बाहरी गतिविधियाँ

5 आइडिया पिकनिक के इस सर्दी में

Parentune Support
3 से 7 वर्ष

Parentune Support के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Dec 11, 2017

5 आइडिया पिकनिक के इस सर्दी में

पिकनिक यानी ढेर सारी मस्ती, जमकर खाना और खेल के साथ अच्छी खासी एक्सरसाइज। लाइफ के बिजी शेड्यूल से निकलकर परिवार और दोस्तों के साथ वक्त बिताने बेहतर जरिया है पिकनिक। मनोवैज्ञानिक भी मानते हैं कि से जब रूटीन लाइफ से मन ऊब जाए या किसी बात को लेकर टेंशन से जूझ रहे हों, तो ऐसे में फिर से तरोताजा होने के लिए पिकनिक से बढ़कर कोई दूसरी चीज नहीं हो सकती। पिकनिक की मस्ती बड़ों के लिए ही नहीं, बल्कि बच्चों के लिए भी काफी फायदेमंद साबित हो सकती है। इसलिए स्कूलों में बच्चों को टूर पर ले जाने जैसे प्रोग्राम रखे जाते हैं। पिकनिक से मिलने-जुलने की भावना पैदा होती है और बच्चों को बहुत कुछ सीखने को भी मिलता है। इसमें एक तरफ जहां उन्हें घर से बाहर की दुनिया का नजारा देखने को मिलता है, वहीं उनमें दूसरे साथियों के साथ बेहतर तालमेल और सहयोग की भावना पैदा होती है। मगर इस सर्दी के मौसम में खास खयाल रखना चाहिए अपने छोटे बच्चों की सेहत का।
 

कैसे करें तैयारी ?
 

पिकनिक पर जाना हर किसी को अच्छा लगता है, लेकिन कई बार छोटी-छोटी प्रॉब्लम्स की वजह से पिकनिक का रोमांचक अनुभव हमारे लिए बुरी यादों में तब्दील हो जाता है। ऐसी किसी भी परेशानी से बचने के लिए बेहतर होगा कि पहले से ही कुछ सावधानियां रखी जाएं। आइए जानते हैं इन प्रॉब्लम्स से बचने के कुछ टिप्स:Recommended By Colombia

 

  1. पिकनिक पर जाने से पहली जरूरी सामान की एक लिस्ट बनाना सही रहता है। रेस्टहाउस या रिसॉर्ट में बुकिंग करवाई हो तो जरूरी जानकारियां फोन से अवश्य हासिल कर लें। ताकि बाद में किसी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े।
     
  2. डेबिट और क्रेडिट कार्ड रखने के साथ ही जरूरत भर का कैश अवश्य रखें, ताकि ऐसे स्थानों पर परेशान न हों, जहां क्रेडिट कार्ड या एटीएम की सुविधा नहीं है।
     
  3. छोटे बच्चे पिकनिक पर जाएं और शरारत न करें, ऐसा हो ही नहीं सकता। यहां-वहां मिट्टी में खेलकर कपड़े गंदे करने का काम सभी बच्चे करते हैं। बच्चों को साफ करने के लिए टॉवल और छोटा साबुन साथ रखना ना भूलें।
     
  4. इस तरह की चीजों को अलग से एक जिप बैग में रखना चाहिए, ताकि जरूरत पड़ने पर एकदम निकाला जा सके। बच्चे साथ जा रहे हैं, इसलिए उनके स्वास्थ्य का ध्यान रखें। अपने बैग में फस्र्ट एड किट जरूर रखें, जिसमें कोल्ड, एलर्जी, फीवर, फ्लू से बचाव के लिए दवाएं हों।
     
  5. ठंड के मौसम में कफ कोल्ड आदि की समस्या बहुत जल्दी शुरू हो जाती है। अगर आपके बच्चे बहुत छोटे हैं, तो आपको बहुत ज्यादा सावधान रहने की जरूरत है। अपने बैग में एक-दो जोड़ी दास्ताने, ऊनी कपड़े, बूट्स, कंबल, कोट, स्वेटर और शाल जैसी जरूरी चीजें रखें। इस दौरान ये बात भी ध्यान रखें कि आपके बैग का वजन न बढे, वरना आप अपनी पिकनिक इंजॉय नहीं कर पाएंगे।
     

इन बातों का रखें ख्याल !
 

  • पिकनिक पर जाने से पहले किसी अच्छे स्पॉट का सिलेक्शन करना सबसे बड़ा काम है। पहले ही पता ही पता कर लें कि जिस जगह आप जा रहे हैं, वहां का मौसम कैसा है।
     
  • पिकनिक स्पॉट पर पहुंचते ही सबसे पहले यह सुनिश्चित करलें कि आस-पास कोई ऐसी जगह तो नहीं हैं, जहां बच्चों के लिए खतरा हो। कोई भी गड्ढा, पानी या नुकीली चीजें बच्चों के लिए नुकसानदायक हो सकती हैं। साथ ही पिकनिक स्पॉट पर बच्चों को मच्छरों, कीड़ों आदि से भी बचाकर रखना चाहिए।
     
  • पिकनिक का असली मजा तो तब है, जब किसी खुली जगह पर बच्चों के साथ खेल खेले जाएँ।  ग्राउंड पर बैठने से पहले कोई मैट आदि जरूर बिछा लें। कई बार ग्राउंड गीला या ठंडा होता है, इसलिए मैट के नीचे बिछाने के लिए प्लास्टिक की चादर भी साथ ले जाएं। इससे बच्चे को सर्दी नहीं लगेगी।
     
  • नई जगह देखकर बच्चे इतने रोमांचित हो जाते हैं कि सुधबुध खो बैठते हैं। ज्यादा देर तक खेलने से उनके शरीर में पानी की कमी हो सकती है। ऐसे में बच्चों को थोड़ी-थोड़ी देर में पानी देते रहना चाहिए। जूस और दूसरे ड्रिंक्स भी दिए जा सकते हैं। सर्दी में बच्चों का खेलना ठीक है, लेकिन ध्यान रखिए कि ठंडी हवा से बचाने के लिए उन्हें ऊने कपड़े अच्छे से पहनाकर रखें।
     
  • बच्चों के साथ पिकनिक पर जाना है तो खयाल रखें कि खाने में ऐसा क्या ले जाएं कि वह देर तक खराब न हो और बच्चों को पसंद भी आए। अगर आप फ्रूट लेकर जाएं, तो बात ही कुछ और है। फ्रूट हल्के होने के साथ-साथ शरीर के लिए भी अच्छे हैं। बच्चों को चिप्स, नमकीन, जूस और चॉकलेट पसंद आते हैं। इसके लिए घर या बाजार का बना खाना अपने साथ ले जाइए और बच्चों के साथ बैठकर जिंदगी की सभी परेशानियों को भूल जाइए।
     
  • जब आप कोई भी ऐतिहासिक स्थल देखने जा रहे हो तो गाइड जरूर करें, क्योंकि ऐतिहासिक स्थलों के बारे में गाइड के अलावा आपको और कोई अच्‍छी जानकारी नहीं दे सकता है।
     
  • अगर आप जंगल/ चिड़ियाघर की सैर पर जा रहे हो तो, स्थानीय वन विभाग की अनुमति अवश्य प्राप्त कर लें, क्योंकि उन्हें जंगलों में रहने वाले वन्य प्राणियों के बारे में अच्‍छी मालूमात रहती है। जीप व जानकार व्यक्ति के साथ ही वन की सैर करना अत्यधिक मुफीद रहेगा। जंगली जानवरों के अधिक समीप न जाएं, उन्हें छेड़े नहीं, न ही आवाज/पत्थर आदि मारें अन्यथा आपकी जान का जोखिम रह सकता है।
     
  • बाहर का मौसम और घूमने की जगह दोनों सेहत के अनुकूल होनि चाहिए, यानी इतना सर्दी न हो कि घूमकर लौटें तो फिर बीमार हो जाएं। कोशिश यह भी करें कि मौसम के ज्यादा खराब होने से पूर्व ही सकुशल लौट आएं। कुछ खास पर्यटन स्थलों के अलावा ऐसे स्थान भी खोजें, जहां भीड़भाड़ कम हो और आप परिवार के साथ बेहतरीन समय गुजार सकें।
     

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

  • कमेंट
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.
+ ब्लॉग लिखें
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}