• लॉग इन करें
  • |
  • रजिस्टर
पेरेंटिंग स्वास्थ्य खाना और पोषण

बच्चों को रोज अंडा खिलाने के क्या हैं बड़े फायदे ?

Prasoon Pankaj
1 से 3 वर्ष

Prasoon Pankaj के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Jan 30, 2019

बच्चों को रोज अंडा खिलाने के क्या हैं बड़े फायदे

चाहे आप देश के किसी भी हिस्से में रहते हों, गांव हो या कस्बा, छोटे शहर हों या महानगर। अगर हम आपसे ये सवाल पूछें कि उन दो खाद्य पदार्थों का नाम बताएं जो सबसे आसानी से और हर जगह उपलब्ध हो जाता है तो आपका जवाब क्या होगा। कुछ पल विचार करने के बाद शायद आपका जवाब भी यही होगा कि आलू और अंडा। जी हां, बिल्कुल सही...अंडे और आलू हर जगह सर्वसुलभ तरीके से उपलब्ध हो जाते हैं। क्या आप जानती हैं कि अंडा आपके बच्चे के लिए कितना महत्वपूर्ण पोषक खाद्य पदार्थ है? आज हम आपको इस ब्लॉग में बताने जा रहे हैं कि अगर आपका बच्चा प्रतिदिन 1 अंडे का सेवन करे तो उसको कितने सारे फायदे मिल सकते हैं। [इस ब्लॉग को जरूर पढ़ें - प्रेग्नेंसी में अंडे का सेवन करना कितना सही ?]

बच्चों के लिए अंडा कितना फायदेमंद? / How Beneficial Eggs for Kids in Hindi?

जैसा कि आप जानती हैं कि अंडे को ओमेगा 2 फैटी एसिड, प्रोटीन और कैल्शियम का मुख्य स्रोत माना जाता है।ओमेगा 3 फैटी एसिड से हमारे शरीर में अच्छे कोलेस्ट्रॉल का निर्माण होता है। कैल्शियम हड्डियों और दांतों की मजबूती के लिए महत्वपूर्ण होता है वहीं दूसरी तरफ प्रोटीन हमारे शरीर के विकास के लिए बहुत जरूरी होता है और इससे आपके बच्चे की मांसपेशियां शक्तिशाली बनते हैं। इसके अलावा भी अंडे में कई और महत्वपूर्ण पोषक (Eggs Benefits & Nutritional Value) तत्व पाए जाते हैं जैसे कि सेलेनियम, जिंक, विटामिन (B2, B5, B6, B12, D, E, K) फॉस्फोरस एवं अन्य। 

  • स्वस्थ दिल के लिए जरूरी है अंडा - दिल की सेहत का ख्याल रखना सिर्फ वयस्कों के लिए जरूरी नहीं है बल्कि बच्चों के लिए भी उतना ही महत्वपूर्ण है। आप अगर अपने बच्चे को प्रतिदिन अंडा खिलाते हैं तो यकीन मानिए आपके बच्चे को हृदय संबंधी बीमारियां होने का खतरा नहीं के बराबर होता है। दरअसल अंडे का सेवन नियमित रूप से करने से शरीर में अच्छे कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ने लगती है। [इस ब्लॉग को जरूर पढ़ें - ये अच्छी आदतें आपके बच्चे को दिल की बीमारी से बचाएगा]
     
  • आंखों की रोशनी बढ़ाने में मदद करता है अंडा - जैसा कि आप जानती हैं कि आजकल कम उम्र के बच्चे भी आंखों की समस्या से पीड़ित होते हैं और नतीजा ये होता है कि उनकी आंखों पर चश्मा चढ़ जाता है। अंडे में लुटेइन, जेक्साथिन जैसे एंटी ऑक्सीडेंट विद्यमान होते हैं और ये आंखों की रेटिना को स्वस्थ बनाए रखते हैं। जिन बच्चों को आंखों से संबंधित समस्याएं हैं उनको अंडा जरूर खिलाना चाहिए। [ये ब्लॉग आपको जरूर पढ़ना चाहिए - बच्चे से करवाएं ये 7 एक्सरसाइज, जल्द उतर जाएगा चश्मा
     
  • वजन को नियंत्रण में रखता है - आपको अंडा की एक और खूबी के बारे में बताना चाहूंगा कि अगर आप अपने बच्चे का वजन बढ़ाना चाहते हैं तो भी अंडा असरकारी है लेकिन अगर आपको अपने बच्चे का वजन नियंत्रित रखना है तो ऐसी परिस्थिति में भी अंडा बहुत काम आ सकता है। अंडा खाने से पेट तो भर ही जाता है इसके साथ ही बहुत लंबे अंतराल तक बच्चे को भूख का एहसास भी नहीं होता है। अगर वजन कम करना है तो अंडे का पीला भाग बच्चे को कम खिलाएं और सफेद वाला हिस्सा ज्यादा खिलाएं। दरअसल अंडे के पीले भाग में कॉलेस्ट्रॉल ज्यादा होता है। वहीं दूसरी तरफ अगर आपके बच्चे का वजन कम है तो उन्हें अंडे का पीला वाला हिस्सा जरूर खिलाएं। [ये ब्लॉग जरूर  पढ़ें - कैसे करें बच्चों के वजन में बढ़ोत्तरी ?]
     
  • दांतों और हड्डियों को मजबूत करता है - अंडे में कैल्शियम, विटामिन डी की बहुतायत होती है। थकान व अन्य किन्हीं कारणों से अगर शरीर में दर्द बना रहता है तो एक अंडा नियमित रूप से खाना चाहिए। अंडा खाने से आपके बच्चे की हड्डियां और दांत भी मजबूत होंगे। [यहां जानिए - आपके बच्चे के लिए कैल्शियम क्यों और कितना जरूरी है]
     
  • आयरन की कमी को दूर करने में होता है मददगार - जिन बच्चों के शरीर में आयरन की कमी होती है उनके लिए तो अंडा खाना बहुत जरूरी है। हम आपको बता दें कि अंडे के पीले वाले भाग में आयरन की प्रचुरता होती है। 
     
  • याददाश्त और स्मरण शक्ति को बढ़ाता है - बहुत सारे माता-पिता अपने बच्चे की याददाश्त यानि मेमोरी पॉवर एवं स्मरण शक्ति को लेकर चिंतित नजर आते हैं। जैसा कि हमने आपको बताया है कि अंडे में बहुत सारे पोषक तत्व मौजूद होते हैं और इन्हीं में से एक है ओमेगा 3 फैटी एसिड एवं विटामिन। अंडा में कॉलिन डी नामका पोषक तत्व भी पाया जाता है। ये सारे पोषक तत्व स्मरण शक्ति को तीव्र बनाने में मददगार साबित हो सकते हैं। अगर किन्हीं वजहों से आपका बच्चा तनाव या चिंता में है तो उसको अंडा जरूर खिलाएं क्योंकि अंडा में पाया जाने वाला विटामिन बी 12 चिंता व तनाव को दूर करता है।
     
  • त्वचा में भी लाता है निखार - स्किन में निखार लाने के लिए भी अंडे का प्रयोग कर सकते हैं। अंडे के पीले वाले भाग में प्रोटीन भरपूर मात्रा में होता है। अंडे की जर्दी को फेस पैक की तरह प्रयोग में लाने पर स्किन खिल उठता है। अंडा खाने से स्किन से संबंधित कई और समस्याएं भी दूर होती है।
     
  • आपके बच्चे को रखेगा ऊर्जा से लबरेज - सुबह के समय में नाश्ता के दौरान अंडा खाने से आपके बच्चे के शरीर में दिन भर ऊर्जा का संचार होता रहेगा। 
     
  • नाखून को स्वस्थ बनाए रखता है - नाखून टूटने की समस्या से परेशान हैं तब तो अंडा जरूर खाएं क्योंकि इसमें विटामिन और अन्य मिनरल्स की प्रचुरता होती है।
     
  • बालों को मजबूत करता है - अंडा के पीले वाले भाग में बायोटिन नामका तत्व पाया जाता है। बालों में लगाने से बालों की समस्याएं दूर होती है।

 

अंडा खाने से आपका पूरा परिवार सेहतमंद बना रहता है। अंडा खाने से ब्रेस्ट कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से भी रक्षा होती है। अंडे में पाया जाने वाले फोलिक एसिड और विटामिन बी 12 ब्रेस्ट कैंसर से बचाता है।

NOTE: अब एक और अहम जानकारी आपके साथ साझा कर दूं कि कितने उम्र के बच्चों को अंडा खिलाना चाहिए तो आप ये जान लें कि जब आपका बच्चा 1 साल का हो जाता है तो उसके बाद आप अंडा खिलाना शुरू कर सकती हैं। 1 साल से कम उम्र के बच्चे को अंडा नहीं खिलाएं।

 

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

  • 5
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.

| Apr 15, 2019

2 year ke baby ko summer me ,1 week me kitna egg Dena chahia

  • रिपोर्ट

| Apr 15, 2019

summer me 1 week me kitni eggs dene chahia 1 2 years baby ko

  • रिपोर्ट

| Apr 04, 2019

summer m egg roj khila skte h kiya

  • रिपोर्ट

| Apr 03, 2019

My baby doesnt seatup yet

  • रिपोर्ट

| Jan 30, 2019

aapka sujhab hme psnd aaya

  • रिपोर्ट
+ ब्लॉग लिखें
टॉप पेरेंटिंग ब्लॉग
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}