• लॉग इन करें
  • |
  • रजिस्टर
शिशु की देख - रेख स्वास्थ्य

बच्चों में डायरिया और उल्टीभी हो सकते हैं कोरोना के लक्षण, सामने आया नया रिसर्च

Prasoon Pankaj
0 से 1 वर्ष

Prasoon Pankaj के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया May 15, 2020

बच्चों में डायरिया और उल्टीभी हो सकते हैं कोरोना के लक्षण सामने आया नया रिसर्च
विशेषज्ञ पैनल द्वारा सत्यापित

कोरोना वायरस का प्रकोप लगातार बढ़ता ही जा रहा है ऐसे में  वैज्ञानिकों व डॉक्टरों की टीम लगातार रिसर्च में जुटी हुई है। अपने देश में भी लगातार जारी लॉकडाउन के बावजूद कोरोना के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। चीन के शोधकर्ताओं और बाल रोग विशेषज्ञों ने जो दावा किया है उसको गंभीरता से लेने की आवश्यकता है। बच्चों में पेट से संबंधित किसी प्रकारी की समस्या हो तो फौरन डॉक्टर से सलाह लेना चाहिए क्योंकि इस रिसर्च के मुताबिक बच्चों में उल्टी और डायरिया का होना भी कोरोना के लक्षण हो सकते हैं। 

फ्रंटियर्स इन पीडियाट्रिक्स जर्नल में प्रकाशित रिसर्च के मुताबिक अगर बच्चों में उल्टी और डायरिया के लक्षण नजर आ रहे हैं तो सावधान हो जाएं। इस रिसर्च के दावों के मुताबिक कुछ समय पहले इस तरह के लक्षण वयस्कों में भी पाए गए थे। अगर चीन के कोरोना मरीजों के आंकड़ों को देखें तो तकरीबन 50 फीसदी लोगों को पेट से संबंधित समस्याएं थीं जैसे कि पेट दर्द, डायरिया और उल्टी। ये रिसर्च वुहान प्रांत के टॉन्गजी अस्पताल के डॉक्टरों ने की है। अस्पताल के पीड्रियाटिक्स विभाग के प्रमुख डॉ. वेनबिन ली का कहना है कि ज्यादातर बच्चे कोरोना के गंभीर मरीज नहीं हैं। कुछ ही मामले गंभीर हैं। डॉ वेनबिल ने बताया है कि अधिकांश बच्चों को पेट से जुड़ी दिक्कतें हो रही हैं।

कोरोना एलर्ट: अगर बच्चे में दिख रहे हैं ये लक्षण तो हो जाएं एलर्ट

 रिसर्च के दावों के मुताबिक बच्चों में सिर्फ कफ या सूखी खांसी ही नहीं बल्कि कमजोरी या डायरिया का होना भी कोरोनावायरस के संक्रमण का लक्षण हो सकता है (CORONAVIRUS SYMPTOMS IN CHILDREN MAY INCLUDE SICKNESS AND DIARRHEA RATHER THAN COUGH, STUDY FINDS)

  • सूखी खांसी के अलावा डायरिया भी हो सकते हैं कोरोना संक्रमण के लक्षण

  • बच्चे को उल्टी भी हो सकती है कोरोना  संक्रमण का लक्षण

  • चीन के वुहान प्रांत के टॉन्गजी अस्पताल में बच्चों पर किए गए रिसर्च का नतीजा सामने आया 

  • इन बच्चों में Non Respiratory Symptoms दिखे

  • रिसर्च के मुताबिक  इन बच्चों को सांस से संबंधित कोई परेशानी नहीं थी

  • रिसर्च के दावों के मुताबिक बच्चों में पेट से संबंधित किसी प्रकार की समस्या पहले से नहीं थी

  • सीटी स्कैन के बाद निमोनिया की हुई पु्ष्टि

  • टॉन्गजी अस्पताल के मुताबिक  5 में से 4 मरीजों को पेट से संबंधित समस्याओं के लक्षण पाए गए

इस रिसर्च के मुताबिक कोरोना वायरस आंतों तक भी पहुंच सकता है। टॉन्गजी अस्पताल में मौजूद संक्रमित बच्चों में नॉन रेस्पिरेटरी लक्षण यानि की सांसों से संबंधित परेशानी नहीं देखी जा रही है। डॉक्टरों के मुताबिक बच्चों को बाद में निमोनिया हुआ और फिर इसके बाद कोरोना की पु्ष्टि हुई। डॉ. वेनबिन के मुताबिक कोरोना संक्रमण फैलाने में मदद करने वाला एसीई-2 रिसेप्टर इंसान के फेफड़ों के अलावा आंतों की कोशिकाओं में भी पाया जाता है।  रिसर्चर के मुताबिक संक्रमित मल से भी आंतों तक कोरोना का संक्रमण फैल सकता है। 

कोरोना को लेकर नित्य प्रतिदिन नए अपडेट सामने आ रहे हैं। अब जबकि बच्चों को लेकर ये नई जानकारियां सामने आई है तो हमें अपने बच्चों के स्वास्थ्य का पहले के मुकाबले और अधिक ध्यान रखने की जरूरत है। अगर बच्चे में डायरिया या उल्टी की समस्या हो तो निश्चित रूप से डॉक्टर से जरूर संपर्क करें। लॉकडाउन के तकरीबन 2 महीने हो चुके हैं और अब हम सभी लोग कोरोना वायरस के संक्रमण के खतरे और बचाव के उपायों के बारे में अच्छे तरीके से जान चुके हैं। आने वाले दिनों में भले लॉकडाउन में ढिलाई दी जाए लेकिन हम किसी प्रकार की लापरवाही ना बरतें। घर से जब बाहर निकले तो अपने नाक-मुंह को अच्छे से जरूर ढ़क लें। इसके साथ ही यह भी ध्यान रखें कि बार-बार हाथ को मुंह, नाक या चेहरे पर मत ले जाएं और हां हाथों को लगातार साफ करते रहें।

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

इस ब्लॉग को पेरेंट्यून विशेषज्ञ पैनल के डॉक्टरों और विशेषज्ञों द्वारा जांचा और सत्यापित किया गया है। हमारे पैनल में निओनेटोलाजिस्ट, गायनोकोलॉजिस्ट, पीडियाट्रिशियन, न्यूट्रिशनिस्ट, चाइल्ड काउंसलर, एजुकेशन एंड लर्निंग एक्सपर्ट, फिजियोथेरेपिस्ट, लर्निंग डिसेबिलिटी एक्सपर्ट और डेवलपमेंटल पीड शामिल हैं।

  • कमेंट
कमैंट्स ()
Kindly Login or Register to post a comment.
+ ब्लॉग लिखें

टॉप शिशु की देख - रेख ब्लॉग

Sadhna Jaiswal

आज के दिन के फीचर्ड कंटेंट

गर्भावस्था

Ask your queries to Doctors & Experts

Download APP
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}