• लॉग इन करें
  • |
  • रजिस्टर
स्वास्थ्य

दांत स्वस्थ रखने के लिए बच्चे क्या खाएं व क्या नहीं

Deepak Pratihast
3 से 7 वर्ष

Deepak Pratihast के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Dec 08, 2019

दांत स्वस्थ रखने के लिए बच्चे क्या खाएं व क्या नहीं
विशेषज्ञ पैनल द्वारा सत्यापित

हमारे शरीर के अंगों में दांत का अपना खास महत्व है। अच्छे दांत हमारी पर्सैनिलिटी में चार चांद लगाते हैं।  पर दांत को स्वस्थ व साफ रखना इतना आसान नहीं है। इसके लिए बहुत सावधानी बरतनी पड़ती है। अगर सावधानी की ये आदत बचपन से लग जाए तो बहुत बेहतर रहता है और दांत हर हाल में साफ, स्वस्थ व मजबूत रहते हैं। आज हम आपको बताएंगे कि आखिर बच्चे के दांतों को स्वस्थ रखने के लिए उन्हें क्या खिलाएं और क्या न खिलाएं।


स्वस्थ दांत के लिए बच्चों को दें ये आहार/ Give These Foods To Your Child for Healthy Teeth In Hindi

जैसा कि आप अच्छे से जानते होंगे कि स्वस्थ आहार से ही स्वस्थ शरीर का निर्माण होता है और ये बात दांतों पर भी पूरी तरह से खरा उतरता है। अब हम आपको कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों का नाम बताने जा रहे हैं जिनको खाने से आपके बच्चे के दांत स्वस्थ और मजबूत बने रहेंगे।

 

  • फाइबर –  किशमिश, अंजीर, केला, सेब, संतरा, सेम, मूंगफली, बादाम, चोकर और मटर आदि में प्रचूर मात्रा में फाइबर होते हैं। इनके सेवन से मुंह में स्लाइवा पूरी मात्रा में बनता है। स्लाइवा दांतों को कैविटी से बचाने व स्वस्थ रखने में मदद करता है।
     
  • विटामिन सी – दरअसल विटामिन सी, फल व सब्जियों में एंटीऑक्सीडेंट विटामिन मौजूद होते हैं। इसमें मौजूद पोषक तत्व वैक्टीरिया से दांतों को बचाते हैं। इसके अलावा कच्ची सब्जियां और फल भी कैविटी से लड़कर दांतों को सुरक्षित बनाते हैं। अपने बच्चे के खाने में केला, सेब, संतरा और गाजर आदि को शामिल करें।
     
  • कैल्शियम – दांतों को मजबूत और कैविटी मुक्त बनाने के लिए कैल्शियम लेना बहुत जरूरी है। दूध व दूध से बनी चीजों जैसे दही व पनीर के अलावा सोयाबीन, मूंगफली, सूरजमुखी के बीज व हरी सब्जियों में काफी मात्रा में कैल्शियम होता है। इस ब्लॉग को जरूर पढ़ लें:- जानिए आपके बच्चे के लिए कैल्शियम क्यों और कितना जरूरी है
     
  • प्याज और मशरूम – दांतों को मजबूत और कैविटी मुक्त रखने के लिए ये बेहतर आहार है। प्याज मुंह में उत्पन्न बैक्टीरिया को खत्म करता है, जबकि मशरूम बैक्टीरिया को बनने से रोकता है। बच्चों को ये दोनों चीजें जरूरी दें।
     
  • साबुत अनाज –  साबुत अनाज में विटामिन बी और लौह तत्व काफी मत्रा में होता है। यह मसूड़ों को स्वस्थ रखने और दांतों कैविटी से बचाने में मदद करता है। 


इन चीजों को बच्चे को खिलाने से करें परहेज/ Avoid these things by feeding the baby in Hindi

कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ हैं जिसको खाने के लिए बच्चे लालायित रहते हैं यानि की इन चीजों को खाने के लिए आपके बच्चे जिद भी कर सकते हैं लेकिन दांतों की सुरक्षा के लिहाज से ये सामान बेहद नुकसानदेह हो सकते हैं। तो हमारी सलाह है कि आप अपने बच्चे को जहां तक संभव हो सके इन चीजों से दूर ही रखें।

  • कोल्ड ड्रिंक्स – बच्चे को कोल्ड ड्रिंक्स देने से परहेज करें। कभी–कभार तो ये चल सकता है, लेकिन इसका अधिक मात्रा में सेवन करने से उसके दांत खराब हो सकते हैं। दरअसल कोल्ड ड्रिंक्स में बहुत ज्यादा शुगर घुला होता है।इउन्हें कार्बोनेटेड पानी से बनाया जाता है। ऐसे में यह एसिडिक होते हैं। एसिडिक और शुगर घुला होने की वजह से ये दांतों को नुकसान पहुंचाता है। 
     
  • कैंडी, चॉकलेट व टॉफी से दूर रखें – बच्चों को कैंडी बहुत पसंद आती हैं। ऐसे में वह अधिक मात्रा में कैंडी खाते हैं, लेकिन ये दांतों को नुकसान पहुंचाती हैं। दरअसल कुछ कैंडी दांतों के कोनों, गड्ढों व ऊपरी परत पर चिपक जाती हैं। इससे दांत कमजोर हो जाते हैं और पीले होकर धीरे-धीरे सड़ने लगते हैं। 
     
  • चिप्स न दें - बच्चे चिप्स खाना भी बहुत पसंद करते हैं, लेकिन ये भी उनके दांतों के लिए नुकसानदायक है। पैकेटबंद चिप्स में काफी मात्रा में स्टार्च होता है। चिप्स के कण दांतों के बीच फंस जाते हैं। वहीं स्टार्च की वजह से ये कण बैक्टीरिया को आमंत्रित करते हैं। बैक्टीरिया दांतों को कमजोर बनाता है  और दांत सड़ने लगते हैं। ऐसे में कोशिश करें कि बच्चों को चिप्स न दें। अगर बहुत जरूरी हो, तो चिप्स खाने के बाद बच्चे को कुल्ला करने के लिए जरूर कहें।
     
  • व्हाइट ब्रेड –  सादा व्हाइट ब्रेड खाना भी आपके बच्चे के दांतों को नुकसान पहुंचाता है। ब्रेड रिफाइंड मैदे से बनाया जाता है, यही वजह है कि कई बार ब्रेड के छोटे-छोटे टुकड़े दांतों के कोनों में फस जाते हैं। ये नुकसानदायक होता है। ब्रेड एक तरह से कार्बोहाइड्रेट होता है और खाते ही लार के साथ मिलने पर शुगर के रूप में बदलने लगता है। इससे भी दांतों को नुकसान पहुंचता है। 
     
  • कॉफी – कई पैरेंट्स बच्चों को कम उम्र से ही चाय व कॉफी की आदत लगा देते हैं। ये गलत है। बच्चों को कॉफी देने से बचें, इससे उनके दांत खराब होते हैं। दरअसल कॉफी में एसिडिक गुण होते हैं, इसके सेवन से मुंह का पीएच काफी कम हो जाता है। इससे दांत कमजोर होकर खोखले होने लगते हैं। इसके अलावा कॉफी डार्क ड्रिंक होता है, इसके अधिक सेवन से दांत पर एक पीली परत बन जाती है।

अगर इन उपायों को आपने आजमाया और अपने बच्चे को इन खाद्य पदार्थों को खाने से परहेज रखा तो आप निश्चिंत रह सकते हैं कि आपके बच्चे के दांत मजबूत और स्वस्थ हमेशा बने रहेंगे।

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

इस ब्लॉग को पेरेंट्यून विशेषज्ञ पैनल के डॉक्टरों और विशेषज्ञों द्वारा जांचा और सत्यापित किया गया है। हमारे पैनल में निओनेटोलाजिस्ट, गायनोकोलॉजिस्ट, पीडियाट्रिशियन, न्यूट्रिशनिस्ट, चाइल्ड काउंसलर, एजुकेशन एंड लर्निंग एक्सपर्ट, फिजियोथेरेपिस्ट, लर्निंग डिसेबिलिटी एक्सपर्ट और डेवलपमेंटल पीड शामिल हैं।

  • 2
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.

| Jul 19, 2019

मेरी बेटी 5 साल की है ओर उसे भूक नहीं लगती जबरदसती खिलाना पड़ता है तो मैं क्या करूं

  • रिपोर्ट

| May 07, 2019

nice block

  • रिपोर्ट
+ ब्लॉग लिखें
Deepak Pratihast
मॉमबेस्डर
आज के दिन के फीचर्ड कंटेंट
आज का पैरेंटून
पैरेंटिंग के गुदगुदाने वाले पल

Ask your queries to Doctors & Experts

Download APP
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}