• लॉग इन करें
  • |
  • रजिस्टर
पेरेंटिंग शिक्षण और प्रशिक्षण बाल मनोविज्ञान और व्यवहार

बच्चों के अनोखे सवालों का आप किस तरीके से देते हैं जवाब?

Maneesha Pandey Gautam
7 से 11 वर्ष

Maneesha Pandey Gautam के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Jun 21, 2020

बच्चों के अनोखे सवालों का आप किस तरीके से देते हैं जवाब
विशेषज्ञ पैनल द्वारा सत्यापित

बच्चों के मन में अजब-गजब टाइप के सवाल आते हैं और ये अच्छी बात भी है क्योंकि इससे पता चलता है कि आपका बच्चा कितने जिज्ञासु प्रवृत्ति का है। कुछ पैरेंट्स तो अपने बच्चे के सवालों को टाल देते हैं लेकिन ये सही बात नहीं है। आज मैं आप लोगों से अपने अनुभवों को साझा कर रही हैं कि मैं किन तरीकों से बच्चे के अनोखे सवालों का जवाब देती हूं। बढ़ती उम्र, बढ़ते सवाल, आडे़,तिरछे अजीब से सवाल, ऐसे सवाल कि जिनका हल ढूंढने में किताबें कम पड़ जाए, ऐसे ऐसे सवाल कि गूगल भी फेल हो जाए, ऐसे है अबूझ से नन्हे बच्चों के सवाल। मेरी नौ साल की बेटी अनुष्का रोज एक नयी पेशकश मुझे देती है।  

कभी कोई नई पहेली, कभी कोई नयी जुगलबंदी, जैसे बाहूबली की धुन के साथ पढ़िएगा. ऐसा है चटनी सा, इड़ली संभार करी पत्ता, बहुबली वर्सस कट्पपा फाईटिंग इन कोलकाता पर ये सब तक तो ठीक है पर जब सवाल आते है तो उनके जवाब देने में तो नानी याद आ जाती है, एक बार मुझसे पूछा था मम्मा बेबी कैसे आता है ? बेटा मम्मा के पेट में एक seed (बीज ) होता है जैसे आपने बीज लगाया था न वैसे ही, जब मम्मा खाना खाती है,पानी पीती है तो उस बीज को खाना मिलता है जैसे बीज बढ़ता है. मम्मा मोटी हो जाती है फिर डॉक्टर पेट से बीज से बने बेबी को, जैसे छोटा सा पौधा होता है वैसे ही बाहर निकाल देते है. जवाब मिला था इसलिए बेबी हॉस्पिटल से आते है।

 कल की ही बात को ले लीजिए। हम एक नवजात बच्चे से मिल कर आये, घर आने के बाद बहुत देर तक शांति रही. मैं समझ रही थी ये भूचाल वाले सवाल के पहले वाली शांति है और हुआ भी वही अनुष्का ने कहा.. मम्मा एक सवाल पुछना है। मन में सोचा कौन सा नही बोलने पर नही पूछोगी, मैंने कहा यस । मम्मा ये मम्मा ही क्यों होती है? मतलब मुझे कुछ समझ नही आया. मीन्स मम्मा, पापा मम्मा क्यों नही होते?? मैंने कहा," होते है वो भी केयर करते है। बच्चों को खाना खिलाते हैं। वो तो कन्फ्यूजन ना हो इसलिए एक को पापा और दूसरे को मम्मा कहते है, जैसे आपको अनुष्का और आपकी सिस्टर को आराध्या कहते है। वो मैं जानती हूँ ममा, बट यू डिड नॉट अंडरस्टैंड माई क्वेश्चन। मैंने कहा," जी आप ही समझा दीजिए अनुष्का जी." देखो वो आंटी के पेट में बेबी था,  फिर वो बेबी बाहर आया तो वो आंटी मम्मा बन गया, आराध्या भी आपके पेट में थी ,आराध्या पापा के पेट में क्यूँ नही थी? सोचा क्या जवाब दूं फिर आपको बीज वाली बात बताई थी ना कि एक बेबी बीज के रुप में मम्मा के टमी में होता है। यस, अनुष्का ने अपनी नीली सी आँखों को बड़ा करके,आधे दूध के गये दांतों और बचे हुए दाँतो की स्माईल के साथ उत्सुकता से कहा, तो आप बताओ बीज को कहाँ लगाते हो? मिट्टी में,जमीन पे, हां बस मम्मा एक जमीन है और वही बीज को अपने पास रख सकती है और पापा एक आसमान, जो उस बीज को अपनी छांव देते है धूप देते है,पानी देते है। समझ आया.. यस समझ आ गया कि पापा मम्मी क्यों नही होते? 

क्यों जरूरी होता है बच्चे के सवालों का जवाब देना? why It Is Important To Answer The Children's Questions As Accurately As Possible In Hindi

बच्चे का बचपना सुरक्षित रहे, इसके लिए जरूरी है कि आप उसके हर छोटे-बड़े, मासूम, गंभीर और अजीब से सवालों का उसकी समझ, समझ सके ऐसा जवाब दे, सवालों को नजरंदाज न करें।  बच्चा अपने हर सवाल के लिए सबसे पहले आप पर ही भरोसा करता है, जो आप बताएगें उसी वही सच लगेगा , इसलिए उसके परेशानी को दूर करे नही फिर वो इनके जवाब अपने हमउम्र मित्रों से तलाशने की कोशिश करेगा जिन्हे खुद भी कुछ सही नही पता या फिर किसी अनजान से जो उसे गलत तरीके से जवाब दे। आप उसे गलत नजरिए को अपनाने और गलत सोच के साथ बड़ा होने से बचा सकें इसलिए हर सवाल का जवाब दिजिए। आपके बच्चे आपसे क्या सवाल पूछते है और आप क्या जवाब देते है जरुर बताएं. हो सकता है आपका दृष्टिकोण किसी और पेरेंट्स की मदद करे।

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

इस ब्लॉग को पेरेंट्यून विशेषज्ञ पैनल के डॉक्टरों और विशेषज्ञों द्वारा जांचा और सत्यापित किया गया है। हमारे पैनल में निओनेटोलाजिस्ट, गायनोकोलॉजिस्ट, पीडियाट्रिशियन, न्यूट्रिशनिस्ट, चाइल्ड काउंसलर, एजुकेशन एंड लर्निंग एक्सपर्ट, फिजियोथेरेपिस्ट, लर्निंग डिसेबिलिटी एक्सपर्ट और डेवलपमेंटल पीड शामिल हैं।

  • 1
कमैंट्स ()
Kindly Login or Register to post a comment.

| Dec 13, 2018

वाह.. बहुत ही अच्छा ब्लॉग। बच्चे के सवालों का जवाब देना वाकई में मुश्किल लगता है लेकिन आपने अच्छे से समझाया कि किन तरीकों से हम बच्चे के सवालों का जवाब दे सकते हैं।

  • Reply
  • रिपोर्ट
+ ब्लॉग लिखें
Sadhna Jaiswal

आज के दिन के फीचर्ड कंटेंट

गर्भावस्था

Ask your queries to Doctors & Experts

Download APP
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}