• लॉग इन करें
  • |
  • रजिस्टर
गर्भावस्था

गर्भावस्था के अंतिम महीनों में क्या न करें

Deepak Pratihast
गर्भावस्था

Deepak Pratihast के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया May 17, 2020

गर्भावस्था के अंतिम महीनों में क्या न करें
विशेषज्ञ पैनल द्वारा सत्यापित

 गर्भावस्था के सफर में प्रत्येक महीने का अपना महत्व होता है और इस दौरान एक गर्भवती महिला को बेहद सावधानियां बरतने की आवश्यकता होती है। इस सबके बीच में गर्भवती महिला को कई तरह की तकलीफों का भी सामना करना होता है लेकिन बच्चे के आने की खुशी में वो सबकुछ सहन करती है। जैसे जैसे समय नजदीक आता है यानी गर्भावस्था अपने आखिरी महीनों में पहुंचता है, तकलीफें और बढ़ती हैं। इस दौरान गर्भवती को काफी सावधानी बरतने की जरूरत होती है। क्योंकि जरा सी लापरवाही बच्चे और मां दोनों के लिए नुकसानदायक हो सकती है। इस ब्लॉग में हम बताएंगे कि प्रेग्नेंसी के अंतिम महीनों में किन बातों का ध्यान रखना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए।

प्रेग्नेंसी के आखिरी महिनों में ज्यादा देखभाल व सावधानी की जरूरत / Last Month of Pregnancy Checklist In Hindi

प्रेग्नेंसी के आखिरी महीनों में गर्भवती को ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत होती है। गर्भवती का खान-पान, जीवनशैली, स्वास्थ्य हर चीज पेट में पल रहे बच्चे को भी प्रभावित करती है। किसी भी तरह की लापरवाही से बच्चे को भी नुकसान पहुंचता है। ऐसे में जरूरी है कि हर तरह से सावधानी बरती जाए। आइए जानते हैं कि इस दौरान गर्भवती को क्या नहीं करना चाहिए।

  1. शराब व तंबाकू का सेवन न करें – वैसे तो प्रेग्नेंसी के किसी भी महीने में शराब व तंबाकू का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि इससे शरीर को काफी नुकसान पहुंचता है। अगर आप ऐसा कर रहीं हैं तो आखिरी महीनों में तो इसे बिल्कुल बंद कर दें। इससे समय से पहले डिलिवरी व बच्चे में जन्म दोष का खतरा रहता है।
     
  2. जंक फूड – आखिरी महीनों में गर्भवती को जंक फूड नहीं खाना चाहिए। इनसे आपका पाचन खराब हो सकता है। इनमें किसी भी तरह का पोषक तत्व नहीं होता है। ऐसे में इनसे दूर रहना ही फायदेमंद है।
     
  3. कैफीन – कैफीन भी इस अवस्था में आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है। ऐसे में इससे भी दूरी बनाकर रखनी चाहिए। दरअसल चाय, कॉफी व चॉकलेट में बड़ी मात्रा में कैफीन होती है। यह शिशु के लिए ठीक नहीं है। इसलिए डॉक्टर गर्भावस्था में चाय, कॉफी व चॉकलेट से दूर रहने को कहते हैं। ऐसे में आपको इन चीजों का सेवन बंद कर देना चाहिए।
     
  4. सॉफ्ट चीज – प्रेग्नेंसी के आखिरी महीनों में सॉफ्ट चीज का सेवन भी आपको नहीं करना चाहिए। दरअसल इसमें यूज किया गया दूध गैर पॉश्युरिकृत होता है। इससे संक्रमण की आशंका रहती है।
     
  5. कच्चा मांस, अंडे व मछली – गर्भावस्था में उच्च मरकरी वाली मछली, कच्चा मांस व कच्चे अंडे खाने से भी परहेज करना चाहिए। दरअसल इससे भ्रूण के विकास में बाधा पहुंचती है। यही वजह है कि डॉक्टर इनका सेवन करने से मना करते हैं।
     
  6. सैकरीन (कृत्रिम मिठास) – सैकरीन को कृत्रिम तरीके से बनाया जाता है। यह एक तरह की मिठाई होती है। गर्भावस्था में इसका सेवन भी आपको नहीं करना चाहिए।
     
  7. तनाव न लें – बेशक आखिरी महीने काफी पीड़ादायक व कठिन होते हैं, लेकिन आपको इस अवस्था में किसी भी तरह का तनाव नहीं लेना चाहिए। तनाव से दोनों को नुकसान पहुंच सकता है। अगर आप वर्किंग हैं, तो ऑफिस से मैटरनिटी लीव ले लेनी चाहिए। कई बार काम की वजह से भी तनाव होता है।
     
  8. काम न करें – आखिरी महीने में गर्भवती को घर के कामों में भी नहीं उलझना चाहिए। उसे ज्यादा से ज्यादा आराम करना चाहिए।  इस अवस्था में कंप्लटी रेस्ट आपके व आपके पेट में पल रहे शिशु दोनों के लिए ही फायदेमंद होगा।
     
  9. बच्चे के जन्म के लिए जल्दबाजी न करें –  आजकल देखने में आ रहा है कि ज्योतिष व अच्छे मुहूर्त के चक्कर में डॉक्टर की ओर से बताई गई डेट से पहले डिलिवरी करा रहे हैं। यह हानिकारक भी हो सकता है। ऐसे में आपको इससे बचना चाहिए। डॉक्टरों के अनुसार, गर्भ में पूरा समय बिताने वाले बच्चे ज्यादा स्वस्थ होते हैं।
     
  10.  जल्दी डिलिवरी के लिए घरेलू नुस्खे न अपनाएं – कई गर्भवती महिलाएं जल्दी डिलिवरी के लिए घरेलू नुस्खे अपनाती हैं, जो खतरनाक है। इससे बच्चे को नुकसान पहुंच सकता है। आप ऐसा बिल्कुल न करें।
     
  11.  झुकने से बचें – इस महीने में गर्भवती को पेट के बल नीचे की ओर नहीं झुकना चाहिए। इसके अलावा भारी सामान उठाने से भी बचें। इससे शिशु को नुकसान पहुंच सकता है।
     
  12.  ज्यादा देर खड़ी न हों – गर्भावस्था के आखिरी महीनों में गर्भवती को ज्यादा देर तक खड़े नहीं होना चाहिए।

प्रेग्नेंसी के आखिरी महीने में इन बातों का रखें ध्यान / Things To Do Your Last Month of Pregnancy In Hindi

सावधानी बरतने के साथ ही आपको इस अवस्था में थोड़ा अलर्ट रहने की भी जरूरत है। आपको कुछ लक्षणों पर नजर रखना चाहिए और कोई भी समस्या होने पर डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। आइए जानते हैं कि क्या हैं वो लक्षण जिनका ध्यान रखना चाहिए।

  • हाथ-पैर में अगर सूजन आए तो
     
  • धुंधला दिखाने देना भी खतरनाक है
     
  • पानी की थैली फटने पर, दरअसल यह प्रसव का समय हो सकता है
     
  • योनि से ज्यादा रक्त स्राव होने पर
     
  • पेट में ज्यादा तेज दर्द होने पर
     
  • एक सप्ताह में एक किलो से अधिक वजन बढ़ने पर

इस समय में आप किसी भी नकारात्मक बातों के बारे में सोचना-विचारना बंद कर दें। अपने परिवार के साथ ज्यादा से ज्यादा समय बिताएं। मनोरंजक कार्यक्रम देखें और अच्छी किताबें पढ़ें। सिर्फ और सिर्फ सकारात्मक बातों पर चर्चा करें क्योंकि आने वाले समय में आपके जीवन में सब कुछ अच्छा होने वाला है। अपना ख्याल रखें।

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

इस ब्लॉग को पेरेंट्यून विशेषज्ञ पैनल के डॉक्टरों और विशेषज्ञों द्वारा जांचा और सत्यापित किया गया है। हमारे पैनल में निओनेटोलाजिस्ट, गायनोकोलॉजिस्ट, पीडियाट्रिशियन, न्यूट्रिशनिस्ट, चाइल्ड काउंसलर, एजुकेशन एंड लर्निंग एक्सपर्ट, फिजियोथेरेपिस्ट, लर्निंग डिसेबिलिटी एक्सपर्ट और डेवलपमेंटल पीड शामिल हैं।

  • 8
कमैंट्स ()
Kindly Login or Register to post a comment.

| Jun 01, 2019

thanks

  • Reply
  • रिपोर्ट

| Jun 29, 2019

nice

  • Reply
  • रिपोर्ट

| Jul 02, 2019

achha lga

  • Reply
  • रिपोर्ट

| Jul 24, 2019

good information thanks

  • Reply
  • रिपोर्ट

| Sep 26, 2019

nice

  • Reply
  • रिपोर्ट

| Mar 20, 2020

Nice

  • Reply
  • रिपोर्ट

| May 31, 2020

Ye bohot hi help full tips hai or in sabhi baato ko majak me na le or apni wife apne parivaar ka dhyan rakhe (thanks for tips).. 🙂

  • Reply
  • रिपोर्ट

| Jun 05, 2020

Nice

  • Reply
  • रिपोर्ट
+ ब्लॉग लिखें

टॉप गर्भावस्था ब्लॉग

Sadhna Jaiswal

आज के दिन के फीचर्ड कंटेंट

गर्भावस्था

Ask your queries to Doctors & Experts

Download APP
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}