• लॉग इन करें
  • |
  • रजिस्टर
खाना और पोषण गर्भावस्था

9 मंथ प्रेगनेंसी डाइट चार्ट/प्रेगनेंसी आहार प्लान - क्या खाएं और क्या न खाएं ?

Deepak Pratihast
गर्भावस्था

Deepak Pratihast के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Mar 17, 2020

9 मंथ प्रेगनेंसी डाइट चार्टप्रेगनेंसी आहार प्लान क्या खाएं और क्या न खाएं
विशेषज्ञ पैनल द्वारा सत्यापित

प्रेग्नेंसी का नौवां महीना यानी आखिरी पड़ाव। इसमें बच्चे के आने का इंतजार होने लगता है। इस इंतजार की वजह से कई गर्भवती बेचैन व परेशान होने लगती हैं। ये बेचैनी व परेशानी दोनों के लिए ही ठीक नहीं है। ऐसे में नौवें महीने में आहार से लेकर हर तरह की चीजों पर खास ध्यान देने की जरूरत होती है। इस अवस्था में जरा सी लापरवाही आपको व आपके बच्चे को नुकसान पहुंचा सकती है। अगर आप भी नौवें महीने में हैं, तो ये ब्लॉग आपके लिए खास है। इसमें हम आपको बताएंगे कि आखिर नौवें महीने में गर्भवती को किस तरह के आहार लेने चाहिएं और किनसे दूर रहना चाहिए।

गर्भावस्था के नौवें महीने में क्या आहार लें / 9th Month Pregnancy Diet In Hindi

गर्भावस्था के पहले दिन से लेकर आखिरी दिन तक मां को कई तरह की दिक्कतों से गुजरना पड़ता है। नौवें महीने में परेशानी और ज्यादा हो जाती है। ऐसे में यहां पहले से भी ज्यादा ध्यान देने की जरूरत होती है। क्योंकि आहार से ही आपका व पेट में मौजूद शिशु का स्वास्थ्य जुड़ा है। ऐसे में आपका बेहतर आहार लेना जरूरी है। आइए जानते हैं कि आपको नौवें महीने में कौन-कौन से आहार लेने चाहिए।

  1. कैल्शियम युक्त आहार – प्रेग्नेंसी के नौवें महीने में भी आपको कैल्शियम युक्त आहार पर्याप्त मात्रा में लेना चाहिए। यह आपको काफी फायदा पहुंचाएंगे। कैल्शियम के लिए आप दूध, दही, मक्खन, पनीर, साग, दलिया, बादाम व तिल के बीज को आहार में ले सकती हैं। जानिए यहां : कैल्शियम कितना जरुरी है आपकी गर्भावस्था के लिए

  2. आयरन युक्त भोजन – गर्भावस्था के हर महीने में आयरन युक्त आहार लेना फायदेमंद होता है, लेकिन नौवें महीने में आकर इसका महत्व और बढ़ जाता है। यह आपको व बच्चे को स्वस्थ रखता है। आयरन के लिए आप मछली, चिकन, अंडे की जर्दी, ब्रोकली, मसूर, मटर, पालक, सेब, जामुन, सोयाबीन, किशमिश व खजूर जैसी चीजों को अपने आहार में शामिल कर सकती हैं। अगर मांसाहारी हैं तो चिकन और मीट भी ले सकती हैं।

  3. फाइबर युक्त भोजन – नौवें महीने में आपको फाइबर युक्त आहार का भी सेवन ठीक से करते रहना चाहिए। यह आपको कब्ज जैसी समस्या से दूर रखता है। फाइबर के लिए हरी सब्जियां, फल, साबुत अनाज, ओट्स, ब्रेड खजूर व दालें बेहतरीन विकल्प हैं। इनमें प्रचूर मात्रा में फाइबर होता है।

  4. विटामिन सी युक्त आहार –  शरीर में आयरन को अवशोषित करने के लिए विटामिन सी का पर्याप्त मात्रा में सेवन बहुत जरूरी है। नौवें महीने में आपको विटामिन सी युक्त आहार भी रोजाना लेना चाहिए। इसके लिए आप आहार में नींबू, संतरा, स्ट्रॉबेरी, गोभी व टमाटर जैसी चीजों को शामिल कर सकती हैं। जरूर पढ़ लें इसे : जानें विटामिन C से जुड़े कुछ फायदे आपकी गर्भावस्था के लिए

  5. फोलेट युक्त भोजन – फोलेट का सेवन शिशु की रीढ़ की हड्डी को मजबूत करने के साथ ही उसके मस्तिष्क के विकास में भी अहम भूमिका निभाता है। ऐसे में आपको फोलेट युक्त आहार भी रोजाना करना चाहिए। हरी पत्तेदार सब्जियों, बीन्स, छोले और मटर में फोलेट प्रचूर मात्रा में होता है।

  6. विटामिन ए युक्त आहार – गर्भावस्था के नौवें महीने में आपको विटामिन ए युक्त खाद्य पदार्थ का भी सेवन करना चाहिए। इसके लिए आप पालक, गाजर, शकरकंद, खरबूज आदि को अपने आहार में शामिल करें। इसको भी पढ़ें : गर्भावस्था में विटामिन की अधिकता के क्या हैं नुकसान?

प्रेग्नेंसी के 9वें महीने में क्या नहीं खाएं  / Foods To Avoid During Your Ninth Month Of Pregnancy In Hindi 

गर्भावस्था के दौरान ऐसी कई चीजें हैं जिनका सेवन करने से मां और बच्चे दोनों को नुकसान पहुंच सकता है। मां के लिए जरूरी है कि वह इस तरह के आहार से दूरी ही बनाकर रखे। आइए जानते हैं कि किन आहारों का सेवन नौवें महीने में नहीं करना चाहिए।

  1. सैकरीन (कृत्रिम मिठास) – सैकरीन एक तरह की मिठास है, जिसे कृत्रिम तरीके से तैयार किया जाता है। गर्भावस्था के किसी भी महीने में इसका सेवन नहीं करना चाहिए, लेकिन नौवें महीने में तो इसका इस्तेमाल बिल्कुल ही न करें।

  2. कच्चा मांस, अंडे व मछली – गर्भावस्था के नौवें महीने में भी आपको उच्च मरकरी वाली मछली, कच्चे मांस व कच्चे अंडे को खाने से परहेज करना चाहिए। इनमें से कोई भी चीज लेने से बच्चे को नुकसान पहुंच सकता है।

  3. कैफीन – प्रेग्नेंसी में डॉक्टर कॉफी, चाय व चॉकलेट का सेवन न करने की सलाह देते हैं। इन चीजों में कैफीन की मात्रा अधिक होती है, जो शिशु को नुकसान पहुंचा सकता है। अगगर चाय या कॉफी की लत बहुत अधिक है, तो एक या दो कप से अधिक चाय न पीएं।

  4. सॉफ्ट चीज -  सॉफ्ट चीजों का सेवन भी नौवें महीने में नहीं करना चाहिए। दरअसल इनका निर्माण गैर प्रॉश्युरीकृत दूध से होता है। ऐसे में इससे संक्रमण का खतरा रहता है।

  5. जंक फूड – जंक फूड से भी आपको नौवें महीने में पूरी तरह दूर रहना चाहिए। इनका सेवन भी नुकसानदायक हो सकता है। इससे आपका पाचन खराब होगा और पोषक तत्व भी नहीं मिलेगा।

  6. शराब व तंबाकू – आप शराब व तंबाकू का सेवन भी इस अवधि में न करें। इन दोनों के सेवन से बच्चे में किसी तरह के दोष होने का खतरा रहता है।

 बेहतर आहार आपको आम दिनों में भी स्वस्थ रखता है। अगर बात गर्भावस्था की हो तो अच्छे आहार पर ज्यादा फोकस करना चाहिए। क्योंकि इससे न सिर्फ आप बल्कि पेट में पल रहा शिशु भी स्वस्थ रहेगा और आपको डिलीवरी में किसी तरह की दिक्कत नहीं होगी। .

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

इस ब्लॉग को पेरेंट्यून विशेषज्ञ पैनल के डॉक्टरों और विशेषज्ञों द्वारा जांचा और सत्यापित किया गया है। हमारे पैनल में निओनेटोलाजिस्ट, गायनोकोलॉजिस्ट, पीडियाट्रिशियन, न्यूट्रिशनिस्ट, चाइल्ड काउंसलर, एजुकेशन एंड लर्निंग एक्सपर्ट, फिजियोथेरेपिस्ट, लर्निंग डिसेबिलिटी एक्सपर्ट और डेवलपमेंटल पीड शामिल हैं।

  • 3
कमैंट्स ()
Kindly Login or Register to post a comment.

| Mar 25, 2019

Mera beta six month ka hogya Hai 2 din se uski eyes mein se pani, kharish, or yellow liquid Sa bhai aa rha Hai kya Kare is ke liye.

  • Reply
  • रिपोर्ट

| Apr 03, 2019

o I I i

  • Reply
  • रिपोर्ट

| Aug 26, 2020

Meri 2 mnth prgncy h bt mujhse khana bilkul bhi nhi kaya ja raha kya kru

  • Reply
  • रिपोर्ट
+ ब्लॉग लिखें

टॉप खाना और पोषण ब्लॉग

Sadhna Jaiswal

आज के दिन के फीचर्ड कंटेंट

गर्भावस्था

Ask your queries to Doctors & Experts

Download APP
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}