

नार्मल डिलीवरी से बच्चे पर होने वाले फायदे /Baby Gets Huge Benefits When Delivered By Natural Birth in Hindi

  1. नार्मल डिलीवरी में शिशु को अपनी मां के साथ प्रारंभिक संपर्क थोड़ा पहले मिल जाता है। जल्दी माँ का दूध पीने से बच्चे में पीलिया का खतरा कम होता है और साथ ही आप दोनों के बीच एक स्वस्थ रिश्ता बनता है।
     
  2. नार्मल डिलीवरी के दौरान, इस बात की संभावना रहती है कि योनीमार्ग के चारों ओर की मांसपेशियां नवजात शिशु के फेफड़ों में पाए जाने वाले अमिनोटिक फ्लूइड निकल जाता है। इससे शिशु को जन्म के समय सांस लेने की समस्या कम होती है। बच्चा संक्रमण से बचा रहता है। 
     
  3. योनी से जन्म के दौरान बच्चे को बैक्टीरिया का एक सुरक्षा कवच मिलता है जिससे बच्चे को आगे चल के अस्थमा ,मोटापा ,डायबिटीज आदि होने के चांस कम रहते हैं। साथ ही जन्म वाली नली से निकलने पर बच्चे का सर आकार में रहता है।
     
  4. सिजेरियन डिलिवरी में मां को खून की कमी और संक्रमण का खतरा बना रहता है। ऑपरेशन के दौरान आंत या मूत्राशय के घायल होने की संभावना भी बनी रहती है। सिजेरियन ऑपरेशन के तुरंत बाद महिला स्तनपान कराने में सक्षम नहीं रहती है।
     
  5. नार्मल डिलीवरी के मुकाबले एपीड्यूरल डिलीवरी में अक्सर मां को बुखार हो जाता है। मां को बुखार के साथ जो बच्चे जन्म लेते है उनके आवाज में खराबी ,दौरे पड़ने की आशंका , अप्गर स्कोर (जिससे जन्म से दौरान बच्चे की सेहत का पता लगते है )भी कम होता है आदि ज्यादा रहती है।
     
  6. नार्मल डिलीवरी में बच्चे के दिमाग का विकास अच्छा होता है और साथ ही उसमे बीमारियों से लड़ने की क्षमता ज्यादा होती है।
     
  7. कुछ अध्ययनों से पता चला है कि एपीड्यूरल डिलीवरी बच्चे की प्रतिरक्षा प्रणाली को नकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकती है, और जन्म के समय भ्रूण हृदय गति और रक्त आपूर्ति से समझौता कर सकती है।

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

  • 2
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.

| Aug 04, 2018

hi mere three month hue h but pet saaf Nahi hota or kbje Hoti h

  • रिपोर्ट

| Aug 02, 2018

normal dilivery ke liye kya krna chahiy plz.... rply

  • रिपोर्ट
+ ब्लॉग लिखें
टॉप गर्भावस्था ब्लॉग
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}