• लॉग इन करें
  • |
  • रजिस्टर
शिक्षण और प्रशिक्षण स्वास्थ्य

चीन के वुहान में स्कूल जा रहे हैं छात्र, जानिए किस तरह की सावधानियां बरती जा रही हैं

Prasoon Pankaj
3 से 7 वर्ष

Prasoon Pankaj के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया May 11, 2020

चीन के वुहान में स्कूल जा रहे हैं छात्र जानिए किस तरह की सावधानियां बरती जा रही हैं
विशेषज्ञ पैनल द्वारा सत्यापित

लॉकडाउन के बाद क्या होगा? क्या लॉकडाउन के बाद हमारी जिंदगी फिर से पुरानी पटरी पर वापस लौट आ पाएगी? स्कूल-कॉलेज, दफ्तर, शॉपिंग मॉल, थिएटर, मेट्रो एवं अन्य सभी संस्थान कब से खुलेंगे? इस तरह के कई सवाल आपके मन में आते होंगे और ये सवाल बहुत वाजिब भी हैं। चाइना का वुहान शहर आपको भली भांति याद होगा...इस शहर को भला कौन भूल सकता है क्योंकि कोरोना वायरस के संक्रमण का सबसे पहला मामला यही तो सामने आया था और फिर इस वायरस ने दुनियाभर के लोगों की जिंदगी को तहस-नहस कर दिया। सबसे पहले आपको बता दूं कि वुहान से जो खबरें सामने आ रही है उसके मुताबिक वहां जिंदगी फिर से ट्रैक पर आ रही है। सबसे महत्वपूर्ण जानकारी ये है कि स्कूलों में बच्चे वापस पढाई करने के लिए आने लगे हैं।

वुहान में स्कूल फिर से खुले, इस तरह के एहतियात बरते जा रहे हैं

खबरों के मुताबिक वुहान में तकरीबन 121 स्कूलों में सीनियर क्लासेज के स्टूडेंट्स ने फिर से स्कूल आना शुरु कर दिया है। तकरीबन 57 हजार स्टूडेंट्स फिर से स्कूल आना शुरु कर चुके हैं।
 

  • स्कूल में बच्चों को मास्क पहनना अनिवार्य कर दिए गए हैं।

  • कैंपस में प्रवेश करने से पहले सभी बच्चों का टेंपरेचर चेक किया जाता है

  • एहतियात के तौर पर सभी स्कूलों को कई बार सेनेटाइज किए जा चुके हैं ताकि किसी प्रकार का संक्रमण का खतरा ना रहे।

  • क्लासरूम में प्रवेश करने से पहले भी सभी छात्रों के हाथों को सेनेटाइज किया जाता है।

  • क्लासरूम के अंदर सभी छात्रों के बीच में कम से कम 1 मीटर की दूरी बनी रहे इसका खास ख्याल रखा गया है।

  • अधिकारियों के मुताबिक स्कूल के सभी छात्रों, शिक्षकों व स्टाफ को न्यूक्लेक एसिड टेस्टिंग (nucleic acid testing) के चरण से गुजरना अनिवार्य किया गया है। स्कूल के कैंपस, क्लासरूम कैंटीन ऑफिस का के कुल 4 राउंड कीटाणुशोधन किए गए हैं।

  • सभी बच्चों को मोबाइल के ऐप पर ग्रीन हेल्थ कोड दिखाना अनिवार्य है। अपने देश में आरोग्य सेतु ऐप की तरह चीन में ये ऐप किसी व्यक्ति में कोरोना वायरस के संक्रमित होने की संभावनाओं का संकेत देता है।

  • करीब 3 महीने तक घर पर रहने के बाद चीन के शंघाई और बीजिंग में बच्चे तमाम एहतियातों के संग स्कूल गए।  स्पेन में 6 सप्ताह के लॉकडाउन के बाद पहली बार बच्चों को बाहर जाकर खेलने की अनुमति दी गई है।

  • वुहान प्रांत के जिस शहर में सबसे पहले कोरोना वायरस पाए गए थे वहां कुल 76 दिनों के लॉकडाउन लागू किए थे और इसको पिछले महीने ही खोला गया है। 23 जनवरी से जारी किए गए लॉकडाउन को 8 अप्रैल को खोला गया।

करीब दो महीने के लॉकडाउन के बाद ढिलाई दी जा रही है। चीन के अलग-अलग हिस्सो में स्कूल, फैक्ट्री, हाईवे, टूरिस्ट प्लेस खुल गए हैं। सड़कों पर हलचल बढ़ गई है।

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

इस ब्लॉग को पेरेंट्यून विशेषज्ञ पैनल के डॉक्टरों और विशेषज्ञों द्वारा जांचा और सत्यापित किया गया है। हमारे पैनल में निओनेटोलाजिस्ट, गायनोकोलॉजिस्ट, पीडियाट्रिशियन, न्यूट्रिशनिस्ट, चाइल्ड काउंसलर, एजुकेशन एंड लर्निंग एक्सपर्ट, फिजियोथेरेपिस्ट, लर्निंग डिसेबिलिटी एक्सपर्ट और डेवलपमेंटल पीड शामिल हैं।

  • कमेंट
कमैंट्स ()
Kindly Login or Register to post a comment.
+ ब्लॉग लिखें

टॉप शिक्षण और प्रशिक्षण ब्लॉग

Sadhna Jaiswal

आज के दिन के फीचर्ड कंटेंट

गर्भावस्था

Ask your queries to Doctors & Experts

Download APP
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}