• लॉग इन करें
  • |
  • रजिस्टर
बाहरी गतिविधियाँ खाना और पोषण

गर्मी में है नींबू के है अनेको लाभ! इसे पढ़ें

Sadhna Jaiswal
3 से 7 वर्ष

Sadhna Jaiswal के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Apr 16, 2020

गर्मी में है नींबू के है अनेको लाभ इसे पढ़ें
विशेषज्ञ पैनल द्वारा सत्यापित

नींबू में कई पोषक पदार्थ जैसे कैल्शियम, पोटैशियम, मैग्नीशियम, आयरन और विटामिन ए, सी और बी-कॉम्प्लेक्स होने के साथ-साथ पेक्टिन फाइबर, प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट्स भी होते हैं। साथ ही नींबू में साइट्रिक एसिड और एंटीबैक्टीरियल, एंटीवायरल और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाली प्रॉपर्टीज भी होती हैं।बड़ो के लिए तो निम्बू फायदेमंद होता ही है, साथ ही गर्मियों में मौसम में बच्चो के लिए भी इसके अनेको लाभ है। 

जानिए नींबू के हैं क्या फायदे  


बच्चो की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है -- नींबू पानी में अत्यधिक विटामिन सी होने के कारण यह शरीर कि रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है और सर्दी और फ्लू जैसी समस्यायों से लड़ने में मदद करता है।साथ ही, यह शरीर कि आयरन सोखने कि क्षमता को भी बढ़ाता है। आयरन प्रतिरोधक प्रणाली के लिए एक जरूरी पदार्थ होता है
 

साँस फुलाना बंद करता है -- अगर बच्चो को सास फूलने की समस्या है तो, उन्हें निम्बू के रस में शाहद मिलाकर चटाने से साँस का फूलना बंद हो जाता है
 

 बच्चो के शरीर में ऊर्जा बढ़ाता है -- नींबू में मौजूद पौष्टिक तत्व जैसे विटामिन बी और सी, फॉस्फोरस, प्रोटीन और कार्बोहायड्रेट प्राकृतिक ऊर्जा  के सोत्र होते हैं जो शरीर कि ऊर्जा को बढ़ाते हैं। यह शरीर को हाइड्रेटेड और ऑक्सीजन से भरपूर रखते हैं जिससे हमें अत्यधिक ऊर्जा, ताजा और पुनर्जीवन का अनुभव होता है।साथ ही, नींबू में नेगेटिव चार्ज आयन होते हैं जो पाचन तंत्र में पहुँचते ही इंस्टेंट एनर्जी प्रदान करते हैं। इसके आलावा नींबू कि खुशबू में  मूड एन्हंसिंग और एनर्जी वाली विशेषताए होती हैं।
 

नाक से खून आने पर -- गर्मी में मौसम में अक्सर बच्चो के नाक से कहने आने की समस्या हो जाती है |नाक से खून आने पर नथुनों में २-२ बूंद निम्बू का रस टपकाने से खून का गिरना बंद हो जाता है
 

गले के संक्रमण को ठीक करता है -- नींबू पानी में एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टीज होती हैं जो गले के इन्फेक्शन, गले की खराश औरटोंसिल को ठीक करती हैं। इसलिए जो लोग रोज सुबह इसका सेवन करते हैं उन्हें गले में किसी भी प्रकार के इन्फेक्शन होने कि सम्भावना कम होती है। यहाँ तक कि यह अस्थमा होने से भी बचाता है।
 

किडनी और मूत्राशय को साफ रखता है-- नींबू पानी मूत्रवधक की तरह काम करता है, मूत्राशय के मार्ग को साफ करता है और यूरिन के प्रोडक्शन को बढ़ावा देता है। साथ ही, यह यूरिनरी ट्रैक्ट के पि एच लेवल को भी ठीक रखता है और हार्मफुल बैक्टीरिया को पनपने से रोकता है।इसमें मौजूद साइट्रिक एसिड गंदगी निकलने की प्रकिया को बढ़ाती है।
 

सांस कि बदबू को ठीक करता है और तरोताजा रखता है -- नींबू का एसिडिक नेचर और शहद और पानी की मेडिकल प्रॉपर्टीज मुंह और सांसों कि बदबू को दूर करने में मदद करती हैं। नींबू पानी मुंह को साफ करता है और लार के प्रोडक्शन को बढ़ा देता है जिससे बदबू पैदा करने वाले बैक्टीरिया मर जाते हैं।यह जीभ पर मौजूद सफेद परत को हटाने में भी मदद करता है। इस सफेद परत में बदबू पैदा करने वाले सड़े भोजन के कण और बैक्टीरिया मौजूद होते हैं|

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

इस ब्लॉग को पेरेंट्यून विशेषज्ञ पैनल के डॉक्टरों और विशेषज्ञों द्वारा जांचा और सत्यापित किया गया है। हमारे पैनल में निओनेटोलाजिस्ट, गायनोकोलॉजिस्ट, पीडियाट्रिशियन, न्यूट्रिशनिस्ट, चाइल्ड काउंसलर, एजुकेशन एंड लर्निंग एक्सपर्ट, फिजियोथेरेपिस्ट, लर्निंग डिसेबिलिटी एक्सपर्ट और डेवलपमेंटल पीड शामिल हैं।

  • कमेंट
कमैंट्स ()
Kindly Login or Register to post a comment.
+ ब्लॉग लिखें
Sadhna Jaiswal

आज के दिन के फीचर्ड कंटेंट

गर्भावस्था

Ask your queries to Doctors & Experts

Download APP
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}