• लॉग इन करें
  • |
  • रजिस्टर
गर्भावस्था

प्रेग्नेंसी में नारियल पानी का सेवन करने के फायदे, नुकसान और सावधानियां

Prasoon Pankaj
गर्भावस्था

Prasoon Pankaj के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Jan 22, 2021

प्रेग्नेंसी में नारियल पानी का सेवन करने के फायदे नुकसान और सावधानियां
विशेषज्ञ पैनल द्वारा सत्यापित

गर्भावस्था के दौरान आप सबसे ज्यादा अपने खानपान का ध्यान रखती होंगी लेकिन इसके साथ ही आप इस बात को लेकर भी सशंकित रहती होंगी कि आपको कौन से फूड आइटम्स का सेवन करना चाहिए और किनका नहीं? इनमें से ही एक है नारियल पानी, आप ये तो जरूर सोचती होंगी कि आपको प्रेग्नेंसी के दौरान नारियल पानी पीना चाहिए कि नहीं। जैसा कि आप जानती ही हैं कि नारियल में अनेक प्रकार के पोषक तत्व पाए जाते हैं तो चलिए इस ब्लॉग में हम आपकी इस शंका का समाधान कर देते हैं कि आपको गर्भावस्था के दौरान नारियल पानी पीना चाहिए कि नहीं और इसके फायदे औऱ नुकसान क्या हो सकते हैं?

नारियल पानी में कौन से पोषक तत्व पाए जाते हैं?

आप इस बात को जान लें कि अगर आप एक कप नारियल पानी का सेवन करती हैं तो इसके 240 मिली में 46 कैलोरी ऊर्जा, 9 ग्राम कार्ब, 3 ग्राम फाइबर और तकरीबन 2 ग्राम प्रोटीन पाया जाता है। इसमें विटामिन सी, मैग्नीशियम, मैंगनीज, पोटाशियम, सोडियम और कैल्शियम जैसे पोषक तत्व भी शामिल होते हैं।

गर्भावस्था में नारियल पानी पीने के क्या लाभ हो सकते हैं?/  Benefits Of Drinking Coconut Water During Pregnancy In Hindi

कोकोनट डेवलपमेंड बोर्ड के मुताबिक प्रेग्नेंसी में नारियल पानी का सेवन करने के अनेक फायदे(Nariyal Pani Ke Fayde In Pregnancy) हो सकते हैं क्योंकि इसमें बहुत सारे पोषक तत्व पाए जाते हैं।

  • एक रिसर्च के मुताबिक अगर आप प्रेग्नेंसी के दौरान नारियल पानी का सेवन करती हैं तो इससे इम्यूनिटी क्षमता बढ़ती है औऱ किडनी की कार्यप्रणाली में भी सुधार होता है।

  • प्रेग्नेंसी के दौरान नारिलय पानी का सेवन करने से मूत्रमार्ग में होने वाले संक्रमण से सुरक्षा मिलती है औऱ ये हाई बीपी की समस्या को भी नियंत्रण में रखता है।

  • गर्भावस्था के दौरान होने वाले सीने में जलन की समस्या से निजात दिलाने में भी नारियल पानी मददगार साबित होता है।

  • गर्भावस्था के दौरान होने वाली मॉर्निंग सिकनेस और थकान की समस्या से राहत दिलाने में भी नारियल पानी सहयोगी सिद्ध हो सकता है।

  • प्रेग्नेंसी के दौरान वजन बढ़ने की समस्या आम बात है लेकिन चूंकि नारियल पानी में ओमेगा 3 फैटी एसिड और फाइबर भरपूर मात्रा में मौजूद होता है इसलिए वजन पर भी कंट्रोल पाने में मदद मिलती है।

  • नारियल में पोटैशियम, मैग्नीशियम और मिनरल्स भरपूर मात्रा में होते हैं। इसका सेवन करने से बार बार पेशाब आता है और यही कारण है कि पेशाब के रास्ते शरीर के टॉक्सीन बाहर निकलते रहते हैं। ये किडनी की समस्या से भी आपको आराम दिलाता है।

  • नारियल पानी पूर्ण प्राकृतिक हेल्थ ड्रिंक है और इसमें किसी तरह का नुकसानदेह केमिकल नहीं होता है इसलिए ये आपके औऱ होने वाले शिशु के लिए फायदेमंद है।

  • नारियल पानी में इतने सारे पोषक तत्व मौजूद होते हैं कि ये आपके शरीर को भरपूर ऊर्जा प्रदान करते हैं। थकान की समस्या में त्वरित राहत के लिए भी नारियल पानी लाभकारी है। मांसपेशियों को मजबूत बनाता है और ये आपके लिए एनर्जी ड्रिंक का काम करता है।

प्रेगनेंसी के दौरान नारियल पानी का सेवन कब करना चाहिए?

ये जानना आपके लिए बहुत आवश्यक है कि गर्भावस्था के दौरान आपको नारियल पानी का सेवन किस समय में करना चाहिए। प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही में जब आपको सबसे ज्यादा थकान और मॉर्निंग सिकनेस की समस्या का सामना करना पड़ता है तब उस समय में नारिलय पानी आपके लिए सर्वश्रेष्ठ विकल्प सिद्ध हो सकता है। पहली तिमाही के दौरान गर्भ के अंदर पल रहे शिशु के भ्रूण के दिमाग का विकास हो रहा होता है और ऐसे समय में नारियल पानी का सेवन फायदेमंद हो सकता है। गर्भावस्था की तीसरी तिमाही में भी नारियल पानी पीने की सलाह दी जाती है दरअसल तीसरी तिमाही में नारियल पानी पीने से एमनियोटिक द्रव का संतुलन शरीर में ठीक बना रहता है। 

गर्भावस्था के दौरान कितनी मात्रा में नारियल पानी पीना चाहिए?

जैसा कि आप जानती हैं कि अति सर्वत्र वर्जयेत यानि कि किसी भी चीज का अति मात्रा में सेवन नुकसानदेह हो सकता है तो नारियल पानी के मामले में भी कुछ वैसा ही है। अगर आप प्रेग्नेंसी के दौरान रोज एक गिलास नारियल पानी का सेवन करती हैं तो ये आपके लिए सही है। एक औऱ जरूरी बात का ध्यान रखें कि आपको इस समय में हरे यानि ताजे नारियल पानी का ही सेवन करना चाहिए। भूरे रंग वाले नारियल यानि की जो नारियल पक जाते हैं अगर आपने उसके पानी का सेवन किया तो फिर कब्ज की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। एक और बात कि अगर नारियल पानी का स्वाद अच्छा नहीं लग रहा है तो फिर जबरन इसको पीने की जरूत नहीं।

नारियल पानी पीने के दौरान क्या सावधानियां बरतें?

नारियल पानी पीने के बहुत सारे फायदें हैं लेकिन फिर भी ये बहुत आवश्यक है कि आप कुछ सावधानियां अवश्य बरतें।

  • सीमित मात्रा में ही नारियल पानी का सेवन करना चाहिए। नारियल पानी को कभी भी पानी के विकल्प के रूप में नहीं माना जा सकता है। अत्यधिक मात्रा में सेवन करने से शरीर में कुछ अन्य जटिलताओं का सामना करना पड़ सकता है।

  • प्रेग्नेंसी के दौरान आप जो भी फूड आइटम्स का सेवन नियमित रूप से करती हैं उसके बारे में अपने डॉक्टर से सलाह अवश्य ले लिया करें। नारियल पानी के साथ भी कुछ ऐसा ही है, अगर आप नारियल पानी का नियमित रूप से सेवन करना चाहती हैं तो अपने डॉक्टर से अवश्य जानकारी लें। ये इसलिए भी जरूरी है कि अगर आप ब्लड प्रेशर, डायबिटीज या हृदय से संबंधित बीमारियों से ग्रसित हैं तो आपको डॉक्टर से जानकारी जरूर ले लेना चाहिए।

  • नारियल ताजे हों, हरे हों और ये बहुत जरूरी है कि आपके सामने ही इसको काटा जाए। बासी नारियल, कटे फटे नारियल को खरीदने से परहेज रखें। ध्यान रखें कि अगर बाहर से नारियल खराब दिख रहा है तो इसके अंदर का पानी भी दूषित हो सकता है।

  • जैसे ही नारियल को काटा गया तो उसके बाद इसके पानी को अवश्य पी लें। कुछ लोग कटे हुए नारियल को फ्रीज में रख लेते हैं और बहुत देर बाद इसको पीते हैं ये गलत है। नारियल के पानी को किसी साफ ग्लास में बाहर निकालकर पीएं या अगर आप स्ट्रा का इस्तेमाल कर रही हैं तो वो भी साफ और स्वच्छ रहे इस बात का खास ध्यान रखें।

Coconut water

क्या प्रेग्नेंसी के दौरान नारियल का सेवन करने के नुकसान भी हो सकते हैं?/ Disadvantages Of Coconut Water In Hindi

प्रेग्नेंसी के दौरान नारियल का सेवन करने के कुछ नुकसान भी संभव हैं, हम आपको उन नुकसानों के बारें में भी विस्तार से जानकारी दे रहे हैं।

  1. जिन महिलाओं को डायबिटीज होती है उनको नारियल का सेवन करने से बचना चाहिए क्योंकि कटे हुए नारियल में शुगर पाया जाता है। 

  2. सूखे नारियल में हाई सैचुरेटेड फैट होता है इसलिए गर्भावस्था के दौरान आप नारियल पानी तो पी सकती हैं लेकिन सूखे नारियल को खाने से परहेज रखें।

  3. नारियल में फाइबर की मात्रा अत्यधिक होती है औऱ इसका सेवन करने से कब्ज की समस्या में तो आराम मिल सकता है लेकिन इसके साथ ही ज्यादा मात्रा में सेवन करने से पाचन तंत्र पर असर पड़ सकता है औऱ गैस की समस्या भी संभव है।

  4. जिन्हें एलर्जी की समस्या है तो उनको संभव है कि नारियल का पानी पीने से भी एलर्जी हो सकता है। 

  5. जैसा कि हमने आपको बताया कि नारियल पानी का सेवन करने से बार बार पेशाब आ सकता है तो इसलिए रात में नारियल पानी नहीं पीएं तो बेहतर

  6. कुछ परिस्थितियों में नारियल पानी का सेवन करने से दस्त की समस्या का भी सामना करना पड़ सकता है। 

  7. नारियल पानी का सेवन शरीर को ठंढ़क प्रदान करता है। अगर आपको जल्द ठंड लगने की समस्या है या आप सर्दी के मौसम में प्रेग्नेंट हैं तो इस समय में आपको नारियल पानी का सेवन करने से बचना चाहिए।

प्रेग्नेंसी के दौरान नारियल पानी पीने से संबंधित मिथक

अपने समाज में पहले से कुछ मिथक बने होते हैं जिनसे आपको बचना चाहिए। नारियल पानी को लेकर भी कई सारे मिथक फैले हुए हैं, आइये हम आपको उन मिथकों के बारे में भी जानकारी दे देते हैं। 

मिथक 1 : क्या गर्भावस्था के दौरान नारियल पानी पीने से शिशु सुंदर और गोरे रंग का पैदा होता है।

जवाब- ये पूरी तरह से मिथक है और इस तरह की भ्रामक जानकारी से आपको बचना चाहिए। विशेषज्ञों के मुताबिक अब  तक इस बात के किसी प्रकार के कोई प्रमाण सामने नहीं आए हैं कि गर्भावस्था के दौरान नारियल पानी का सेवन करने से जन्म लेने वाले शिशु के रूप रंग में किसी प्रकार का कोई बदलाव आता हो। शिशु के शरीर का रूप रंग मूल रूप से आनुवांशिक गुणों पर आधारित होता है और इसका खानपान से किसी प्रकार का संबंध नहीं होता है। 

मिथक 2 : क्या गर्भावस्था के दौरान नारियल पानी पीने से शिशु के बाल घने और मजबूत होंगे।

जवाब: यह भी बिल्कुल गलत और भ्रामक जानकारी है। शिशु के बाल भी आनुवांशिक गुणों और जीन पर निर्भर करता है। ये एक मिथक है और इसका सच्चाई से कोई वास्ता नहीं है।

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

इस ब्लॉग को पेरेंट्यून विशेषज्ञ पैनल के डॉक्टरों और विशेषज्ञों द्वारा जांचा और सत्यापित किया गया है। हमारे पैनल में निओनेटोलाजिस्ट, गायनोकोलॉजिस्ट, पीडियाट्रिशियन, न्यूट्रिशनिस्ट, चाइल्ड काउंसलर, एजुकेशन एंड लर्निंग एक्सपर्ट, फिजियोथेरेपिस्ट, लर्निंग डिसेबिलिटी एक्सपर्ट और डेवलपमेंटल पीड शामिल हैं।

  • कमेंट
कमैंट्स ()
Kindly Login or Register to post a comment.
+ ब्लॉग लिखें

टॉप गर्भावस्था ब्लॉग

Ask your queries to Doctors & Experts

Ask your queries to Doctors & Experts

Download APP
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}