स्वास्थ्य गर्भावस्था

प्रसव के बाद वायरल इंफेक्शन से हो गई थी इस एक्ट्रेस की मौत, जानें संक्रमण से बचने के उपाय

Prasoon Pankaj
गर्भावस्था

Prasoon Pankaj के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Oct 17, 2018

प्रसव के बाद वायरल इंफेक्शन से हो गई थी इस एक्ट्रेस की मौत जानें संक्रमण से बचने के उपाय

बॉलीवुड की नामचीन अभिनेत्री स्मिता पाटिल की कई सारी फिल्मों को आपने जरूर देखा होगा। अपने अभिनय क्षमता की बदौलत आज भी स्मिता पाटिल को एक बेहतरीन एक्ट्रेस के तौर पर याद किया जाता है। अब इसे दुर्भाग्य ही कहा जाए कि अल्पायु में ही स्मिता पाटिल का निधन हो गया। लेकिन क्या आपको जानकारी है कि स्मिता पाटिल की निधन की वजह क्या बताई गई। मां बनने के महज 15 दिन बाद यानि 13 दिसंबर 1986 को स्मिता पाटिल का देहांत हो गया था। उनकी मौत का कारण प्रसव की वजह से हुए वायरल इंफेक्शन को बताया  गया था। मशहूर अभिनेता राज बब्बर की पत्नी स्मिता पाटिल ने 28 नवंबर 1986 को बेटे प्रतीक को जन्म दिया। बेटे के जन्म लेने के बाद वो अस्पताल से वापस घर लौट आईं थी। प्रसव के बाद हुए वायरल इन्फेक्शन की वजह से ब्रेन इन्फेक्शन हो गया। जब संक्रमण बढ़ता चला गया तो उसके बाद फिर से उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया लेकिन उनकी जान नहीं बचाई जा सकी। बच्चे को जन्म देने के बाद अगर मां की उचित देखभाल नहीं की जाए तो फिर संक्रमण होने का खतरा हो सकता है। तो प्रसव के बाद ये बेहद जरूरी है कि कुछ अहम बातों का ध्यान रखा जाए।

 

गर्भावस्था के बाद संक्रमण की समस्या होने की संभावना / Probability of Infection Problem After Pregnancy In Hindi

 

हालांकि गर्भावस्था के बाद संक्रमण की समस्याएं अब कम ही देखने को मिलती है लेकिन फिर भी सावधानी बरतने की आवश्यकता है। कुछ स्थितियों में गर्भाशय में घाव के अलावा ब्लैडर और किडनी में भी घाव हो सकता है। डॉक्टरों के मुताबिक गर्भावस्था के तकरीबन 8 फीसदी मामलों में इन्फेक्शन होने के देखे जाते हैं। एक और अहम बात कि कम उम्र में मां बनने वाली महिलाओं में संक्रमण होने की संभावनाएं पाई जाती है।

 

प्रसव के बाद संक्रमण होने के लक्षण / Symptoms Of Infection After Pregnancy In Hindi

 

  • ये निर्भर करता है कि शरीर के किस हिस्से में संक्रमण हुआ है
     
  • कुछ मामलों में बुखार और शरीर के किसी हिस्से में ज्यादा दर्द रहने की शिकायत
     
  • इसके अलावा दुर्गंधजनित डिस्चार्ज  की शिकायत भी हो सकती है
     
  • संक्रमण के मामले जानलेवा भी साबित हो सकते हैं
     
  • यूटरस में इन्फेक्शन होने पर ब्लड के थक्के जम जाते हैं
     
  • किडनी में संक्रमण होने पर किडनी से संबंधिक बीमारियों का खतरा 
     
  • संक्रमण से प्रभावित हो जाने पर दोबारा मां बनने में भी समस्याएं आ सकती हैं

 इन्फेक्शन होने पर किस तरह के उपाय किए जाने चाहिए / What Kind Of Measures Should Be Taken If There Is An Infection In Hindi

  1. सबसे जरूरी है कि अपने शरीर की साफ-सफाई और स्वच्छता का ध्यान रखें। नहाने के बाद अपने शरीर के आंतरिक अंगों को भी टॉवेल से पोछ कर  सुखा लें।
     
  2. अगर आपको किसी तरह के इन्फेक्शन का अंदेशा है तो अपने डॉक्टर से चेकअप कराएं
     
  3. डॉक्टरों की सलाह के मुताबिक ही दवाएं लें और आधा-अधूरा इलाज ना कराएं। कहने का मतलब ये कि डॉक्टर ने जितने दिनों की दवाएं और जो भी परहेज रखने को कहा हो उन सभी निर्देशों का पूरा पालन करें।
     
  4. प्रसव के बाद आपके शरीर को सामान्य होने में कुछ वक्त लगता है तो बेहतर यही रहेगा कि अपने बॉडी को जितना हो सके उतना रेस्ट दें।
     
  5. आपने जरूर सुना होगा कि जल ही जीवन है तो ज्यादा से ज्यादा मात्रा में पानी पिएं 
     
  6. अगर किसी तरह का कोई दवा आप सेवन कर रही हैं भले उस दवा को आपके डॉक्टर ने ही बताया लेकिन उसके कोई साइड इफेक्ट आप महसूस करती हैं तो तत्काल अपने डॉक्टर से संपर्क करें

इन कुछ उपायों को आजमा कर आप प्रसव के बाद संक्रमण के खतरे से खुद की और अपने बच्चे की रक्षा कर सकती हैं।

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

  • कमेंट
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.
+ ब्लॉग लिखें
टॉप स्वास्थ्य ब्लॉग
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}