पेरेंटिंग शिशु की देख - रेख

आप बच्चे के साथ विमान में सफर कर रहे हैं तो इन बातों का जरूर रखें ध्यान

Prasoon Pankaj
0 से 1 वर्ष

Prasoon Pankaj के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Aug 01, 2018

आप बच्चे के साथ विमान में सफर कर रहे हैं तो इन बातों का जरूर रखें ध्यान

बेंगलुरू से पटना जा रहे एक विमान में मंगलवार को एक दर्दनाक हादसा हो गया। विमान में सफर के दौरान ही चार महीने के एक शिशु को सांस लेने में तकलीफ महसूस हुई और हैदराबाद एयरपोर्ट पर इस बच्चे की मौत हो गई। बच्चे की तबियत बिगड़ने पर विमान को हैदराबाद ले जाने का फैसला किया गया। हैदराबाद हवाई अड्डे पर विमान के लैंड करने के बाद बच्चे को एंबुलेंस की मदद से फौरन एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया लेकिन बच्चे की जान नहीं बचाई जा सकी। बच्चा अपने माता-पिता के साथ इंडिगो की विमान से पटना जा रहा था। हर हादसे से हमें सबक लेनी चाहिए तो आज हम आपको इस ब्लॉग में बताने जा रहे हैं कि अगर बच्चे के साथ विमान का सफर कर रहे हैं तो किन बातों का ध्यान रखना चाहिए और किन बातों को करने से परहेज करना चाहिए।

विमान में सफर करने के दौरान बच्चे को किस तरह की परेशानियां आ सकती हैं /   What to Keep in Mind while Traveling in the Plane In Hindi

  • कान में दर्द- विमान में सफर करने के दौरान हवा का दबाव बढ़ जाने के कारण कान में दर्द की समस्या पैदा हो सकती है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि उड़ान के समय कान के मध्य वाले हिस्से पर तेजी से दबाव पड़ता है और यही वजह है कि कान में दर्द की समस्या हो जाती है। अधिकांश बच्चों में इस तरह की समस्या विमान के टेक ऑफ और लैंडिंग के समय ज्यादातर होती है। 
  • उल्टी की समस्याएं- हवाई यात्रा के दौरान उल्टी की परेशानी का भी सामना करना पड़ सकता है। बच्चों के केस में इस तरह की समस्याएं ज्यादातर देखने को मिलती है। चूंकि विमान के अंदर हवा का दबाव कम नहीं हो पाता है और ऐसी परिस्थिति में इस तरह की परेशानी पैदा हो जाती है। 
  • डिहाइड्रेशन- विमान के अंदर आपके बच्चे को डिहाइड्रेशन की समस्या का भी सामना करना पड़ सकता है। हमारा शरीर 50 फीसदी आद्रता में सही काम करता है लेकिन विमान के केबिन की नमी 10 फीसदी से भी कम होती है और यही वजह है कि डिहाइड्रेशन की समस्या बढ़ जाती है।
  • सांस लेने की समस्या- विमान के अंदर बच्चे को सांस लेने की भी तकलीफ हो जाती है जैसा कि बेंगलुरु से पटना आ रहे चार महीने के शिशु के केस में देखने को मिला है। 
  • सर्दी जुकाम की समस्या- बच्चे अगर विमान में सफर करने से पहले ही सर्दी जुकाम की समस्या से पीड़ित हैं तो इस दौरान बढ़ने की संभावनाएं भी बनी रहती है।

विमान के अंदर बच्चे को होने वाली समस्याओं से ऐसे निपटें /Advice To Avoid Problems Inside Airplane In Hindi

  • कान के दर्द की समस्या से बचने के लिए बड़े लोग तो मुंह में च्युइंगगम जैसी चीजें दबाते रहते हैं या फिर अपने नाक को बंद कर मुंह को फुलाते हैं और इस प्रक्रिया से उनको बहुत आराम भी मिलता है लेकिन छोटे बच्चे तो कुछ चबा नहीं पाएंगे और ना ही अपने मुंह को फुला सकते हैं। बिहार के दरभंगा में मेट्रो हॉस्पीटल के डायरेक्टर डॉ सलीम अहमद ने कहा कि छोटे बच्चे को विमान में स्तनपान कराते रहना चाहिए या फिर अगर आपका बच्चा चुसनी को मुंह में रख कर चूसता है तो तो इससे भी दर्द की समस्या कम होगी। इसका अलावा डॉ सलीम का कहना है कि अगर बच्चा विमान में रो रहा है तो उसको जबरन चुप कराने का प्रयास नहीं करना चाहिए बल्कि इस दौरान उसको हल्की थपकी देते रहना चाहिए। 
  • विमान के अंदर उल्टी की समस्या से बचने के लिए बच्चे के मन को बहलाने का प्रयास करिए। 
  • डिहाइड्रेशन की समस्या से बचने के लिए बच्चे को टेकऑफ या लैडिंग के दौरान पानी या फिर कोई अन्य तरल पदार्थ जरूर पिला दें ताकि इस तरह की समस्या से बचा जा सके।

 

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

  • कमेंट
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.
+ ब्लॉग लिखें
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}