• लॉग इन करें
  • |
  • रजिस्टर
गर्भावस्था कैलेंडर के हिसाब से आपका प्रत्येक दिन

गर्भावस्था का 22 वां सप्ताह

गर्भावस्था का 22 वां सप्ताह

आप शारीरिक और भावनात्मक रूप से थोड़ा सा संतुलन महसूस कर सकते हैं। गर्भवती होने के कारण कई प्रकार के अप्रत्याशित प्रभाव हो सकते हैं। शायद ऐसे भी दिन होंगे जब आप अपनी भावनाओं पर नियंत्रण में नहीं रख पाएंगे |जिससे आप किसी भी कारण रोने लगते हैं। अगर चलते चलते आपका शरीर अजीब और असंगठित महसूस करता है। तो कुछ अन्य माताओ से बात करें, आपको पता चल जायेगा की ये दुष्प्रभाव गर्भावस्था के अनुभव का एक सामान्य हिस्सा हैं! आश्चर्यचकित न हों अगर लोग आपके पेट को देखना शुरू कर रहे हैं।

आप क्या अनुभव करने वाले हैं?

इस सप्ताह तक आपका कुल वजन 5-6 किलो ज्यादा होगा। चूंकि आपका गर्भाशय अब आपके मूत्राशय पर दबाव डाल रहा है, इसलिए कभी-कभी आपके अंडरवियर में रिसाव हो सकता हैं। शर्मिंदा न हो यह काफी आम है। आप एक पैंटी लाइनर का उपयोग कर सकते हैं, अपने अंडरवियर को अक्सर बदल सकते हैं, या बस अपने डॉक्टर को कुछ केगेल अभ्यास सिखाने के लिए कहें (केगेल अभ्यास श्रोणि तल की मांसपेशियों को मजबूत करता है, जो गर्भाशय, मूत्राशय, छोटी आंत और गुदा का समर्थन करता है)। लेकिन किस प्रकार का लीक है इसका भी ध्यान रखना होगा। यह अम्नीओटिक द्रव भी हो सकता है। (अम्नीओटिक द्रव स्पष्ट, थोड़ा पीला तरल है जो गर्भावस्था के दौरान गर्भ से घिरा हुआ होता है। यह अम्नीओटिक थैली में निहित है। यह एक सुरक्षात्मक परत है और हड्डी के और फेफड़ों के विकास में मदद करता है)। मूत्र और अम्नीओटिक तरल पदार्थ के बीच अंतर करने का एक तरीका है। अम्नीओटिक गंध रहित होता है जबकि मूत्र में थोड़ी गंध होता है। यदि यह अम्नीओटिक है, तो यह आपका अपने डॉक्टर से मिलने का समय है

आपके बच्चे का विकास

आपका बच्चा दिन प्रतिदिन वजन बढ़ा रहा है। अगले कुछ हफ्तों में, आपके बच्चे के लानुगो, (लानुगो गर्भ में  फॉलिकल्स द्वारा उत्पादित होने वाले पहले बाल होते हैं, और आमतौर पर भ्रूण पर लगभग 5 महीने गर्भावस्था में दिखाई देता है) यह आपके अल्ट्रासाउंड में देखा जा सकता है। लानुगो आमतौर पर गर्भावस्था के लगभग 7 या 8 महीने में जन्म से पहले झड़ जाता है।

आप में परिवर्तन

अधिकांश शारीरिक परिवर्तन को सामान्य माना जाता है,यहां तक की  पैरों या हाथों की सूजन भी। लेकिन आपको सूजन की तीव्रता पर ध्यान रखना होगा और गर्भावस्था में किस समय सूजन होनी चाहिए यह पता हो ।

 

क्या आपके डॉक्टर ने प्रिक्लेम्पिया के बारे में आपको बताया था? इस स्थिति में, रक्त वाहिकाओं का दबने से उच्च बीपी में होता है। इसके परिणामस्वरूप कम रक्त प्रवाह होता है जो आपके यकृत, गुर्दे और मस्तिष्क जैसे अंगों को प्रभावित कर सकता है। प्रिक्लेम्पसिया अक्सर गर्भावस्था के उच्च रक्तचाप से अलग होता है। जबकि गर्भावस्था के दौरान उच्च रक्तचाप अनिवार्य रूप से प्रिक्लेम्प्शिया को नहीं दर्शाता है, यह अन्य समस्या का भी संकेत हो सकता है। यदि आप अपने पैरों में अचानक सूजन, धुंधली दृष्टि, गंभीर सिरदर्द, पेट दर्द, या आप बहुत बार पेशाब कर रहे हैं तो आप अपने डॉक्टर से मिल सकते हैं।

सूजन की गंभीरता के बारे में ध्यान में रखते हुए, हम सुझाव देते हैं कि आप लेटते समय चाहे आप घर पर हों या दफ्तर पर सूजन से बचने के लिए अपने पैरों को उचाई पर रखे

- आप एक विशेषज्ञ की देखरेख में योग का अभ्यास कर सकते हैं। विशेषज्ञ आपको श्वास अभ्यास शुरू करने को कह सकता है।

- पर्याप्त पानी पिए क्योंकि यह आपको सिरदर्द, सूजन, और मूत्र संक्रमण से बचने में मदद करता है

आपके लिए पोषण

  • वजन बढ़ाने से डरे मत: गर्भावस्था के दौरान आपको डाइट पर जाने की जरूरत नहीं है। आपको यह सुनिश्चित करने की जरूरत है कि आप और आपके बच्चे को सभी आवश्यक पोषक तत्व मिलते रहे, आपको विभिन्न प्रकार के पदार्थ खाने की जरूरत है।

  • बहुत सारे तरल पदार्थ ले : आपके गर्भाशय के वजह से मूत्राशय के दबने के कारण आप अक्सर टॉयलेट जा सकते हैं।लेकिन तरल पदार्थ के सेवन को कम करने की जरूरत नहीं है। पानी, ताजा सब्जी के रस, नारियल के पानी, और दूध के रूप में पर्याप्त तरल पदार्थ पीएं। किसी भी प्रकार के पैक किए गए पेय से बचें क्योंकि वे पोषण में कम हैं और चीनी में उच्च होते हैं।

  • मेवे पर टूटे : क्या आप जानते हैं कि बादाम और अखरोट आपके बच्चे के मस्तिष्क के विकास में मदद करते हैं? यदि आपके डॉक्टर ने डीएचए शब्द का उल्लेख किया है, तो ऐसा इसलिए है क्योंकि डीएचए आपके बच्चे के मस्तिष्क और अन्य महत्वपूर्ण अंगों का प्राथमिक संरचनात्मक भाग है और यह आपके बच्चे के मस्तिष्क के विकास के लिए महत्वपूर्ण है

इन बातो का ध्यान दे

  • गर्भावस्था में अनिद्रा: इस स्थिति में कोई भी ठीक से सो नहीं सकता है। जब आप लेटते हैं तो अपने पैरों के बीच एक तकिया लगाने का प्रयास करें। या सोने से पहले ध्यान करे। एक पुस्तक पढ़कर या अपने पसंदीदा संगीत को सुनकर खुद को तनावमुक्त करें। यह भी माना जाता है कि आध्यात्मिक प्रवचन सुनना, प्रार्थना करना, या सोने से पहले चिंतन करना, आपको नींद में मदद करने में करता है।

  • वजन बढ़ाना: यदि आपने 5-6 किलोग्राम से अधिक वजन प्राप्त किया है, तो आप अपने डॉक्टर से परामर्श लेना चाहेंगे। बाहरी भोजन से बचें, विशेष रूप से जंक फूड जैसे पैक भोजन या २ मिनट में पकने खाद्य पदार्थ से बचे ।

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

  • कमेंट
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.
+ ब्लॉग लिखें
टॉप गर्भावस्था ब्लॉग
Tools

Trying to conceive? Track your most fertile days here!

Ovulation Calculator

Are you pregnant? Track your pregnancy weeks here!

Duedate Calculator
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}