• लॉग इन करें
  • |
  • रजिस्टर
पेरेंटिंग स्वास्थ्य

गर्मी में इस तरह करे पुदीना (Peppermint) का उपयोग अपने बच्चे के लिए

Parentune Support
3 से 7 वर्ष

Parentune Support के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Mar 26, 2020

गर्मी में इस तरह करे पुदीना Peppermint का उपयोग अपने बच्चे के लिए
विशेषज्ञ पैनल द्वारा सत्यापित

गर्मियों के आते ही हर माँ अपने बच्चे के खान पान के प्रति सावधान  हो जाती  है। गर्मियों में बच्चो के खान पान पर अगर थोडा सा ज्यादा धयान रखा जाये तो कई तरह की बीमारियों से बचाया जा सकता है। यु तो पुदीना अपने स्वाद और औषधीय गुणों  के लिए किया जाना जाता है लेकिन अपनी ठंडक के कारण खास तौर से गर्मियों में इसका सेवन बहुत फायेदेमंद है पेपरमिंट के कई फायेदे  है और इसे कई तरह से इस्तेमाल किया जा सकता है आज हम बात करेंगे पुदीना के प्रयोग किस तरह हम अपने छोटे बच्चो के लिए कर सकते है , पुदीना जिसे पेपरमिंट भी कहते है। पेपरमिंट की खुशबू और उसका स्वाद बच्चो की बॉडी में ताजगी भरने के काफी काम आता है।  पेपरमिंट के अंदर विटामिन इ की मात्रा आधिक होती है जो बच्चो को हेल्दी और फिट रखती है।

पुदीने के स्वास्थय सम्बन्धी लाभ आपके बच्चों के लिए    

#1. बच्चो की ड्रीन्क और फ्रूट सलाद में इस्‍तेमाल करें:-

आप एक तरबूज लीजिये और इसको काटकर इसके  पल्प को मिक्सर में डालिए साथ ही इसमें कुछ पुदीने के पत्ते और बर्फ के टुकड़े और चीनी स्वाद अनुसार  डालिए और अव  इसे ग्राइंड कर लिजिए और  एक गिलास में डाल कर ,उसमे नीबू की कुछ बुँदे डाल कर अपने बच्चो को दीजिये पेपरमिंट आपके बच्चे के ड्रीन्क की ताजगी बढ़ा देगा । पेपरमिंट की ताजी पत्तियों को चीनी के साथ मिला कर मिन्ट शिरप भी बना सकती है।  पेपरमिंट की हरी पत्तियों को काटिए और इसे अपने बच्चो के लिए बनाये गए फ्रूट सलाद में ऐड करे उसमे तरबूज के कुछ टुकड़े और नीबू का  रस भी डालिए।  पेपरमिंट का लाजवाब स्वाद बोरिंग सलाद को भी शानदार बना देता है और आपके बच्चे इसे ख़ुशी से खायेंगे।   

#2. पेट का सम्बन्धी रोगों के लिए लाभदायक 

पेपरमिंट पेट से सम्बन्धी कई रोगों में काम आता है। बच्चो को  पेटदर्द होने पर पेपरमिंट की दो बुँदे पानी में मिलाकर दे। यह बच्चो के पेट के बेक्टेरियो को किल करने में काफी मदद करेगा और पेट को ठंडक भी पहुचायेगा। उल्टी होने पर दो दो बूंद पेपरमिंट का रस हर दो घंटे पर बच्चे को पिलाइए, इससे उल्टी आना बंद हो जाएगा। पेपरमिंट की पत्तियों को दही में ,रायते में या फिर छाछ में मिलकर बच्चो को गर्मी में देने से बहुत राहत मिलती है। और पेट भी सही रहता है।    

#3. पेपरमिंट लू से भी  बचाता है

गर्मीयो में बच्चो को लू लगने के खतरा बना रहता है। ऐसे में आप बच्चो को ये ड्रीन्क बना कर दे सकती है। कच्चे आम को उबाल लीजिये और  उसके गुदे में पेपरमिंट के पत्ते डालकर  मिक्सर में पीस ले और उसमे पिसा हुआ जीरा ,काला नमक और बर्फ डालकर बच्चो को पिलायेंगे तो गर्मी में लू  का असर कम हो जायेगा।  बुखार होने पर भी बच्चो को  पेपरमिंट पिलाना  चाहिए, इससे बुखार में फायदा होता है।

#4. बच्चो की त्वचा के लिए भी उपयोगी

गर्मिया आते ही बच्चो में पसीने से होने वाली खुजली की शिकायत होने लगती है , त्वचा पर हो रही लगातार खुजली से छुटकारा पाने के लिए भी आप अपने बच्चो के लिए पेट्रोलियम जैली के बजाय पेपरमिंट के तेल का उपयोग करें, क्योंकि इससे होने वाला असर पेट्रोलियम जैली की तुलना में काफी अच्छा होता है।यदि हाथ धोने के लिए आपके पास सेनेटाइजर या हैंडवॉश का कोई साधन उपलब्ध नहीं है तो इस आपातस्थिति में अपने बच्चो को पेपरमिंट के तेल का उपयोग भी करा सकती है। इसके अंदर कई खतरनाक बैक्टीरिया को खत्म करने की क्षमता होती है। त्वचा को सुरक्षित करने के लिए भी आप पेपरमिंट के तेल का भी उपयोग कर सकती है।  पिपरमिंट के तेल से बच्चो के शरीर में मालिश करने से बच्चो को गर्मी में  ताजगी और खुशी का अनुभव होता है। यह त्वचा को सूर्य की तेज किरणों से बचाने के लिए एक कवर की तरह काम करता है।

#5. सास सम्बन्धी रोगों में भी लाभदायक

अगर आपके बच्चे को खासी, कफ और बलगम की शिकायत रहती है तो आपको अपने बच्चो को पेपरमिंट के पत्तो का सेवन डेली करवाना चाहिए पेपरमिंट के अंदर ऐसे विटामिन्स होते है।जो आपके बच्चे के मुह के अंदर माउथ फ्रेशनर का काम करती है। तो इस तरह हमने जाना की पेपरमिंट एक असरदायक औसधी है जो आपके बच्चे की सेहत और भी अच्छी रखती है।   

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

इस ब्लॉग को पेरेंट्यून विशेषज्ञ पैनल के डॉक्टरों और विशेषज्ञों द्वारा जांचा और सत्यापित किया गया है। हमारे पैनल में निओनेटोलाजिस्ट, गायनोकोलॉजिस्ट, पीडियाट्रिशियन, न्यूट्रिशनिस्ट, चाइल्ड काउंसलर, एजुकेशन एंड लर्निंग एक्सपर्ट, फिजियोथेरेपिस्ट, लर्निंग डिसेबिलिटी एक्सपर्ट और डेवलपमेंटल पीड शामिल हैं।

  • कमेंट
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.
+ ब्लॉग लिखें
Sadhna Jaiswal
मॉमबेस्डर
आज के दिन के फीचर्ड कंटेंट

आज का पैरेंटून

पैरेंटिंग के गुदगुदाने वाले पल

Ask your queries to Doctors & Experts

Download APP
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}