पेरेंटिंग

क्यों होते हैं बच्चे मोबाइल से इतना अट्रैक्ट ?

Parentune Support
1 से 3 वर्ष

Parentune Support के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Jul 21, 2018

क्यों होते हैं बच्चे मोबाइल से इतना अट्रैक्ट

स्मार्टफोन ने हम सब की दुनिया बदल दी है। हम 5 मिनट भी मोबाइल को खुद से दूर नहीं करते। मिनट-मिनट पर मोबाइल चेक करते हैं। वहीं हमारी इस हरकत से घर में मौजूद 5-6 महीने का बच्चा भी इसकी स्क्रीन में रोशनी और रंग देखकर आकर्षित होने लगता है। वह उसे छूना चाहता चाहता है और देखना चाहता है कि आखिर ये है क्या। बच्चे की ललक को देखकर हम उसे मोबाइल दे भी देते हैं। इसके बाद धीरे-धीरे बच्चे को मोबाइल की आदत लग जाती है। इसके बाद ये समस्या बन जाती है। पिछले दिनों अमेरिकी अकैडमी ऑफ पेड्रियाटिक ने एक चेतावनी जारी करते हुए कहा कि बच्चों को स्मार्टफोन से जितना हो सके दूर रखें। हाल ही में हुए एक सर्वे में सामने आया है कि जिन बच्चों के पैरेंट्स उन्हें तीन साल से कम उम्र में फोन दे देते हैं, वे वर्बल टेस्ट में फिसड्डी साबित होते हैं। डॉक्टर्स भी मानते हैं कि कम उम्र में मोबाइल के ज्यादा इस्तेमाल से बच्चों के शारीरिक और मानसिक विकास पर बुरा असर पड़ता है।

क्यों लगती है बच्चों को मोबाइल की लत

अगर आप देखें तो आज हर घर में आपको 1-2 साल के बच्चे भी मोबाइल में चिपके नजर आते हैं। ऐसे में ये समझना बहुत जरूरी है कि आखिर क्यों बच्चों को मोबाइल की लत लगती है। अगर हमें कारण पता चल जाए, तो समय रहते उसका समाधान भी किया जा सकता है। आज हम आपको बता रहे हैं, कुछ ऐसी ही वजहें जिनकी वजह से बच्चों में मोबाइल का नशा लग जाता है।

  1. पैरेंट्स को जब कुछ काम करना होता है और बच्चे बीच में तंग करते हैं तो उन्हें शांत करने के लिए वे बच्चे के हाथ में मोबाइल दे देते हैं। अगर आप भी ऐसा कर रहे हैं, तो ये आदत बदल दीजिए, क्योंकि इससे बच्चे में मोबाइल की लत लग जाएगी और वह बात-बात पर आपसे मोबाइल मांगने लगेगा।
  2. अक्सर पैरेंट्स रोते हुए बच्चे को चुप करने के लिए भी उसके हाथ में मोबाइल पकड़ा देते हैं। ये भी ठीक नहीं है। बच्चा इसे आपकी कमजोरी बना देगा और हर बात पर रोने लगेगा, ताकि आप उसे मोबाइल दे दें।
  3. बच्चा अगर खाना खाने में आनाकानी करता है, तो उसे बहलाने व मनाने के लिए पैरेंट्स उसके हाथ में मोबाइल पकड़ा देते हैं। यहां से भी बच्चे को मोबाइल की आदत लग जाती है। आगे से बच्चा बिना मोबाइल के खाना नहीं खाता। मजबूरन पैरेंट्स को मोबाइल देना पड़ता है।
  4. इसके अलावा कई बार पैरेंट्स इस उत्साह में कि हमारा बच्चा इतनी कम उम्र में स्मार्टफोन ऑपरेट कर रहा है, आगे वह इससे और तेज बनेगा, ये सब सोचकर बच्चे को मोबाइल देते रहते हैं। इससे भी बच्चे में मोबाइल की लत लग जाती है।

इन बातों का रखेंगे ध्यान तो नहीं लगेगी बच्चे को मोबाइल की आदत

  1. बच्चों के सामने फोन का यूज कम से कम करें।
  2. बच्चों को बिजी रखने, बहलाने व रोने के दौरान चुप कराने के लिए कभी भी मोबाइल न दें। इसकी जगह कोई दूसरा खिलौना दें, जिससे उसे नुकसान न हो।
  3. बच्चे को अबैकस जैसी एक्टिविटी में हिस्सा लेने के लिए प्रोत्साहित करें, ताकि उनका मानसिक विकास हो सके।
  4. बच्चे को मोबाइल पर गेम खेलने की जगह पार्क में खेलने, कुछ और एक्टिविटी करने के लिए प्रोत्साहित करें।
  5. बच्चे को समय दें और उन्हें प्यार से समझाएं कि कैसे फोन उनके लिए हानिकारक हो सकता है।

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

  • 2
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.

| Jul 22, 2018

mera betA 15 month ka h uski mobile ki adt kese bhulau

  • रिपोर्ट

| Jul 21, 2018

ya meri baby khana ni khati to me bhi use mob. deti hu

  • रिपोर्ट
+ ब्लॉग लिखें
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}