स्वास्थ्य और कल्याण

स्तनपान से नहीं ख़राब होता फ़िगर, बल्कि मां को भी होते हैं कई फ़ायदे

Radhika Thombre
0 से 1 वर्ष

Radhika Thombre के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Aug 01, 2018

स्तनपान से नहीं ख़राब होता फ़िगर बल्कि मां को भी होते हैं कई फ़ायदे

आजकल लोग वापस प्राकृतिक चीज़ों को तवज्जो देने लगे हैं, इसलिए स्तनपान को लेकर जागरुकता भी बढ़ी है. बच्चे को कब तक ब्रेस्टफ़ीडिंग करानी है ये मां का फ़ैसला होना चाहिए, लकिन मांओं को भी ये फ़ैसला कुछ ज़रूरी बातों को ध्यान में रख कर लेना चाहिए. स्तनपान के बच्चों के लिए ही नहीं, मां के लिए भी कई शारीरिक और मानसिक फ़ायदे होते हैं. आज हम आपको इन्हीं फ़ायदों के बारे में बता रहे हैं.
 

1. पहला पीला दूध (खीस)

मां के दूध में मौजूद Colostrum, ज़िंक, कैल्शियम और विटामिन्स से भरा होता है. ये लैक्सेटिव के तौर पर काम करता है, जिससे बच्चे को पहला मल होता है. यदि ये ठीक से न हो, तो बच्चे को पीलिया होने का ख़तरा रहता है. ये बच्चे की अन्य कई रोगों से भी रक्षा करता है.
 

2. सही आहार

बच्चे के बड़े होने के साथ उसके शरीर की ज़रूरतें बदलती हैं, मां के दूध में इन ज़रूरतों के हिसाब से तत्व मौजूद होते हैं. मां के दूध का तापमान भी बच्चे के लिए एकदम सही होता है. मां का दूध पी रहे बच्चे को और कोई भी चीज़ देने की ज़रूरत नहीं पड़ती.
 

3. सवच्छ और आसान

बच्चे को बोतल से दूध पिलाने से उसे पूरी तरह स्वच्छ दूध नहीं मिल पाता. ब्रेस्टफ़ीड करने से मां को भी दूध को उबालने, बोतल को धोने, स्टरलाइज़ करने जैसे काम नहीं करने पड़ते. ब्रेस्टफ़ीडिंग से बच्चों की रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है.
 

4. प्राकृतिक गर्भनिरोधक

ब्रेस्टफ़ीडिंग करा रही महिलाओं को प्रेगनेंसी होने की कम सम्भावना होती है. ये उनके पीरियड्स के बीच के अंतर को बढ़ा देता है, जिससे बच्चों के बीच अंतर बना रहता है.
 

5. ये आपके शरीर के लिए अच्छा है

ब्रेस्टफ़ीड कराने वाली मां दूध पिलाते हुए एक दिन में 400 कैलोरी तक इस्तेमाल करती है. इससे स्तन ढीले होते हैं, ये एक मिथक है. दूध पिलाने के समय गर्भाशय सिकुड़ता है, जिससे उसे अपने सामान्य आकार में आने में मदद मिलती है.

 

 

 

 

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

  • 1
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.

| Aug 09, 2018

right

  • रिपोर्ट
+ ब्लॉग लिखें
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}