• लॉग इन करें
  • |
  • रजिस्टर
पेरेंटिंग शिशु की देख - रेख स्वास्थ्य खाना और पोषण

कितना घी उचित है आपके बच्चे के लिए गर्मियों में ?

Parentune Support
1 से 3 वर्ष

Parentune Support के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Apr 26, 2020

कितना घी उचित है आपके बच्चे के लिए गर्मियों में
विशेषज्ञ पैनल द्वारा सत्यापित

घी के अनेको फायदे है , घी का सेवन करने से शरीर में ऊर्जा आती है, जो शुरूआत के दौरान बच्चे के विकास और वृद्धि के लिए सहायक है। जब बच्चा एक साल का होता है तो उसका वजन उसके जन्म के समय के वजन से तीन गुना अधिक बढ़ जाता है।बच्चे की शुरूआती अवस्था में वृद्धि की दर बहुत अधिक होती है और बच्चे के शरीर को अधिक कैलोरीज की आवश्यकता होती है। 1 ग्राम घी में 9 कैलोरीज होती हैं। इस लिए बच्चे के भोजन में घी डालने से उसके आहार में कैलोरी की मात्रा बढ़ जाती है तथा इससे बच्चा एक्टिव रहता है। घी ऐसा आहार है, जो बच्चों को आसानी से पच जाता है और बच्चे के मस्तिष्क का विकास करता है। पर इस गर्मी में अपने को कितना घी खाने को दे की उनका स्वास्थ्य सही रहे |

बच्चे को गर्मी में कितनी मात्रा में घी दें/ How Much Ghee to Children in Hindi 

बच्चे को लगने वाली घी की मात्रा उसकी आयु और वजन पर निर्भर करती है। यदि आपके बच्चे का वजन आवश्यकता से कम है तो उसे कुछ अधिक मात्रा में घी की आवश्यकता होगी। यदि आपके बच्चे का वजन आवश्यकता से अधिक है तो उसे कम घी की आवश्यकता होती है।घी की अधिकतम एक दिन की खपत  7 से 10 ग्राम (2 छोटा चमच)से अधिक नही होनी चाहिए।

बच्चो को घी देने के फायदे/ Benefits of Ghee for Child in Hindi

एक साल से कम उम्र  के बच्चे को किसी दाल में या सूप में देना शुरू करेंगें तो आपका बच्चा दौगुनी तेजी से विकास करेगा। उसकी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ जाती है जिससे वह कई बीमारियों से बचा रहता है। बच्चे को यदि देसी घी किसी न किसी चीज में डालकर खिलाया जाए तो बच्चे को कभी भी कब्ज की शिकायत नहीं होती। घी का सेवन करने से शरीर में ऊर्जा आती है, जो शुरूआत के दौरान बच्चे के विकास और वृद्धि के लिए सहायक है | [जानें - क्या हैं 6 महीने के बच्चे को घी खिलाने के लाभ ?]

घी का सेवन कैसे कराये ?/ How to Serve Ghee to Child in Hindi

जिन बच्चो का वजन सामान्य है, उन्हें एक चम्मच तेल या मखन के बजाय एक चमच घी भोजन में देना चाहिए। भोजन लेते समय पहले ठोस खाना खिलाये फिर  नरम पदार्थ और अंत में दही  |  सबहु आधा चमच घी नाशते में शामिल कर अपने बच्चे के दिन की  अच्छी शुरुआत कर सकते है । उनके दाल और चावल में आप एक छोटा चमच घी शामिल कर सकते है । दाल में घी डालकर खिलाने से बच्चे के पेट में गैस नहीं बनती |चपाती या पराठे पर घी डालकर खिला सकती है ।इसे दलीये में मिलाया जा सकता है और पॉपकॉन में डालकर दिया जा सकता है।

अधिक घी खाने पर क्या करे / What If Eaten Ghee Enough in Hindi  

अगर आपको लगता है की आपने बच्चे को अधिक घी खिलाया है, तो तब तक खाना ना खिलाये जब तक घी पूरी तरह से पच ना जाए। हर आधे घंटे में गर्म पिलाये। जब वो भूख  महससू करने लगे , तो गर्म  तरल खादय पदार्थ  खाने को दे जैसे की वेज सूप |

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

इस ब्लॉग को पेरेंट्यून विशेषज्ञ पैनल के डॉक्टरों और विशेषज्ञों द्वारा जांचा और सत्यापित किया गया है। हमारे पैनल में निओनेटोलाजिस्ट, गायनोकोलॉजिस्ट, पीडियाट्रिशियन, न्यूट्रिशनिस्ट, चाइल्ड काउंसलर, एजुकेशन एंड लर्निंग एक्सपर्ट, फिजियोथेरेपिस्ट, लर्निंग डिसेबिलिटी एक्सपर्ट और डेवलपमेंटल पीड शामिल हैं।

  • 4
कमैंट्स ()
Kindly Login or Register to post a comment.

| Jun 20, 2019

garmi me ashar hota he ki nahi

  • Reply
  • रिपोर्ट

| Aug 02, 2019

mere bete ki tatti theek nhi hoti kya khilaau theek ho

  • Reply
  • रिपोर्ट

| Aug 02, 2019

garmi ho ya sardi dono

  • Reply
  • रिपोर्ट

| Aug 01, 2020

  • Reply
  • रिपोर्ट
+ ब्लॉग लिखें
Sadhna Jaiswal

आज के दिन के फीचर्ड कंटेंट

गर्भावस्था

Ask your queries to Doctors & Experts

Download APP
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}