गर्भावस्था

गर्भवती महिलाओं को प्रदूषण के खतरे से बचाएंगे ये 5 टिप्स

Supriya Jaiswal
गर्भावस्था

Supriya Jaiswal के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Sep 26, 2018

गर्भवती महिलाओं को प्रदूषण के खतरे से बचाएंगे ये 5 टिप्स

वायु प्रदूषण हमारी श्वांस प्रणाली को प्रभावित करता है, जिससे सांस लेने में परेशानी होती है। इससे दमा, ब्रॉन्काइटिस, फेफड़ों का कैंसर, टीबी और निमोनिया जैसे कई रोगों का खतरा बढ़ जाता है। दुनिया भर के कई शहर प्रदूषण के स्तर में लगातार हो रही वृद्धि की समस्या से जूझ रहे हैं। गर्भवती महिलाओं को अपने और होने वाले बच्चे दोनों का ध्यान रखना चाहिए। साथ ही घर में हवा साफ करने वाले यंत्रों को ज़रूर प्रयोग में लाना चाहिए। दमा से पीड़ित गर्भवती महिलाओं को वायु प्रदूषण से बचने के लिए अत्यधिक प्रदूषण के समय घर से बाहर जाने से परहेज करना चाहिए। प्रदूषण में काम आने वाले टिप्स के बारे में जानने के लिए आगे पढ़े।

प्रदूषण के खतरे से बचने के लिए इन उपायों को आजमाएं / Try these remedies to avoid the risk of pollution

प्रदूषण गर्भवती महिलाओं को गंभीर रूप से प्रभावित कर सकते हैं। गर्भावस्था के पहले और दूसरे तिमाही में वायु प्रदूषण की वजह से समय से पहले बच्चे का जन्म या फिर बच्चे के कम वजन होने का खतरा बढ़ जाता है।

प्रेग्नेंसी के दौरान आपको खास ख्याल रखने की जरूरत होती है, महानगरों या शहरों में खास कर के प्रदूषण बड़ी समस्या बन कर सामने आ रहा है। ऐसे में अगर आप उपर बताए गए उपायों को आजमाकर प्रदूषण के खतरे से खुद को और अपने होने वाले बच्चे को सुरक्षित रख सकती हैं।

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

  • 1
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.

| Aug 15, 2018

Sahi kaha aapne supriya

  • रिपोर्ट
+ ब्लॉग लिखें
टॉप गर्भावस्था ब्लॉग
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}