• लॉग इन करें
  • |
  • रजिस्टर
गर्भावस्था

गर्भावस्था में तांबे के बर्तन में पानी पीना फायदेमंद

Anandana N
गर्भावस्था

Anandana N के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Jul 26, 2020

गर्भावस्था में तांबे के बर्तन में पानी पीना फायदेमंद
विशेषज्ञ पैनल द्वारा सत्यापित

आयुर्वेद के अनुसार तांबे के बर्तन में पानी पीने से शरीर को काफी फायदा पहुंचता है। इससे शरीर के अंदर मौजूद वात, पित्त और कफ संतुलित होता है और जहरीले पदार्थ भी बाहर निकलते हैं। साइंटिस्टों का कहना है कि जब पानी 8 घंटे से ज्यादा समय के लिए एक ही तांबे के बर्तन में जमा रहता है, तो उस पानी में कुछ मात्रा में भंग मिल जाता है, इस प्रोसेस को ऑलीगोदयनामिक प्रभाव कहा जाता है, इसके विषैले प्रभाव से हानिकारक रोगाणु और अन्य रोगों की जीवित कोशिकाओं की श्रृंखला खत्म होती है। यूं तो तांबे के बर्तन में रखे पानी को पीना सभी के लिए फायदेमंद है, लेकिन गर्भावस्था में अगर महिला तांबे के बर्तन में रखे पानी को पीती है, तो यह उसके और उसके बच्चे के लिए काफी लाभकारी होता है।
 

तांबे के बर्तन में पानी पीने के फायदे / Benefits Of Drinking Water In Copper Utensils In Hindi

  1. बढ़ती है रोग-प्रतिरोधक क्षमता – कॉपर बैक्टीरिया को पनपने नहीं देता, इससे तांबे के बर्तन में रखा पानी विसंक्रमित हो जाता है। इससे गर्भवती महिला की रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।
     
  2. मस्तिष्क का विकास – तांबे के बर्तन में रखे पानी को पीने से गर्भवती के साथ ही पेट में पल रहे शिशु के मस्तिष्क का भी विकास होता है और दिमाग तेज बनता है। इसके अलावा इसका पानी पैरालाइसिस होने से भी बचाता है।
     
  3. सूजन से मिलती है राहत – कई गर्भवती महिलाओं के पैर में सुबह-शाम दर्द, सूजन और भारीपन हो जाता है, ऐसी स्थिति में तांबे के बर्तन में रखा पानी पीने से गर्भवती महिलाओं को काफी फायदा पहुंचता है और ये दिक्कतें प्राय दूर हो जाती हैं। इसके अलावा तांबे में रखे पानी को पीने से अर्थराइटिस व जोड़ों के दर्द में भी काफी राहत मिलती है।
     
  4. बढ़ाता है खून – तांबे के बर्तन में पानी पीने से गर्भ में पलने वाले शिशु के हृदय, हृदय कोशिकाओं, रीढ़ की हड्डियों का विकास तेजी से होता है। इसके अलावा यह आपके शरीर में आयरन ऑब्जर्व करने की क्षमता को बढ़ाता है जिससे आप खून की कमी से बचते हैं।
     
  5. बच्चे को मिलता है पोषण - तांबे में रखा पानी न्यूरोंस का स्वस्थ विकास कर उनको नुकसान पहुंचाता है। इसके अलावा यह रेड ब्लड सेल की संख्या भी बढ़ाता है, जिससे बच्चे को सही पोषण मिलता है।
     
  6. पेट की दिक्कत होती है दूर – तांबे में रखा पानी पीने से गर्भावस्था के दौरान होने वाली सभी पेट संबंधी समस्याएं खत्म हो जाती हैं।
     
  7. थाइरॉइड से बचाता है – इस बर्तन में रखा पानी थॉइराइड जैसी गंभीर बीमारी से बचाता है। इसके साथ ही 

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

इस ब्लॉग को पेरेंट्यून विशेषज्ञ पैनल के डॉक्टरों और विशेषज्ञों द्वारा जांचा और सत्यापित किया गया है। हमारे पैनल में निओनेटोलाजिस्ट, गायनोकोलॉजिस्ट, पीडियाट्रिशियन, न्यूट्रिशनिस्ट, चाइल्ड काउंसलर, एजुकेशन एंड लर्निंग एक्सपर्ट, फिजियोथेरेपिस्ट, लर्निंग डिसेबिलिटी एक्सपर्ट और डेवलपमेंटल पीड शामिल हैं।

  • 6
कमैंट्स ()
Kindly Login or Register to post a comment.

| Dec 16, 2018

please review point no. 5

  • Reply
  • रिपोर्ट

| Oct 28, 2019

Bhut hi achi bat khi tq

  • Reply
  • रिपोर्ट

| Nov 10, 2019

Sahi hai

  • Reply
  • रिपोर्ट

| May 11, 2020

Good jankari

  • Reply
  • रिपोर्ट

| Jul 09, 2020

  • Reply
  • रिपोर्ट

| Jul 26, 2020

Tambe ka bartan na ho to purane tambe sikko ko b pani daal kar pani piya ja sakta hai..

  • Reply
  • रिपोर्ट
+ ब्लॉग लिखें

टॉप गर्भावस्था ब्लॉग

Sadhna Jaiswal

आज के दिन के फीचर्ड कंटेंट

गर्भावस्था

Ask your queries to Doctors & Experts

Download APP
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}