स्वास्थ्य

क्या आपके पति खर्राटा लेते है? तो इसे पढिये..

Parentune Support
1 से 3 वर्ष

Parentune Support के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Oct 14, 2017

क्या आपके पति खर्राटा लेते है तो इसे पढिये

हम मे से बहुत से लोग अपने साथी के खर्राटो के परेशान रहते है। खर्राटे लेना एक सामान्य बिमारी है। यह स्त्री और पुरुश दोनो को होता है ।जिस व्यक्ति को निंद मे सांस लेने मे अवरोध उत्पन्न होता है जिसके कारण उस व्यक्ति के नाक से तेज से आवाज निकलती है, वहि तेज आवाज खर्राटो के रुप मे सुनायी देती है।| खराट लेने की आदत बेहद ख़राब होती है, इससे दुसरे लोगो को भी परेशानयां उठानी पड़ती है| रात मे लोग खर्राटो कि आवाज से थीक से सो नही पाते है| वेसै तो यह आम बात है परंतु अगर लम्बे समय तक इसको अनदेखा करने से इसका परिणाम भयंकर भी हो सकते है|

खर्राटो के कुछ कारण

  • अयधिक मात्रा मे धुम्रपान और शराब का सेवन करना।
  • गले कि बीमारी के कारण जैसे- कफ जमना, खराश और संमण इतयादि।
  • नाक, मुंह और गले आदि मे तकलीफ के कारण भी खराटे कि समस्या होती है।
  • खर्राटे कि समस्या उच रचाप से परेशान लोगो मे ज्यादा पाई जाती है।
  • लम्बे समय तक एक ही पोजीशन मे सोने के वजह से।
  • स्वांस नली के उपरी सतह के सकुड़ने से।
  • ठडे मौसम के कारण |
  • ठंडी चीजो के सेवन करने से ।

खर्राटो से राहत के कुछ उपाय

  • नशा करना पूरी तरह से छोड़ दे। वैसे भी नशा करना किसी भी सूरत मे सेहत के लए नुकशानदायक है। ज्यादा धुम्रपान करना या शराब का सेवन करने से आपको कई प्रकार कि बीमारयाँ हो सकती है। धुम्रपान करने से आपके फेफड़े कमजोर होने लगते है। इस कारण ऑसीजन का सही प्रभाव नही हो पाता है। इससे आपको साँस सबधी समस्या हो सकती है।
  • सोने से पहले गार्गल किया करे। एक गलास गनुगनुने पानी मे थोड़ी मत्रा मे नमक मिलाकर गार्गल करे। इससे आपके गले के सुजन से राहत मलेगी। सुबह और शाम दोनो वक्त आप गार्गल कर सकते है। आपको खर्राटो कि समस्या से राहत मलेगी।
  • आपके सोने के तरीके के कारण खर्राटे कि समस्या उत्पन्न हो सकती है। एक ही पोजीशन मे ना सोये। पीठ के बल सोने के बजाय आप करवट लेकर या पेट के बल सोये। ऐसा करने से आपकी समस्या लगभग दूर हो जाएगी और आपको आराम मिलेगा।
  • अपने नाक को साफ़-सुथरा रखे। नाक मे जमी गंदगी के वजह से साँस लेने मे कठनाई होगी। नाक मे कफ और संक्रमण के वजह से खर्राटे कि समस्या पैदा होती है। कुछ लोगो के नाक हड्डी बढ़ जाने के कारण खर्राटे कि समस्या हो सकती है।
  • मोटापे कि वजह से खर्राटे लेने कि समस्या हो सकती है। यादि मोटा होने के कारण उनके गले के आस-पास वसा अतिरिक्त जमा हो जाती है जसकि वजह से साँस लेने मे कठनाई होती है। इसलिए अपनी सेहत का खयाल रखे और अपना मोटापा कम करे। प्रतिदिन व्ययाम या योगा करे।
  • यादा मात्रा मे पानी पिये। पानी पिने से शरीर मे नमी बनी रहती है। शरीर मे पानी की कमी होने के कारण नाक की नली सुख जाती है। जिसके कारण साँस लेने मे कठनाई होती है, और खर्राटे आने लगते है ।
  • आपको अगर गले की कोई तकलीफ है, रोजाना दो चमच शहद का सेवन करे। रात को सोते वक्त भी एक चमच शहद ले सकते है। काली मिर्च का भी प्रयोग किया जा सकता है। एक गलास गनुगनुा पानी ले। अब उसमे एक-एक चमच शुध्ध शहद और काली मिर्च का पाउडर मिलाकर सोने से पहले पिये। आपको अवश्य आराम मलेगा।

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

  • कमेंट
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.
+ ब्लॉग लिखें
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}