Health and Wellness

कैसे करें डार्क सर्किल से दूर अपने लाडले को

Parentune Support
3 to 7 years

Created by Parentune Support
Updated on Dec 09, 2017

कैसे करें डार्क सर्किल से दूर अपने लाडले को

कैसे करें डार्क सर्किल से दूर अपने लाडले को
 

आंखो के नीचे घेरे (डार्क सर्किल) होना एक आम समस्या है और यह किसी भी उम्र के व्यक्ति को हो सकती है।

शिशु और छोटे बच्चे, उनके शरीर की रोग प्रतिरोधक ताकत के कमजोर होने और नाजुक त्वचा की वजह से इस समस्या के लिए ज्यादा संवेदनशील होते हैं और उनकी आंखो के नीचे डार्क सर्किल दिखाई देते हैं। बहुत कम मामलों ऐसा पाया गया है जब डार्क सर्किल की वजह से बच्चे को किसी तरह की तकलीफ, दर्द या दूसरी शिकायत हुई हो।

 

बच्चों में डार्क सर्किल होने की मुख्य वजह-

सर्दी-जुखाम बच्चों को होने वाले डार्क सर्किल की मुख्य वजह है। खासकर एलर्जी या साइनस संक्रमण की वजह से होने वाला जुखाम।

कुछ बच्चों को बार-बार सर्दी होती है और कई-कई दिनों तक बनी रहती है, ऐसा साइनस संक्रमण के कारण ही होता है। साइनस एक तरह से शरीर की खोपड़ी में हवा वाली खाली जगह है और साइनस प्रणाली नाक से ली गई सांस से नमी बनाने और सिर को हल्का करने का काम करती है।

इस जगह पर संक्रमण हो जाने पर बच्चे को लगातार सर्दी-जुखाम बना रहता है। जुखाम की वजह से नाक से सांस खींचने वाली नली में कफ जमा होने से रूकावट पैदा हो जाती है और इस रूकावट के कारण नाक नली और दूसरी रक्त लाने-ले जाने वाली नसें बन्द हो जाती हैं जिससे सांस की नली, माथा और आंखों के निचले हिस्से आदि में सूजन आ जाती है, वहां गहरापन आ जाता है और आंखो के नीचे घेरे दिखाई देने लगते हैं।
 

 

बच्चों की आंखो के नीचे घेरे (डार्क सर्किल) होने को लेकर यह बातें ध्यान में रखें-

  • शिशु और छोटे बच्चों की आंखो के नीचे घेरे (डार्क सर्किल) होना हमेशा किसी बीमारी का संकेत नहीं होता।
  • कुछ बच्चों में आंखों के नीचे की त्वचा ज्यादा पतली होती है जिसकी वजह से डार्क सर्किल होने का आभास होता है।
  • किसी-किसी परिवार में आंखो के नीचे घेरे होना अनुवांशिक (जेनेटिक) भी होता है और यह एक पीढ़ी से अगली पीढ़ी में जारी रहता है।
  • डाॅक्टरों के मुताबिक गोरे या साफ रंग के बच्चों में आंखो के नीचे डार्क सर्किल ज्यादा उभरे हुए और साफ दिखाई देते हैं।
  • बच्चों की त्वचा के कोमल और संवेदनशील होने की वजह से मौसमी बदलाव के असर से भी डार्क सर्किल होते हैं।

 

डार्क सर्किल के रंग से जाने इसकी गंभीरता-

जरूरी नहीं कि बच्चे की आंखो के नीचे घेरे होना किसी बीमारी या तकलीफ की निशानी हो लेकिन घेरों के रंग से आप इनके होने के पीछे क्या कारण हैं, इसका अंदाजा लगा सकते हैं।

  • नीले - ज्यादा थकान होना या हृदय संबंधी समस्याएं हो सकती हैं
  • गहरे बैंगनी या लगभग काले - शरीर में लौह तत्वया पानी की कमी
  • लाल - एलर्जी होना
  • भूरे - लीवर या गालब्लेडर से संबंधित समस्या
  • पीले - पीलिया होने का संकेत

 

सामान्य तौर पर, छोटे बच्चे की आंखो के नीचे डार्क सर्किल होने पर किसी तरह के इलाज की जरूरत नहीं होती है पर जहाँ तक हो सके बच्चों को साइनस संक्रमण होने से बचाना चाहिए। यह ज्यादा देर तक ए.सी. में रहने से, ठंडी/बर्फीली चीजों के खाने-पीने, धूम्रपान, कैमिकल या दूसरी गंध की वजह से होता है।

इसके बाद भी यदि आपको किसी तरह का संदेह हो तो डाॅक्टर की सलाह जरूर लें जिससे इनके होने की असल वजह जान कर इस समस्या का बेहतर इलाज मुमकिन हो सके।

 

  • 1
Comments()
Kindly Login or Register to post a comment.

| Dec 10, 2017

My daughter is 7 years old, having a problem of bed wetting. What can I do?

  • Report
+ START A BLOG
Top Health and Wellness Blogs
Loading
Heading

Some custom error

Heading

Some custom error