खाना और पोषण गर्भावस्था

प्रेग्नेंसी में अंडे का सेवन करना कितना सही ?

Prasoon Pankaj
गर्भावस्था

Prasoon Pankaj के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Dec 17, 2018

प्रेग्नेंसी में अंडे का सेवन करना कितना सही

प्रेग्नेंसी में आपके आहार, विचार और व्यवहार का सीधा असर आपके होने वाले शिशु पर होता है। इस दौरान आप जो कुछ भी खाती हैं आपके शिशु को उसी से पोषण मिलता है। गर्भावस्था के दौरान आपके विचार जितने सकारात्मक होंगे ये आपके शिशु के मानसिक विकास के लिए भी महत्वपूर्ण हो जाता है ठीक उसी तरह आपके व्यवहार में भी तनाव का असर नहीं दिखना चाहिए। प्रेग्नेंसी के दौरान ये बहुत जरूरी है कि आप क्या खाती हैं और किन चीजों से आपको परहेज रखना चाहिए। तो आइये इस ब्लॉग में जानते हैं कि क्या प्रेग्नेंसी के दौरान अंडा खाना सही है इसके अलावा अंडे को खाने का उचित तरीका क्या हो सकता है?

 

प्रेग्नेंसी में अंडा खाने के फायदे / The Benefits of Eating Eggs During Pregnancy In Hindi

जैसा कि हम जानते हैं कि अंडा कई प्रकार को पोषक तत्वों से भरपूर है और यही वजह है कि अंडे को सुपरफूड भी कहा जाता है। नेशनल एग कॉरपोरेशन का वो विज्ञापन तो आपको जरूर याद होगा जिसका पंचलाइन यही है कि संडे हो या मंडे रोज खाओ अंडे। तो आइये जानते हैं कि प्रेग्नेंसी के दौरान अंडा खाने से आपको और होने वाले शिशु को कितने फायदे होते हैं।

 

  1. अंडे को लेकर एक रिसर्च- साल 2016 में एक रिसर्च के मुताबिक अगर गर्भवती महिलाएं अंडे का सेवन करती हैं तो उनका बच्चा स्मार्ट होता है। यूरोपियन फूड सेफ्टी अथॉरिटी के मुताबिक अंडा में कोलीन नामका पोषक तत्व पाया जाता है। कोलीन के प्रभाव की वजह से प्रेग्नेंट महिलाएं ना सिर्फ स्वस्थ रहती हैं बल्कि होने वाले बच्चे के मस्तिष्क, स्पाइनल कॉड और उनकी सीखने की क्षमता में भी तीव्र गति से विकास होता है। प्रेग्नेंसी के दूसरे महीने से ही कोलीन का उचित मात्रा में सेवन शुरू कर देने से होने वाले शिशु की मेमोरी पॉवर और लर्निंग कैपेसिटी की क्षमता में निरंतर प्रगति होती रहती है। इस ब्लॉग को जरूर पढ़ लें:- प्रेगनेंसी के दौरान क्या खाना चाहिए और क्या नहीं
     
  2. प्रोटीन- अंडा प्रोटीन से भरपूर होता है। प्रोटीन आपके स्वस्थ्य और आपके होने वाले शिशु के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है।
     
  3.  अंडा में ओमेगा-3 फैटी एसिड भी पाया जाता है। मानसिक विकास के लिए ये बहुत जरूरी होता है।
     
  4. कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल में रखता है- अंडा खाने से कोलेस्ट्रॉल का लेवल नियंत्रित रहता है और इसका सेवन करने से सैचुरेटेड फैट का स्तर भी बैलेंस्ड रहता है। लेकिन ध्यान रखें कि अगर आपका कोलेस्ट्रॉल का लेवल ठीक है तो आप 1 दिन में 1 या 2 अंडे तक खा सकती हैं लेकिन अगर ये हाई है तो इसका सेवन ना करें या फिर अंडे के सफेद वाले हिस्से को ही खाएं।

प्रेग्नेंसी के दौरान अंडा खाने का सही तरीका क्या है और क्या इसके कुछ नुकसान भी हैं? / Is It Harmful To Eat Eggs During Pregnancy In Hindi?

 

आप एक बात को जान लें कि कोई भी खाद्य पदार्थ भले वो कितना ही फायदेमंद क्यों ना हो लेकिन अगर आपने उसको गलत तरीके से सेवन कर लिया तो उसके नुकसान भी हो सकते हैं। अंडे के साथ भी कुछ ऐसा ही है। प्रेग्नेंसी के दौरान अंडा किस तरीके से खाना चाहिए इसके बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं।

  • प्रेग्नेंसी के दौरान आप कभी भी कच्चा अंडा ना खाएं
     
  • हाफ ब्वाइल यानि की आधा उबला अंडा भी इस समय में नहीं खाना चाहिए
     
  • कच्चा या आधा उबला अंडा खाने से इन्फेक्शन की शिकायत हो सकती है और ये समय से पूर्व प्रसव, डिहाइड्रेशन, दस्त और उल्टी जैसी समस्याएं पैदा कर सकता है।
     
  • पूरी तरह से उबला हुआ अंडा ही खाएं।
     
  • अगर अच्छे से उबालकर अंडे नहीं खाया गया तो प्रेग्नेंसी के दौरान सलमोनेला पॉइजनिंग का खतरा हो सकता है। हालांकि इससे आपके शिशु को कोई समस्या नहीं होती है लेकिन आपको कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है जैसे कि पेट दर्द या डायरिया वगैरह।
     
  • आप दिन में 1 से 2 अंडे तक खा सकती हैं लेकिन अगर आपका वजन अत्यधिक बढ़ गया है या कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ा हुआ है तो अंडा खाने से परहेज रखें। 

 कुछ लोगों को अंडा खाने से भी एलर्जी हो सकती है तो उन परिस्थितियों में अंडा ना खाएं। अपने डॉक्टर की सलाह के मुताबिक डाइट चार्ट का सही से पालन करें और मन में विश्वास बनाए रखें कि आपके जीवन में सबकुछ अच्छा होने वाला है। गर्भावस्था के इन दिनों का भरपूर आनंद लें क्योंकि ये पल आपके लिए बेहद खास हैं।

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

  • कमेंट
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.
+ ब्लॉग लिखें
टॉप खाना और पोषण ब्लॉग
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}