• लॉग इन करें
  • |
  • रजिस्टर
पेरेंटिंग शिशु की देख - रेख

बच्चे का अचानक दूध पीना बंद कर देना, क्या हो सकते हैं कारण ?

Sadhna Jaiswal
0 से 1 वर्ष

Sadhna Jaiswal के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Jan 22, 2019

बच्चे का अचानक दूध पीना बंद कर देना क्या हो सकते हैं कारण

बच्चे का अचानक दूध पीना बंद कर देना, क्या हो सकते हैं कारण? सभी जानतें हैं कि माँ का दूध बच्चे के लिए अमृत के सामान होता है ये बच्चे को न केवल पोषण प्रदान करने का काम करता है, बल्कि उसे कई तरह की बीमारियों से लड़ने की क्षमता भी देता है, लेकिन कई बार नवजात शिशुओ में स्तनपान ना कर पाने के कारण ये एक चिंता का विषय बन जाता है। छोटे बच्चे जब भूख के कारण रोते है और सही प्रकार से दूध नहीं पी पाते तो ऐसे में समझ नहीं आता की क्या किया जाये, इसके लिए आपको कारण समझना होगा, कि हो सकता हो, बच्चे के शरीर में कोई दिक्क़त हो जिस कारण वह सही प्रकार से दूध ना पी पा रहा हो।

बच्चा अभी छोटा है तो वह बोलकर नहीं बता सकता, वह तो बस रोकर ही बता सकता है। इसके लिए आपको सही कारण को समझकर बच्चे के शरीर की जाँच करनी होगी, यदि फिर भी आपको समस्या समझने में दिक्क़त हो रही है तो आपको डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए। [जरूर जानें- 10 आहार से स्तनपान कराने वाली मां को सदैव बचना चाहिए

 

बच्चे का मां का दूध नहीं पीने के पीछे कारण और उनके उपाय / Why Newborn Not Drinking Breastmilk & Remedies in Hindi

अगर आपका बच्चा अचानक से आपका दूध पीना बंद कर दे, परेशान न हों। तो नीचे दी गयी बातों पर गौर करें और बताये गए उपायों को जरूर आजमाएं...

#1. स्तनों में दूध का कम होना -

यदि माँ के स्तनों में दूध नहीं उतर रहा है तो बच्चे को दूध पीने के लिए ज्यादा एनर्जी लगानी पड़ती है और बच्चा दूध नहीं पीना चाहता है।

उपाय: यदि आपके स्तनों में दूध की कमी हो गयी है तो, आप अलग से अपने शिशु को बोतल से भी दूध पिलाये जिससे की बच्चे की भूख शांत हो सके और उसे आवश्यकतानुसार आहार मिल सके।  
 

#2. स्तनों में दूध का तेज बहाव -

शिशु के स्तनपान के दौरान पहले यदि बच्चा खांसता है और स्तनों को मुंह से बाहर निकाल कर रोने लगता है या फिर कभी- कभी स्तनपान के दौरान ज्यादा खांसने लगे और उलटी करदे, तो इससे आपको समझ जाना चाहिए की आपके स्तनों में दूध का बहाव तेजी से आता है और इससे बच्चे को दूध पीने में परेशानी हो रही है। 

उपाय: ऐसी स्थिति में आप सीधे लेटकर अपने बच्चे को अपने पेट पर लिटाकर उसी स्थिति में दूध पीलाये  थोड़ी देर बाद जब बच्चा शांत हो जाये, तब आप चाहे तो अपनी स्थिति बदल भी सकती है, जिससे बच्चे को दूध पीने में आसानी होगी।
  

#3. सांस लेने में परेशानी -  

कई बार बच्चे सही प्रकार से सांस ना ले पाने के कारण भी दूध नहीं पी पाते और रोने लगते है। स्तनपान करते समय बच्चा मुँह का इस्तेमाल साँस लेने के लिए नहीं कर सकता हैं। और ऐसी स्थिति में बच्चे को दूध पीने में दिक्क़त आती है। 

उपाय: ऐसे में आपको बच्चे की नाक में नोजल स्प्रे डालना चाहिए या फिर बच्चे की नाक को आराम-आराम से साफ़ करने की कोशिश करनी चाहिए। 
 

#4. बच्चे के पेट में समस्या -

अक्सर नवजात शिशुओ में पेट दर्द, पेट में गैस या फिर कब्ज की समस्या देखी जा सकती है, ऐसे में आपको बच्चे का पेट हल्के हाथों से दबाकर देखना चाहिए। यदि बच्चा पेट के छूने पर रोने लगता है या कराहने लगता है तो बच्चे के पेट में कब्ज या गैस की समस्या हो सकती है, ऐसे में पहले आपको बच्चे की पेट की समस्या का उपाय करना होगा।     

उपाय: बच्चे को गैस की समस्या से राहत दिलाने के लिए बच्चे को डकार दिलाएं। उसे अपने कंधे पर सुलाकर  हाथों से बच्चे की पीठ को सहलाये।   
 

#5. दांत निकलना - 

जब दांत निकाल रहे होते है तो भी बच्चे अचानक दूध पीना छोड़ देते है और हम समझ नहीं पाते की बच्चे को क्या हुआ। शुरुआत में बच्चे के मुंह में दूध पीते वक्त दांत चुभने लगते है और बच्चे दूध आसानी से नहीं पी पाते। 

उपाय - जब बच्चे का दांत निकल रहा हो तो ऐसे में बच्चे को गाय का दूध या टोंड मिल्क दे, इसके साथ बच्चे को मुंग दाल का पानी भी देना बेहतर होगा। 
 

#6. बुखार की समस्या - 

बच्चा यदि बुखार में है तो भी बच्चा दूध नहीं पी पायेगा, क्योकि ऐसे में बच्चा ज्यादा एनर्जी नहीं लगा पाता थका हुआ महसूस करता है, तो सबसे पहले बच्चा दूध पीना छोड़ देता है।

उपाय - जैसे ही आपको शिशु के शरीर में बुखार की अनुभूति होती है वैसे ही सबसे पहले आपको नरम कपडे को पानी में भिगोकर ठंड़ी पट्टी शिशु के सिर पर रखनी चाहिए। और डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।  
 

#7. शरीर में दर्द -

बच्चे के शरीर में भी कोई दिक्क़त हो सकती है। जैसे रैशेश, कान में दर्द, या फिर शरीर के किसी हिस्से में दर्द हो सकता है, जिसके कारण बच्चा रोता हो और दूध पीना छोड़ देता है। 

उपाय - ऐसी समस्याओं को समझ कर इसकी सलाह डॉक्टर से लेनी चाहिए। 

 

कई बार बच्चे- अचानक से स्तनपान करना बंद कर देते है, इसका मतलब साफ है कि बच्चे को कुथ शारीरिक समस्या है। बच्चे की सही तकलीफ की पहचान कर ऊपर दिए गए इन उपायों को अपनाए और अपने डॉक्टर से जरूर परामर्श लें।

 

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

  • 11
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.

| Apr 14, 2019

thanks... mere bhache ko dudh nhi.... pine ki problem thi Karen pata chal gya

  • रिपोर्ट

| Mar 28, 2019

mera baby 6 month ka but maa ka dudh nhi pita h uske acche health k liy kya kru

  • रिपोर्ट

| Feb 25, 2019

meri beti 3 mahine ki h wo doodh ni piti bhut chidchidati h roti h dant b ate h uske or sutia b lgti h plz btaye mai kya kruu is situation me

  • रिपोर्ट

| Feb 24, 2019

plz muje btao baby ko kya de skte hai plz ans

  • रिपोर्ट

| Feb 24, 2019

mera baby 7 mahine ka h to kya khilana chahiy

  • रिपोर्ट

| Feb 20, 2019

meri bachi 6mahine ki or wo moti ni ho rahi he patil............ aap btao mujhe kiya krna chaiye

  • रिपोर्ट

| Jan 28, 2019

mera baby 24 days He vo feed karte waqt rota e or thik se feed nai Kar pa raha

  • रिपोर्ट

| Jan 24, 2019

baccho ko kb tk maa ka dudh pilana chhiye

  • रिपोर्ट

| Jan 22, 2019

Bacche ko need kam aati hai

  • रिपोर्ट

| Jan 22, 2019

k on k OK Moo 🐮 no pimp plump no*kpolo kokok**m*k🐈

  • रिपोर्ट

| Oct 06, 2018

  • रिपोर्ट
+ ब्लॉग लिखें
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}