• लॉग इन करें
  • |
  • रजिस्टर
गर्भावस्था

अधिक उम्र में भी मां बनने का सपना साकार करने में एग फ्रीजिंग (Egg Freeze) सटीक तकनीक

Prasoon Pankaj
गर्भावस्था

Prasoon Pankaj के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Jul 03, 2020

अधिक उम्र में भी मां बनने का सपना साकार करने में एग फ्रीजिंग Egg Freeze सटीक तकनीक
विशेषज्ञ पैनल द्वारा सत्यापित

टीवी सीरियल्स व कई फिल्मों की मशहूर निर्माता एकता कपूर के बारे में आपने ये जरूर सुना होगा कि वे सिंगल मॉम हैं और 43 साल की उम्र में वे सरोगेसी से मां बनी थीं। लेकिन क्या आप ये जानती हैं कि एकता कपूर जब 36 साल की थींं तब उन्होंने अपने एग्स को फ्रीज करवा लिया था। ये बदलाव का दौर है और हमारे लाइफस्टाइल में भी काफी बदलाव आ रहे हैं, करियर हमारे लिए प्राथमिकता है और यही वजह है कि कई लोग देर से शादी करने का भी फैसला ले लेते हैं। कुछ ऐसे भी लोग हैं जो शादी होने के बाद भी संतान पैदा करने में जल्दबाजी नहीं करना चाहते हैं। इसके अलावा सही जीवनसाथी नहीं मिलने की वजह से भी सिंगल रह जाते हैं। आज हम आपको इस ब्लॉग में सोशल एग फ्रीजिंग पद्धति क्या है और इसके क्या फायदे हैं इनसे जुड़ी तमाम बातें आपके साथ साझा करने वाले हैं। 

सोशल एग फ्रीजिंग पद्धति क्या है?

आपको जानकर हैरानी होगी कि मेट्रो सिटीज के अलावा अब छोटे शहरों में भी एग फ्रीजिंग को लेकर जागरुकता बढ़ती जा रही है। बढ़ती उम्र में महिलाओं के साथ होने वाली फर्टिलीटी की समस्या को रोकने में ये उपाय काफी कारगर है।

  • आसान भाषा में इसको ऐसे समझिए कि सोशल एग फ्रीजिंग के तहत महिला के अंडाशय से परिपक्व अंडे को निकाल कर फ्रीज करके इनक भविष्य में उपयोग में लाने के लिए रख लिया जाता है।

  • जरूरत पड़ने पर फ्रीज हुए इन अंडों को लैब में शुक्राणुओं के साथ मिलाया जाता है।

  • यह बहुत सामान्य प्रक्रिया है जिसमें किसी महिला के गर्भाशय से स्वस्थ अंडो को निकालकर चिकित्सकीय निरीक्षण में संरक्षित करके रखा जाता है। भविष्य में जब कभी वो महिला गर्भवती होना चाहती हैं तो उन अंडों को फर्टीलाइज करके भ्रूण बनाकर महिला के गर्भाशय में स्थानांतरित कर दिया जाता है। यह प्रक्रिया बहुत आसान है और एक्सपर्ट्स के मुताबिक इसमें गंभीर खतरा भी नहीं है।

एग फ्रीज करवाने की सही उम्र क्या है?

केनेडियन फर्टिलीटी और एंड्रोलॉजी सोशाइटी के साल 2014 में एक रिसर्च के मुताबिक अधिक उम्र में मां बनने के सपने को साकार करने में एग फ्रीजिंग सबसे कारगर तरीका है।

  1. जब आप एग फ्रीज करवाने का फैसला लेती हैं तो आपको कुछ महत्वपूर्ण बातां का ध्यान जरूर रखना चाहिए। इसमें सबसे जरूरी प्वाइंट है उम्र। महिलाओं की फर्टिलिटी यानी बच्चा पैदा करने की क्षमता उम्र के साथ कम होती जाती है और यही कारण है कि एक निश्चित उम्र सीमा के बाद गर्भाशय में बनने वाले अंडों की गुणवत्ता और संख्या में भी काफी कमी आने लगती है। इसका परिणाम ये होता है कि प्राकृतिक तरीके से गर्भधारण करने में समस्या आ सकती है। आपको बताना चाहूंगा कि एग्स की क्वालिटी जितनी बेहतर होगी गर्भधारण करने की संभावना उतना ज्यादा होगी। इसलिए हमारा सुझाव है कि अगर आप अधिक उम्र में मां बनने का प्लान कर रही हैं

  2. एग फ्रीजिंग के लिए अभी तक कोई उम्र सीमा निर्धारित नहीं की गई है लेकिन आप इसको जितनी जल्दी शुरू कर लें उतना ही अच्छा। सामान्यतया महिलाएं 34-35 की उम्र में एग फ्रीजिंग की प्रक्रिया को अपना लेती हैं।

  3. इस तकनीक की मदद के लिए आप किसी भी IVF लैब में संपर्क कर सकती हैं। आईवीएफ लैब में ये अंडे कम से कम पांच साल तक सुरक्षित रह सकते हैं। 

एक और जरूरी जानकारी ये कि यूएससी प्रजनन की एक रिपोर्ट के अनुसार, सामान्य बच्चों की तुलना में एग फ्रीज किए गए अंड़ाणुओं से पैदा हुए 900 से भी अधिक बच्चों में जन्म दोष के कोई खास लक्षण नहीं देखे गए।

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

इस ब्लॉग को पेरेंट्यून विशेषज्ञ पैनल के डॉक्टरों और विशेषज्ञों द्वारा जांचा और सत्यापित किया गया है। हमारे पैनल में निओनेटोलाजिस्ट, गायनोकोलॉजिस्ट, पीडियाट्रिशियन, न्यूट्रिशनिस्ट, चाइल्ड काउंसलर, एजुकेशन एंड लर्निंग एक्सपर्ट, फिजियोथेरेपिस्ट, लर्निंग डिसेबिलिटी एक्सपर्ट और डेवलपमेंटल पीड शामिल हैं।

  • कमेंट
कमैंट्स ()
Kindly Login or Register to post a comment.
+ ब्लॉग लिखें

टॉप गर्भावस्था ब्लॉग

Sadhna Jaiswal

आज के दिन के फीचर्ड कंटेंट

गर्भावस्था

Ask your queries to Doctors & Experts

Download APP
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}