खाना और पोषण

क्या करें जब बच्चा जंक फूड खाने की जिद करे

Anubhav Srivastava
11 से 16 वर्ष

Anubhav Srivastava के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Aug 25, 2018

क्या करें जब बच्चा जंक फूड खाने की जिद करे

लाड़- प्यार में बिना सोचे समझे बच्चों को कुछ भी खाने के लिए देना बहुत नुकसानदेह हो साबित सकता है। इसलिए बच्चों के खानपान पर ध्यान देना माता पिता की बड़ी जिम्मेदारी है। जंक फूड खाने में भले ही स्वादिष्ट लगते हों लेकिन वास्तव में यह सेहत के लिए काफी हानिकारक होते हैं। अक्सर देखने में आता है कि बच्चे घर के पौष्टिक खाने के स्थान पर बाहर के जंक फूड को ही तवज्जो देते हैं। ऐसे में यह बेहद आवश्यक है कि बच्चों को जितना हो सके, जंक फूड से दूर ही रखा जाए। तो चलिए जानते हैं कुछ ऐसे टिप्स, जिन्हें अपनाकर आप बच्चों की जंक फूड से दूरी बना सकते हैं 
 

  • कोशिश करें कि आपका बच्चा अपना ब्रेकफास्ट न सिर्फ अच्छे से खत्म करे, बल्कि आप नाश्ते में उसे कुछ ऐसी चीजें जो टेस्टी के साथ-साथ हेल्दी भी हों और उसे फिर दिन भर ज्यादा भूख न लगे। दिन की शुरुआत में अगर उनके पसंद का हेल्दी और भरपेट ब्रेकफास्ट उन्हें दे दिया जाए तो वे आपसे जंक फूड की डिमांड करना भूल जायेंगे। उन्हें प्रोटीन से भरपूर ब्रेकफास्ट करने को दें। ब्लुबेरी और उबले मूंगफली खाने को दें।
     
  • अगर आप बच्चों की जंक फूड से दूरी बनाना चाहती हैं तो सबसे पहले ऐसे खाद्य पदार्थ अपने किचन से बाहर करें। अक्सर महिलाएं समय बचाने के चक्कर में जंक फूड को अपने किचन में रखती हैं और फिर बच्चे उन्हें देखकर बार-बार खाने की जिद करते हैं। अपने घर के फ्रिज में ताजे फल जरुर रखें। उन्हें आप काटकर रेडी टू इट कर के फ्रिज में रखें ताकि उन्हें निकाल कर खाने में आसानी हो और मेहनत ना करना पड़े।
     
  • ऐसा नहीं है कि आप बच्चों की जंक फूड से पूरी तरह दूरी बना सकती हैं। इसलिए जब भी वे आपसे जंक फूड खाने की जिद करें तो आप उन्हें बाजार के स्थान पर घर पर ही कुछ टेस्टी व हेल्दी फूड आइटम बनाकर दे सकती हैं। घर का खाना साफ तो होता है ही, साथ ही आप उसे अधिक पौष्टिक तरीके से भी बना सकती हैं। क्रियेटिविटी भी ध्यान में रखें। योगर्ट मिक्स फ्रूट्स सलाद बना कर रखें। इसके अलावा उनकी पसंद के स्नैक्स जिन्हें उनकी डिमांड पर आसानी से तत्काल बनाया जा सके। इन्हीं सब में अपनी कलाकारी दिखाकर फूड को और भी इंटरेस्टिंग बना सकते हैं।
     
  • जंक फूड की आदत दूर करने और उसकी लालसा को शांत करने के लिए जंक फूड की जगह किसी स्‍वस्‍थ विकल्‍प को देने की कोशिश करें। उदाहरण के लिए, अगर आपके बच्चे को मीठे खाद्य पदार्थ की इच्छा है तो ताजे फल या छोटी सी मात्रा में ड्राई फ्रूट दे सकते हैं और अगर उसे नमकीन स्‍नैक्‍स खाने की आदत है तो आप मुट्ठी भर नट्स दे सकते हैं।
     
  • किसी भी लत को छोड़ने का सबसे पहला कदम होता है, समस्‍या को पहचानना और उसे स्‍वीकार करना। इसी तरह जंक फूड की समस्‍या से बचने के लिए सबसे जरूरी है समस्‍या को पहचानना। इसके लिए आहार डायरी आपकी मदद कर सकती है। इसमें दिनभर में लिये जाने वाले खाद्य पदार्थों के बारे में लिखकर आप भोजन की समग्र तस्‍वीर देख पायेगें और जान पायेगें कि आपका बच्चा दिन भर में कितना अस्‍वस्‍थ भोजन करता है।
     
  • उनसे बातें करें और उन्हें बाहर के खाने के दुष्प्रभावों से अवगत करायें। उन पर चिल्लाने की बजाए उन्हें घर का बना हेल्दी खाना ऑफर करें। घर के खाने को एक ट्रीट की तरह लें। उनके फवरेट फ्रूट की जेली को उनके मील के साथ शामिल करें। बच्चों को छोटे उम्र के समय से ही खाने के प्रति उनके च्वाइसेस बनाने में उनकी मदद करनी चाहिए। खाने में शामिल किये जाने वाले इंग्रीडियेंट उन्हें चुनने की आजादी दें।
     
  • बच्चों के सामने खुद भी जंक फूड खाने से बचें और उन्हे बराबर फल एवं प्राकृतिक खाद्य पदार्थों के फायदे के बारे में बताते रहें। जानकारी बढ़ने साथ-साथ बच्चे स्वयं ही जंक फूड से दूर होते जाएंगे।
     

स्पष्ट है कि जंक फूड बनाने में तो आसान होते हैं और ये स्वादिष्ट भी हो सकते हैं लेकिन बच्चों स्वास्थ्य पर इनका बुरा प्रभाव पड़ता है। इसलिए प्रारम्भ से ही अपने बच्चे को जंक फूड खाने की आदत न पड़ने दें। ज्यादा जंक फूड खाने से बच्चों में मोटापा बढ़ता है और उनकी प्रतिरोधक क्षमता भी कम हो जाती है। 

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

  • कमेंट
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.
+ ब्लॉग लिखें
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}