• लॉग इन करें
  • |
  • रजिस्टर
स्वास्थ्य

क्या हैं बच्चों में कैंसर होने के प्रमुख लक्षण? क्या कहना है डॉक्टरों का पैरेंट्स से?

Prasoon Pankaj
1 से 3 वर्ष

Prasoon Pankaj के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Sep 21, 2019

क्या हैं बच्चों में कैंसर होने के प्रमुख लक्षण क्या कहना है डॉक्टरों का पैरेंट्स से

हम बहुत सारी बीमारियों से खुद को और अपने बच्चों को बचा सकते हैं अगर हम जागरुक रहें। जहां तक बात बच्चे की है तो निश्चित रूप से हम सभी अपने बच्चे का पूरा ध्यान रखते हैं लेकिन कई बार जानकारी और जागरुकता के अभाव में बच्चे गंभीर बीमारियों का शिकार बन जाते हैं। ऐसी ही एक बीमारी है कैंसर, जिससे हमें अपने बच्चे को बचाना है।  क्या आप जानते हैं कि दुनियाभर में तकरीबन 3 लाख बच्चे प्रत्येक साल कैंसर की गिरफ्त में आ रहे हैं, अगर अपने देश की बात करें तो आंकड़ों के मुताबिक हर साल 78 हजार बच्चे कैंसर के शिकार हो जाते हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन (वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन) ने भी इसको चुनौती मानते हुए साल 2030 तक तकरीबन 60 फीसदी बच्चों को कैंसर मुक्त करने का लक्ष्य तय किया है। हालांकि इसके साथ ही ये भी एक बड़ा सच है कि अगर पैरेंट्स अपने बच्चे के शुरुआती लक्षणों पर ध्यान देना शुरू कर दें तो फिर बहुत हद तक इलाज करने में और बच्चे को कैंसर मुक्त करने में सफलता मिल सकती है।

तो आइये इस ब्लॉग में जानते हैं कि बच्चों में कैंसर के प्रमुख लक्षण क्या हो सकते हैं इसके साथ ही एक निवेदन आपसे यह भी कि इस जानकारी को आप अन्य पैरेंट्स के साथ भी जरूर शेयर करें ताकि वे भी जागरुक हो सकें।
 

पैरेंट्स को कैंसर के इन प्रारंभिक लक्षणों के बारे में जानकारी होनी चाहिए / Signs & Symptoms of Cancer in Children

गैर सरकारी संगठन कैनकिड की संस्थापक पूनम बगई  जिन्होंने खुद कैंसर जैसी बीमारी को हराने में सफलता प्राप्त कर ली है, अब वे बच्चों को कैंसर से मुक्त करने की दिशा में सक्रियता के संग काम कर रही हैं। पूनम बगई के मुताबिक ये बहुत जरूरी है कि पैरेंट्स अपने बच्चे में होने वाले बदलावों औऱ लक्षणों पर ध्यान दें।

  1. एक्यूट लिम्फोब्लास्टिक ल्यूकेमिया, ब्रेन ट्यूमर, होज्किन्ज लिम्फोमा ये बच्चों में होने वाले प्रमुख कैंसर हैं।
     
  2. अगर बच्चे का शारीरिक व मानसिक विकास में देरी हो रही हो या फिर सामान्य रूप से ना हो रहा हो
     
  3. अचानक से बच्चे का वजन कम होने लगे
     
  4. अचानक से बच्चे को शरीर के किसी हिस्से से रक्त स्राव होने लगे
     
  5. शरीर के किसी हिस्से में बच्चे को गांठ उभरने लगे
     
  6. अगर इस तरह की बीमारी का फैमिली हिस्ट्री हो तो ज्यादा सतर्क रहें
     
  7. ल्यूकेमिया, ब्रेन ट्यूमर जैसे कैंसर आनुवांशिक वजहों से भी होते हैं
     
  8. हड्डियों में दर्द होना
     
  9. बच्चा अचानक से लंगड़ाने लगे या लड़खड़ाने लगे, अचानक से चलना छोड़ दे
     
  10. बच्चा अगर ज्यादातर समय ये कहे कि उसके पीठ में दर्द हो रहा है
     
  11. 2 हफ्ते से ज्यादा समय से सिर में दर्द का होना
     
  12. सुबह-सुबह अक्सर उल्टी का होना
     
  13. पेट, सिर, गर्दन, या हाथ पैर पर अचानक चर्बी बढ़ना नजर आने लगे
     
  14. लगातार बुखार का होना, उदास रहना


क्या कहना है डॉक्टरों का पैरेंट्स से? Advice for Parents

एक्शन कैंसर हॉस्पीटल में सीनियर कंसल्टेंट व पीडियाट्रीक हेमेटो ऑन्कोलॉजी डॉक्टर ऊष्मा सिंह का कहना है ज्यादातर मामलों में जानकारी के अभाव में बच्चे को बीमारी के तीसरे या चौथे चरण में ट्रीटमेंट के लिए लाया जाता है। अगर बीमारी का पता जल्द लग जाए तो फिर बच्चे को बीमारी से मुक्त करने में आसानी होती है। नोएडा के जेपी अस्पताल में सीनियर कंसल्टेंट व सर्जिकल ओन्कोलॉजिस्ट डॉ नितिन लीखा के मुताबिक वयस्कों और बच्चों में होने वाले कैंसर में बहुत अंतर होते हैं। डॉ नितिन लीखा का कहना है कि अपने देश में कैंसर के कुल मरीजों में बच्चों की संख्या तकरीबन 3 से 5 फीसदी तक है। सबसे ज्यादा परेशानी ग्रामीण व पिछड़े इलाकों में है जहां अस्पताल और आधुनिक चिकित्सा सेवाओं का नितांत अभाव है। हालांकि इसके साथ ही अच्छी बात यह है कि कैंसर से जूझ रहे बच्चों के जीवित बचने के मामलों में पिछले 30 वर्षों में काफी सुधार हुआ है। बच्चों में कैंसर के तकरीबन 70 फीसदी मामले इलाज के योग्य हैं। बस जरूरत इस बात की है कि हम कैंसर के शुरुआती लक्षणों को नजरंदाज ना करें और जल्द से जल्द चिकित्सा शुरू करवाएं। जागरुकता से ही बचाव मुमकिन है इसलिए पहले आप खुद जागरुक बनें और दूसरों को भी जागरुक करें।

 

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

  • कमेंट
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.
+ ब्लॉग लिखें
टॉप स्वास्थ्य ब्लॉग

Always looking for healthy meal ideas for your child?

Get meal plans
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}