• लॉग इन करें
  • |
  • रजिस्टर
गर्भावस्था

प्रेगनेंसी (गर्भावस्था) में थकान होने के कारण और उपाय

Sadhna Jaiswal
गर्भावस्था

Sadhna Jaiswal के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया May 20, 2020

प्रेगनेंसी गर्भावस्था में थकान होने के कारण और उपाय
विशेषज्ञ पैनल द्वारा सत्यापित

सामान्यतः प्रेगनेंसी में थकान और कमजोरी का होना एक आम बात है। इस दौरान थकान और कमजोरी शुरुआत के कुछ महीनो तक होती है। डॉक्टर्स की माने तो जब आप प्रेग्नेंट होती है तब आपके शरीर में कई तरह के बदलाव हो रहे होते है, जिसकी वजह से आपको अत्यधिक थकान महसूस होती है। इस समय आपके शरीर के प्रत्येक हिस्से में परिवर्तन (changes ) हो रहे होते हैं जिसमे आपके शरीर की उर्जा भारी मात्रा में यूज़ होती है जिसकी वजह से आपको थकान महसूस होती है।

प्रेगनेंसी में थकान कब हो सकता है नुक्सानदेह / Tiredness in pregnancy In Hindi

आपका यह भी जानना जरुरी है कि प्रेगनेंसी में थकान आपके लिए कब नुक्सान देह साबित हो सकती है।

  1. तनाव (Depression) – यदि प्रेगनेंसी के दौरान आप किसी भी वजह से तनाव ले रही है और यह थकान आपके शारीर में डिप्रेशन (Depression) की वजह से हो रहा है तो यह आपके लिए नुकसानदेह साबित हो सकता है। तो यदि कुछ तनाव है तो आपको इसे जल्द से जल्द ठीक कर लेना चाहिए।
     
  2. Anaemia अर्थात खून की कमी – दूसरा जो थकान का सबसे बड़ा कारण हो सकता है अनीमिया (Anaemia) अर्थात शारीर में खून की कमी हो जाना। प्रेगनेंसी के दौरान यह आपके और आपके होने वाले बच्चे के लिए समस्या का कारण बन सकता है, इसका पता लगाने के लिए आपको खून की जाँच करवानी चाहिए। इसके लिए आपको अपने डॉक्टर के पास जाकर नियमित रूप से जाँच करवानी चाहिए।

थकान कब तक बनी रहेगी ?

प्रेगनेंसी के दौरान होने वाली थकान पहली तिमाही से लेकर तीसरी तिमाही तक बनी रह सकती है। वैसे ज्यादातर यह पहली तिमाही तक रहती है। ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि पहली तिमाही में आपका शरीर बच्चे के विकास के लिए बहुत मेहनत करता है, इस समय आपके बच्चे के प्रमुख अंगों का गठन होता है और नालिका, जो की आपके बच्चे की जीवन सहायता प्रणाली है बढ़ रही होती है। आपके हार्मोन के स्तर और चयापचय भी तेजी से बदल रहे होते है, इसलिए इस समय आपके शरीर में बहुत ही थकान रह सकती है।

प्रेग्नेंसी में थकान दूर करने के उपाय / Dealing with fatigue during your pregnancy In Hindi

प्रेगनेंसी में बढती थकान और कमजोरी को दूर किया जा सकता है, तो आइये जानते है कि  आप कैसे इससे बच सकती है और कैसे इसे दूर कर सकती है।

  1. पोष्टिक आहार ले – आपको प्रेगनेंसी के दौरान पोष्टिक आहार यानि (Healthy food) लेना चाहिए। ऐसे आहार जिसमे आयरन प्रोटीन ज्यादा मात्रा में हो लेना चाहिए। जैसे हरी पत्तेदार सब्जियां, दूध तथा दूध से बनी चीजे, दालें, अंडे इत्यादि।
     
  2. अच्छी नींद ले – प्रेगनेंसी के दौरान थकान को दूर करने के लिए आपको अच्छी नींद लेना चाहिए। इस दौरान आपको अपनी थकान दूर करने के लिए आठ से नौ घंटे नींद लेना बहुत ही जरुरी है
     
  3. खूब पानी पियें – प्रेगनेंसी में कमजोरी को दूर करने के लिए आप अपने आपको हाईड्रेडट  (Hydrated) रखे। हाईड्रेडट रखने का मतलब आपको ज्यादा से ज्यादा पानी पीना है आप पानी पियेंगी तो आपकी बॉडी Hydrated रहेगी। आपके शारीर में पानी की कमी नहीं होगी और आपको उर्जा मिलती रहेगी।
     
  4. हल्का व्यायाम करें – आपको थकान से बचने के लिए और खुद का एनर्जी लेवल बनाये रखने के लिए सुबह सुबह हलकी-फुलकी Exercise करना चाहिए इसके लिए आप जोगिंग कर सकती है, Morning walk पर जा सकती है या आप कुछ हल्का फुल्का योगा भी कर सकती है ऐसा करने से भी आपकी थकान दूर होगी।
     
  5. मीठा खाने से बचे – इस समय आपको ज्यादा मीठा खाने से भी बचना चाहिए। मीठे से आपको तुरंत energy तो मिलती है, लेकिन ज्यादा मीठा खाने से यह आपको थकान भी दे सकती है। इसलिए प्रेगनेंसी के दौरान ज्यादा मात्रा में मीठा खाने से बचना चाहिए।
     
  6. खाने की आदत डालें – प्रेगनेंसी के दौरान आपको हमेशा कुछ न कुछ खाने की आदत डाल लेनी चाहिए। इस समय आप हर घंटे कुछ खाएं थोडा ही खाएं मगर बार-बार खाएं और खाने में ज्यादा कार्बोहाइड्रेट और प्रोटीन लें, जिसमे आप ड्राईफ्रूट और फ्रूट खा सकते है। खाने से आपके शारीर में एनर्जी बनी रहेगी। आपको प्रेगनेंसी के दौरान भूख भी काफी अधिक लगती होगी अर्थात प्रेगनेंसी में अधिक मात्रा में एनर्जी की आवश्यकता पड़ती है, यदि आप हर घंटे कुछ खाती रहेंगी तो आपको कमजोरी या थकान नहीं होगी। 

प्रेगनेंसी में थकान और कमजोरी शरीर में पोषक तत्वों की कमी के कारण होता है, जिसे आप ऊपर बताये गए टिप्स को अपनाकर दूर कर सकती है, लेकिन यदि कमजोरी ज्यादा बढ़ रही है तो इसके लिए आप अपने डॉक्टर से जरुर सलाह लें।

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

इस ब्लॉग को पेरेंट्यून विशेषज्ञ पैनल के डॉक्टरों और विशेषज्ञों द्वारा जांचा और सत्यापित किया गया है। हमारे पैनल में निओनेटोलाजिस्ट, गायनोकोलॉजिस्ट, पीडियाट्रिशियन, न्यूट्रिशनिस्ट, चाइल्ड काउंसलर, एजुकेशन एंड लर्निंग एक्सपर्ट, फिजियोथेरेपिस्ट, लर्निंग डिसेबिलिटी एक्सपर्ट और डेवलपमेंटल पीड शामिल हैं।

  • 4
कमैंट्स ()
Kindly Login or Register to post a comment.

| Jun 25, 2019

aahes g vs xvideos very video gef fmdg3h3

  • Reply
  • रिपोर्ट

| Jul 19, 2019

Very nice

  • Reply
  • रिपोर्ट

| Sep 05, 2019

Vry nic

  • Reply
  • रिपोर्ट

| May 06, 2020

  • Reply
  • रिपोर्ट
+ ब्लॉग लिखें

टॉप गर्भावस्था ब्लॉग

Sadhna Jaiswal

आज के दिन के फीचर्ड कंटेंट

गर्भावस्था

Ask your queries to Doctors & Experts

Download APP
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}