• लॉग इन करें
  • |
  • रजिस्टर
पेरेंटिंग शिशु की देख - रेख स्वास्थ्य

नवजात शिशु की रुखी त्वचा की समस्या दूर करने के 5 आसान उपाय

Prasoon Pankaj
0 से 1 वर्ष

Prasoon Pankaj के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Mar 25, 2019

नवजात शिशु की रुखी त्वचा की समस्या दूर करने के 5 आसान उपाय

याद करें उन पलों को जब आपने मां बनने के बाद सबसे पहली बार अपने शिशु की नर्म और कोमल त्वचा का स्पर्श किया। इस स्पर्श के एहसास को याद करके ही आप रोमांचित महसूस करने लग जाती होंगी। लेकिन इसके साथ ही आप ये भी चाहेंगी कि आपके शिशु की त्वचा ऐसे ही नर्म और मुलायम बनी रहे। मौसम में आ रहे बदलाव और हमारी दैनिक दिनचर्या का प्रभाव सबसे ज्यादा हमारी त्वचा पर ही होता है। जिस प्रकार हम और आप अपने स्किन का ध्यान रखते हैं ठीक उसी तरह से नन्हें शिशु की त्वचा का(Newborn skin care) भी ख्याल रखना चाहिए।

तो चलिए आज हम आपको इस ब्लॉग में बताने जा रहे हैं कि कैसे आप अपने शिशु की रूखी त्वचा (Dry Skin) से संबंधित समस्या को आसानी से दूर कर सकते हैं। 


नवजात शिशु की रुखी त्वचा को कैसे करें दूर ?/ Dry Skin Remedies for Newborn in Hindi

जैसा कि हम जानते हैं कि नवजात बच्चों की त्वचा बेहद नाजुक और अति संवेदनशील होती है और यही वजह है कि हमारे आसपास के वातावरण के प्रभाव से इनकी त्वचा में नमी की कमी हो सकती है। अपने शिशु की रूखी त्वचा को कोमल बनाने के लिए आप इन आसान उपायों को आजमा सकती हैं।

1. शिशु को नहलाएं(Bath) - शिशु को नहलाना जरूर लेकिन इसके साथ ही एक मां होने के नाते आपको जरूर पता होना चाहिए कि बच्चे को नहलाने के समय में किन जरूरी बातों का ध्यान रखना चाहिए। [अवश्य पढ़ें - क्या स्तनपान करने वाले शिशु को पानी पिलाना चाहिए ?

  • आप अपने शिशु को बहुत देर तक पानी के संपर्क में ना रखें नहीं तो उनकी त्वचा अपनी नमी को खो सकता है।
  • अधिक देर तक शिशु के पानी के संपर्क में रहने पर स्किन में मौजूद प्राकृतिक तेल और नमी के बाहर निकलने की संभावना बन जाती है और इससे भी बच्चे के स्किन में रूखापन आ सकता है।
  • गर्मी के मौसम में आप अपने शिशु को प्रतिदिन नहलाएं लेकिन ठंड के मौसम में हो सकता है कि आपको कुछ बार अपने शिशु को ड्राई बाथ देना पड़े यानि कि भींगे तौलिए से शिशु को अच्छे से पोंछ दें। 
  • अपने शिशु को नहलाने की समय सीमा का जरूर ख्याल रखें। नन्हें शिशु के लिए नहलाने का समय 10 मिनट काफी होता है।
  • शिशु को नहलाने के लिए बहुत ठंढ़ा पानी या गर्म पानी का इस्तेमाल ना करें। कुनकुना पानी उपयुक्त रहेगा। 
  • शिशु को नहलाने के दौरान केमिकल फ्री बेबी सॉप का इस्तेमाल करें। 

2. मालिश अवश्य करें (Massage Regulalry) - जैसा की आप जानती हैं कि आपके शिशु के लिए मालिश कितना जरूरी है। दिन में 2 से 3 बार आप अपने शिशु की मालिश जरूर किया करें। मालिश का सबसे बड़ा फायदा ये होता है कि शिशु के शरीर में तेल समा जाता है और त्वचा पर नमी बरकरार रहती है। मालिश करते समय में इस बात का जरूर ध्यान रखा करें कि केमिकल युक्त तेल का प्रयोग ना करें बल्कि प्राकृतिक तेल से ही मालिश किया करें जैसे कि नारियल, बादाम और सरसो का तेल।

3. शिशु को हाइड्रेट रखें (Keep Hydrated) - शिशु की त्वचा में नमी की मात्रा को बनाए रखने में मां के दूध की अहम भूमिका होती है। स्तनपान कराने से शिशु की त्वचा को अच्छे से पोषण मिलता है। इसके अलावा शिशु के लिए धूप का सेवन करना भी उतना ही महत्वपूर्ण होता है। सर्दी के मौसम में आप अपने शिशू को धूप में लिटाएं हालांकि सीधी धूप में बच्चे को बहुत ज्यादा देर तक ना रखें। 

4. मॉश्चराइजर (Moisturize) - शिशु  के लिए हमेशा अच्छे मॉइश्चराइजर का ही इस्तेमाल किया करें। इस बात का भी ध्यान रखें कि शिशु का मॉइश्चराइजर पेराबंस और डाई फ्री हो। इसके अलावा आप कृत्रिम मॉइश्चराइजर के स्थान पर प्राकृतिक मॉइश्चराइजर जैसे कि दूध या अन्य घरेलु लेप का भी प्रयोग कर सकती हैं। लेकिन इसके साथ ही आपको इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए कि घरेलू  उपायों से बच्चे को नुकसान भी हो सकते हैं। अगर किसी प्रकार के लेप या तेल से आपके शिशु को एलर्जी है तो इसका प्रयोग कतई ना करें।​[अवश्य जानें - घर में कैसे बनाएँ बच्चे के लिए मॉश्चराइजर?]

5. ह्यूमिडिफायर का प्रयोग करें (Use Humidifier) - कई बार घर में मौजूद हवा से भी आपके शिशु की त्वचा ड्राई हो जाती है। अपने घर में ह्यूमिडिफायर का प्रयोग करें। ह्युमिडिफायर घर में मौजूद शुष्क हवा को थोड़ा नम बना देता है। इसका एक फायदा ये भी है कि बच्चे की सर्दी-खांसी को भी नियंत्रित रखता है।

 

तो ये तो सारे उपाय जो हमने आपको बताया है वे आपके शिशु के लिए हैं लेकिन इसके साथ ही मां होने के नाते आपको भी कुछ और बातों का ध्यान रखना चाहिए। जैसे कि अपने शिशु की कोमल त्वचा को ड्राईनेस से बचाने के लिए आपको अधिक मात्रा में पानी पीते रहना चाहिए। आप अपने शिशु के लिए वैसे कपड़ों का चयन करें जो उनके त्वचा के लिए आरामदायक हो। आशा करते हैं कि ये ब्लॉग आपके बच्चे के हेल्दी स्किनकेयर के लिए सहयोगी होगा।

अपने सवाल कमेंट्स सेक्शन में डालना नहीं भूलें और साथ ही अगर ये ब्लॉग आपको मददगार लगा तो इसको अपने साथी पेरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

  • 8
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.

| Aug 12, 2019

mera beby bohot rota h 43 days ka h ...

  • रिपोर्ट

| Jun 28, 2019

Hamare bachche ki skin khud nikal rahi h

  • रिपोर्ट

| May 30, 2019

mera 18days ka bby boy h use ghamoriya ho gyi kya krna chahiye

  • रिपोर्ट

| Apr 27, 2019

mere 2 mahine ke bete ke gaal bahut Lal or phate hue se rahte h sahi karne ka koi upay bataye

  • रिपोर्ट

| Apr 27, 2019

mere 2 mahine ke bete ke gaal bahut Lal or phate hue se rahte h sahi karne ka koi upay bataye

  • रिपोर्ट

| Apr 27, 2019

mere 2 mahine ke bete ke gaal bahut Lal or phate hue se rahte h sahi karne ka koi upay bataye

  • रिपोर्ट

| Apr 27, 2019

mere 2 mahine ke bete ke gaal bahut Lal or phate hue se rahte h sahi karne ka koi upay bataye

  • रिपोर्ट

| Mar 27, 2019

mera flat first floor PR h Jha Dhoop bilkul bhi nhi aati thandak rhti h kya mujhe humidifier ka use krna chaiye

  • रिपोर्ट
+ ब्लॉग लिखें

Always looking for healthy meal ideas for your child?

Get meal plans
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}