• लॉग इन करें
  • |
  • रजिस्टर
खाना और पोषण

आपके बच्चे को क्या खिलाना चाहिए और क्या नहीं

Supriya Jaiswal
1 से 3 वर्ष

Supriya Jaiswal के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Dec 31, 2019

आपके बच्चे को क्या खिलाना चाहिए और क्या नहीं

खाना बनाना और अच्छा खाना खाना मेरी हॉबी है। खाने को लेकर मैं किसी प्रकार का समझौता कर ही नहीं सकती। ग्रीन टी, सूखे मेवे, ऑर्गेनिक ताजे फल, हरी सब्जियां, केमिकल रहित गुड़, घी, दूध एवं अन्य फूड आइटम्स की क्वालिटी का पूरा ध्यान रखती हूं। मेरे  किचन में शुद्ध देसी घी व सरसों का तेल का ही प्रयोग किया जाता है। रसु, मेरी 4 साल की बेटी है, उसका ख्याल रखना मेरी सबसे बड़ी प्राथमिकता है। सब कुछ अच्छा चल रहा था, लेकिन पिछले कुछ दिनों से मैंने नोटिस किया कि मेरी बेटी रसु कुछ देर में ही थक जाती है और पहले की तरह एक्टिव नजर नहीं आ रही है। मेरे पड़ोस में रहने वाली पूनम भाभी ने बताया कि ये जानना बहुत महत्वपूर्ण है कि आपको अपने अपने बच्चे को क्या खिलाना चाहिए और क्या नहीं।

2-5 साल की उम्र के बच्चों को क्या खिलाना चाहिए?

सबसे पहले तो आप को ये जानना चाहिए कि आपके बच्चे के विकास के लिए किस प्रकार के पोषक तत्वों की आवश्यकता है और इन पोषक तत्वों के मुख्स स्रोत क्या हैं।

  1. आप ये जरूर सुनिश्चित करें कि बच्चे के खाने में प्रोटीन की प्रचुरता रहे। प्रोटीन बढ़ते बच्चे को ऊर्जा प्रदान करते हैं, नए सेल्स (Cells)  का निर्माण करते हैं।   
     
  2. भारतीयों के आहार में आमतौर पर कार्बोहाइड्रेट्स (चावल, रोटी) ज्यादा होते हैं और  प्रोटीन की कमी होती है यानी कि ज्यादातर बच्चे उतना प्रोटीन नहीं ले पाते हैं जितने की उनको जरूरत होती है। इसलिए ये बहुत जरूरी है कि आप  अपने बच्चे के खाने में प्रोटीनयुक्त आहार ( दाल, अंडा, मछली) की मात्रा ज्यादा रखें और चावल-रोटी की कम। आप अपने बच्चे को सब्जियां ज्यादा खिलाएं।
     
  3. प्रोटीन की जरूरत को पूरा करने के लिए आप अपने घर के फूड कल्चर के मुताबिक अरहर, मूंग, मसूर, चना व उड़द की दाल, हरी सब्जियां, राजमा, लोबिया, पनीर, दही, सोयाबीन, अंडा, मछली, चिकन, मटन इत्यादि को अपने बच्चे के आहार में जरूर शामिल करें।
     
  4. बच्चों के इम्यून सिस्टम को मजबूत रखने, शरीर की  डाइजेस्टिव सिस्टम  को सही रखने में विटामिन ए, विटामिन बी, विटामिन सी, विटामिन ई व विटामिन के का महत्वपूर्ण योगदान होता है। गाजर, शकरकंद, हरी सब्जियां,, अंकुरित अनाज, टमाटर, अखरोट, मेथी, सरसो का साग, नींबू, संतरा, पपीता,केला, डेयरी प्रोडक्ट विटामिन्स के मुख्य स्रोत हैं।
     
  5. बच्चे के शारीरिक विकास में आयरन अत्यधिक महत्वपूर्ण है क्योंकि आयरन पूरे शरीर में ऑक्सीजन पहुंचाता है और हीमोग्लोबिन के स्तर को नियंत्रित रखने में मददगार होता है।
     
  6. आपके बच्चे के विकास और वृद्धि में आयरन की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। आयरन शरीर में रेड ब्लड सेल्स के बनने में मदद करता है और शरीर में ऑक्सीजन की आपूर्ति  करने में मददगार होता है। आयरन के मुख्य स्रोत चुकंदर, पालक, किशमिश, अनार, अमरूद, केला, बीन्स, मीट, चिकन, अंडे का पीला भाग होते हैं।
     
  7. बच्चे के शरीर की हड्डियों और दांतों के विकास के लिए कैल्शियम बहुत जरूरी होता है। कैल्शियम के मुख्य स्रोत हैं, दूध व दूध से बने सभी पदार्थ जैसे कि दही छाछ, मक्खन, पनीर, घी के अलावा सूखे मेवे।

मेरी बेटी रसु प्री स्कूल जाती है तो उसके रूटीन के मुताबिक मैंने तय किया कि सुबह के नाश्ते से लेकर रात के खाना में अलग-अलग प्रकार के फूड आइटम्स सर्व करूं ताकि उसकी जरूरतों के मुताबिक पोषक तत्व मिल सके। लेकिन इसके साथ ही मेरे सामने एक और चुनौती थी की मैं हर रोज उसे न्यूट्रीशन से भरपूर खाना उसको कैसे दूं। इसके बारे में जब मैंने पूनम भाभी से बात की तो उन्होंने मुझे एक बेहतर विकल्प सुझाया। उन्होंने कहा कि एक कटोरी सेरेग्रो  में 15 तरह के विटामिंस व मिनरल्स, आयरन, कैल्शियम और प्रोटीन जैसे पोषक तत्व होते है। सेरेग्रो को बनाना भी बहुत आसान है और ये मात्र 7-8 मिनट में खाने के लिए रेडी कर सकते हैं। मेरी बेटी को इसका टेस्ट भी बहुत यम्मी लगा। अब मैं नियमित रूप से रसू को एक कटोरी सेरेग्रो देती हूं।

आप अपने बच्चे को क्या नहीं खिलाएं?

  • बाजार में मिलने वाले बहुत सारे खाद्य पदार्थ बच्चों को आकर्षित करते हैं  लेकिन इनमें ऐडेड शुगर की मात्रा हो सकती है और ये नुकसानदेह हो सकता है। इनमें न्यूट्रीशन की मात्रा बहुत कम या नहीं के बराबर होती है जैसे कि प्रिजर्व्ड फूड, कैंडी, चॉकलेट्स, पैक्ड जूस, कोल्ड ड्रिंक्स, चिप्स

  • आप अपने बच्चे को चाय-कॉफी देने से भी बचें

  • रोज-रोज एक ही तरह का खाना ना दें बल्कि वैराइटी मेंटेन करे

  • एक ही बार में बड़ों के जितना ज्यादा खाना देने से बेहतर है कि आप बच्चे को थोड़ी मात्रा में ही सही लेकिन तय अंतराल पर खिलाते रहें

मैंने इन तमाम उपायों को आजमाया है और उनके सकारात्मक परिणाम भी मुझे मिले हैं। ये तो मैंने आपके संग अपना अनुभव साझा किया है, अगर आपके पास भी कुछ अच्छे टिप्स हों तो जरूर कमेंट करें।

Disclaimer-  This Blog is supported by Nestle Ceregrow. A child needs more nutrition than an adult. Each bowl of Ceregrow contains the goodness of grains, milk & fruits and makes up for the lack of sufficient nutrition.

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

  • 2
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.

| Jan 10, 2020

Hi Prachi! aap baby ko dal ka pani, apple puree, pears puree, mashed boiled potato, mashed boiled sweet potato de skati hai , Dheere dheere aap baby ko daliya, kichdi,suji ki kheer, ragi ki porridge bhi dena suru kar sakti hai.

  • रिपोर्ट

| Jan 09, 2020

7 month ke bacche ko khane m kya Dena chaiye

  • रिपोर्ट
+ ब्लॉग लिखें

Always looking for healthy meal ideas for your child?

Get meal plans
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}