पेरेंटिंग

आखिर कैसे करे अपने गुस्से को कंट्रोल जब आपका बच्चा बहुत तंग करे

Parentune Support
3 से 7 वर्ष

Parentune Support के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Nov 27, 2017

आखिर कैसे करे अपने गुस्से को कंट्रोल जब आपका बच्चा बहुत तंग करे

अगर आप एक अभिभावक हैं तो गुस्सा करना सामान्य है। सभी माता-पिता किसी ना किसी स्तर पर गुस्सा महसूस करते हैं।गुस्सा भी एक अच्छी बात  हो सकती है ।सकारात्मक और स्वस्थ तरीके से अपने गुस्से का प्रबंधन करने से आपको अपने बच्चों के लिए एक अच्छा उदाहरण सेट करने का अवसर भी मिल सकता है। उदाहरण के लिए, जब आप एक गहरी साँस लेते हैं और चिल्लाने कि बजाय दूर चले जाते हैं, तो इससे आप अपने बच्चों को अच्छा  व्यवहार करना सिखाते हैं।लेकिन क्रोध नकारात्मक हो सकता है , खासकर अगर यह नियंत्रण से बाहर हो जाये । आपका अपने गुस्से पे काबू खोने से समस्याएं बदतर हो सकती हैं ।
 

कुछ असरदार उपाय जो आपको गुस्से पे कंट्रोल पाने मे मदद करेंगे

 

चरण 1: अपने गुस्से की पहचान करें

  • अपने गुस्से को प्रबंधित करने का पहला कदम है प्रारंभिक संकेतों को ध्यान में रखना ।
  • आपको यह जानना कहना बहुत जरुरी है कि मुझे गुस्सा आ रहा है या मै गुस्से में हुं, भले ही आप यह बात खुद से ही क्यु ना पुछे।
  •  उदाहरण के लिए, 'यह मुझे गुस्सा दिला रहा है' या 'मैं खुद से ऐसा महसूस कर रहा हूं'।
     

चरण 2: खुद से सवाल पूछें

  • जब आपका बच्चा आपको बहुत तंग कर रहा है और आपका गुस्सा भड़कने वाला है, तो उस वक्त यह सोचने के बजाय कि “ ये मेरे साथ ऐसा क्यों कर रहा है ?
  • ” अपने बच्चे पर ध्यान दें शायद वो ये किसी कारण के से कर रहे हैं -- क्या वह भूखा है, ऊब गया है, थका हुआ है, आपके साथ खेलना चाहता है या आपका ध्यान अपनी ओर लाना चाहता है?
  •  अपने बच्चे पर आप गुस्सा करने की बजाय उसकी आवश्यकता को पूरा करने की कोशिश करें।
     

चरण 3: शांत करने का प्रयास करें 
 

जब आप अपने गुस्से के शुरुआती लक्षणों को देखे, तो उसे शांत करने करने के लिए कुछ चीजें कर सकते हैं। जैसेकि:

  • एक लम्बी सांस और ले और अपने श्वास को धीमा करने का प्रयास करें
  • कुछ ऐसा करें जो आपको शांत करता है, जैसे कुछ संगीत सुनना, एक पत्रिका पडना या खिड़की से बाहर देखना।
  • टह्लने या दौड़ने के लिए बाहर जाएं
  • एक गर्म स्नान लें।
  • कुछ मिनटों के लिए किसी शांत जगह पे चले जाए
  • अपने गुस्से को नोट कर आप पता लगा सकते है कि दिनभर मे क्या क्या हुआ की आपको गुस्सा आया इससे आप एक पैट्रन पहचान सकते हैं,
  • एक बार अपको पता चल गया तो आप उसपे काम कर सकते है, जैसेकि आपके बच्चे ने पुरा घर खिलौनो से फैला रक्खा है और आपको ये देख कर गुस्सा आता है तो आप अपने बच्चे को समझा सकते है कि मुझे इस चिज से गुस्सा आता है।

 

चरण 4: स्थिति को नॉरमल करें

  • जब आपको लगे है कि आप शांत हो गए हैं, तो स्थिति पर  नॉरमल  करने के लिए यह एक अच्छा विचार हो सकता है, और सोचें कि अभी क्या हुआ है।
  •  यह आपको अनुभव से सीखने में मदद कर सकता है, और इसी तरह की स्थितियों को भविष्य में बेहतर तरीके से सम्भलने मे मदद कर सकता है। 
  • अपने बच्चों को यह बताएं कि आप कैसा महसूस कर रहे हैं और इसके लिये क्या कर रहे हैं। यह उनहे भी अपने गुस्से को संभालने करने का एक बेहतर तरीका दिखाई देगा।
  •  उदाहरण के लिए, “ मुझे गुस्सा आ रहा है, इससे पहले कि हम इस बारे में बात करें, मुझे शांत होने के लिए बाहर जाने की जरूरत है “।
     

चरण 5: अपने बच्चों के लिए एक अच्छा उदाहरण सेट करे

गुस्साने के लिए माफी मांगें।गुस्सा आना ठीक है लेकिन चिल्लाना ठीक नहीं है।कई बार आप अपने गुस्से को सही तरिके से संभाल नही पाते है आप चिल्लाते है,और बाद मे पछताते या अफसोस करते हैं यह सामान्य बात है।

जब ऐसा हो,तो थोडा सा समय निकाल कर अपने बच्चों से ये कहना एक अच्छा विचार है :

  • गुस्सा होने के लिये मै माफी मागता हु,अगली बार मैं अपने आप को शांत करने के लिए पहले हि बाहर चला जाऊँगा। '
  • 'मुझे खेद है मैं चिल्लाया। क्या हम इस बारे में बात कर सकते हैं कि क्या हुआ? '
  • 'मुझे माफ कर दो। मुझे यह नहीं कहना चाहिए था, भले ही मैं नाराज था। 

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

  • कमेंट
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.
+ ब्लॉग लिखें
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}