• लॉग इन करें
  • |
  • रजिस्टर
पेरेंटिंग होब्बीस शिशु की देख - रेख स्वास्थ्य खाना और पोषण गर्भावस्था

अगर बच्चा बहुत रोता है तो L.reuteri प्रोबायोटिक्स की मदद से इसे कम कर सकते हैं

Dr Shipra Mathur
गर्भावस्था

Dr Shipra Mathur के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Apr 19, 2019

अगर बच्चा बहुत रोता है तो Lreuteri प्रोबायोटिक्स की मदद से इसे कम कर सकते हैं

बच्चों का रोना सामान्य बात है, लेकिन जब वे लगातार रोते रहें तो यह चिंता का विषय है। कई बार बच्चा 2-2 घंटे तक लगातार रोता है। यह समस्या देर रात हो तो पैरेंट्स की समस्या और बढ़ जाती है। तमाम कोशिशों के बाद भी अगर बच्चा चुप ना हो तो वह इसकी वजह को लेकर अंदाजा लगाने लगते हैं और काफी परेशान हो जाते हैं। दरअसल इसका कारण बच्चे में बालोचित उदरशूल यानी पेट दर्द  (Infantile Colic) है। इस वजह से बच्चा बहुत तेज व अधिक रोता है। कई बार वे अचानक चुप हो जाते हैं। कोलिक में माना जाता है कि बच्चा एक दिन में तीन घंटे से अधिक, एक हफ्ते में तीन दिन से अधिक व तीन हफ्ते से अधिक रोता है।  अगर आप भी छोटे बच्चे की मां हैं और इसी तरह के हालात का सामना कर रहीं हैं, तो यह ब्लॉग आपके लिए खास है। यहां हम आपको बताएंगे आखिर क्या है इसकी वजह और कैसे उसे प्रोबायोटिक तरीके से शांत किया जा सकता है।

 

क्या हैं इनफेन्टाइल कोलिक के लक्षण ?

यह समस्या 2 हफ्ते के बच्चे से लेकर 4 महीने तक के बच्चे में आम है। मैं आपको कोलिक से संबंधित एक बेहद जरूरी बात बतना चाहती हूं, होता ये है कि जब  कभी बच्चे के पेट में दर्द होता है या वे असहज महसूस करते है तो अक्सर लोग मान लेते हैं कि ऐसा गैस की समस्या के चलते हो रहा है। कोलिक की वजह से बच्चा ठीक से न तो सोता है और न ही ठीक से दूध पीता है। इससे पीड़ित बच्चे लगातार अपनी मुट्ठी को जकड़ते हैं, पीठ को उठाते हैं, उनका चेहरा लाल व उत्तेजित लगता है।

इनफेन्टाइल कोलिक के कारण

इसका सही कारण अभी तक साफ नहीं हो सका है, लेकिन माना जाता है कि पेट दर्द बच्चे की आंत (पेट) में बैक्टीरिया के असंतुलन की वजह से होता है। विशेषज्ञों के अनुसार बच्चे की आंत ब्रेस्ट मिल्क और फार्मूला मिल्क के कुछ पदार्थों के लिए बहुत ही सेंसेटिव है। वह कहते हैं कि मानव आंत में प्राकृतिक रूप से स्वस्थ बैक्टीरिया की संख्या अधिक होती है, जो पाचन में मदद करते हैं। पर शिशुओं का पाचन तंत्र परिपक्व नहीं होता और संभवतः उनमें गैस बनाने वाले बैक्टीरिया अधिक होते हैं। इन सब वजहों से यह दिक्कत ज्यादा होती है। हालांकि यह न तो कोई बीमारी है और न ही कोई अनुवांशिक लक्षण। यह दिक्कत दोनों जेंडर के बच्चों को हो सकती है। कोलिक मां का दूध पीने वाले व बोतल बंद दूध पीने वाले बच्चों में से किसी को भी हो सकता है।

इन बातों का रखें ध्यान

  • अपने बच्चे को गुनगुने पानी से ही नहलाएं

  • कभी भी दूध पिलाने के बाद बच्चे को डकार जरूर दिलवाएं।

  • रोते हुए बच्चे को शांत कराने का सबसे अच्छा तरीका प्यार और दुलार से पुचकारना ही है। इसका ध्यान जरूर रखें।  

  • अपने लाडले या लाडली की पीठ, कंधे और पैरों की मालिश हल्के-हल्के हाथों से करें।

  • सबसे अहम बात ये कि कोलिक से प्राय सभी बच्चों को गुजरना पड़ता है, ऐसे में बहुत ज्यादा चिंता करने की जरूरत नहीं है। अगर बच्चे को ज्यादा दिक्कत है तो फौरन डॉक्टर को दिखाएं।

कोलिक के लिए एल. रीयूटेरी (L.Reuteri) है काफी उपयोगी

एक्सपर्ट के अनुसार, बच्चों के कोलिक को खत्म करने व उसे रोकने में एल. रीयूटेरी (L.Reuteri) काफी मददगार साबित हुआ है। लिहाजा इससे रोने का समय भी कम हो जाता है। हाल ही में पेट के दर्द (कोलिक) के लिए प्रोबायोटिक्स के उपयोग पर बहुत अधिक शोध भी हुए हैं।

क्या है एल. रीयूटेरी (L.Reuteri)

Lactobacillus reuteri (L. reuteri)  एक प्रोबायोटिक है, जो आंतों से संबंधित संक्रमणों की गंभीरता को रोकता है या आंतों में उत्पन्न होकर प्रतिरक्षा प्रणाली को नियंत्रित करता है। एल. रीयूटेरी (L.Reuteri) बैक्टीरिया मुंह और पेट में रहता है। यह शिशुओं और बच्चों में कई स्वास्थ्य समस्याओं को रोकने में मदद करता है। इसका सबसे महत्वपूर्ण लाभ यह है कि यह शिशुओं के पेट दर्द (कोलिक) को रोकने में प्रभावी है।

इन स्वस्थ बैक्टीरिया द्वारा आंत को नियंत्रित करने से गैस बनाने वाले बैक्टीरिया की सघनता को कम करने में मदद मिलती है। इससे पेट की परेशानी और पेट दर्द से राहत मिलती है। ऐसा ही एक प्रोबायोटिक है, लैक्टोबैसिलस रीयूटेरी (L. reuteri), जो ब्रेस्ट मिल्क में भी स्वाभाविक रूप से मौजूद होता है। यह मुख्य रूप से स्तनपान करने वाले शिशुओं में कोलिक के इलाज में लाभकारी पाया गया है।

रिसर्च में यह बात सामने आई है कि अगर कोलिक से पीड़ित बच्चों को अच्छे बैक्टीरिया का पूरक, खासकर स्ट्रेन लैक्टोबैसिलस रीयूटेरी (L. reuteri) दिया जाता है, तो यह उनके रोने के समय को काफी कम कर देता है।

2012 में द जर्नल ऑफ पीडियाट्रिक्स में प्रस्तुत जे फेम प्रैक्ट के 2011 के शोध निष्कर्ष के अनुसार एल. रीयूटेरी (L.Reuteri) स्तनपान करने वाले शिशुओं में रोने के समय को 50 प्रतिशत तक कम कर सकता है। शोधकर्ताओं का मानना है कि व्यस्कों में प्रोबायोटिक्स आंतों की कार्यक्षमता में सुधार, प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने और जलन व सूजन को कम करता है। यह शिशुओं के लिए भी इसी तरह कारगर हो सकता है।   

यद्दपि एल. रीयूटेरी (L.Reuteri) स्तनपान करने वाले शिशुओं के लिए फायदेमंद साबित हुआ है। ऐसे में ब्रेस्ट मिल्क की अनुपस्थिति में आप अपने डॉक्टर से एल. रीयूटेरी (L.Reuteri) प्रोबायोटिक के साथ किसी भी बेहतर विकल्प की सिफारिश के लिए बात कर सकती हैं।

अतः तमाम अध्यनों से हमें यह पता चलता है कि प्रोबायोटिक्स के माध्यम से बच्चों में पेट दर्द (कोलिक) को रोका जा सकता है। हालांकि किसी भी तरह की चीजों का इस्तेमाल करने से पहले अपने बच्चे के डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

 

Disclaimer-L.reuteri (Lactobacillus reuteri) is a healthy probiotic culture naturally occurring in breast milk, which has been found to be especially effective in reducing crying and colic. Talk to your child specialist/ doctor to know more about the right milk with L.reuteri.

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

  • 3
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.

| Apr 30, 2019

8jsjdurhdyhsmsjans s v jhjhhhjjisioslappskwkwkwkwkm zmsla wo0wjkjj saowow wisps were you 🤔 iiakakskfhhfyf6y/ffffusudydtdttdtduisksisieir7eueiiuftCNN fgfthfggjiuiiruruejw! b bnbbdjkeisalkwma.. amamamaoaiwms8aia

  • रिपोर्ट

| Apr 26, 2019

e

  • रिपोर्ट

| Apr 23, 2019

I'm in.. m near

  • रिपोर्ट
+ ब्लॉग लिखें
टॉप पेरेंटिंग ब्लॉग
Tools

Trying to conceive? Track your most fertile days here!

Ovulation Calculator

Are you pregnant? Track your pregnancy weeks here!

Duedate Calculator
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}