पेरेंटिंग खाना और पोषण

जानिए आपके बच्चे के लिए कैल्शियम क्यों और कितना जरूरी है

Supriya Jaiswal
3 से 7 वर्ष

Supriya Jaiswal के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Aug 08, 2018

जानिए आपके बच्चे के लिए कैल्शियम क्यों और कितना जरूरी है

वैसे कैल्सियम सभी के लिए बहुत जरुरी होता है पर बढ़ते बच्चों और गर्भवती महिलाओं के लिए विटामिन्स और कैल्शियम की बहुत ज्यादा जरूरत होती है। बच्चों के शरीर की हड्डियों और दांतों की मजबूती को बनाये रखने में कैल्शियम की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। मुख्य रुप से उन बच्चों के लिए जिनकी हड्डियां नाजुक हैं। इसलिए हड्डियों को मजबूत करने के लिए उनके आहार में कैल्शियम को शामिल करना बहुत जरुरी होता है। आईये जानते हैं कि क्यों जरुरी है कैल्सियम आपके बच्चे के लिए |

आपके बच्चे के लिए कैल्शियम का महत्व/ Importance of calcium for your baby in Hindi

  1. उम्र के हिसाब से बच्चो को कैल्शियम की जरूरत -- शरीर में कैल्शियम की जरूरत का आंकलन बच्चे की उम्र के हिसाब से होता है जैसे -  1-3 साल के बच्चे को 500 मिग्रा (लगभग दो गिलास दूध के जितना)। 4-8 साल के बच्चे को 800 मिग्रा (लगभग तीन गिलास दूध के जितना)। ग्रोथ कर रहे बच्‍चों के लिए विटामिन, मिनरल, कैल्सियम, प्रोटीन बहुत जरूरी है

  2. मजबूत दांत और हड्डिया -- हम जानते हैं कि कैल्शियम मतलब स्ट्रांग बोन यह बात 100 फीसदी सच है कि मजबूत हड्डियां एवं दांतों के लिए कैल्शियम जरूरी है। कैल्शियम एक तरह का मिनरल है जो कि शरीर की हड्डियों में 99 प्रतिशत में होता है, इसका सिर्फ 1 प्रतिशत भाग ही खून में होता है। मतलब की आपके बच्चे की हड्डियों को स्वस्थ और मजबूत रखने के लिए कैल्शियम अनिवार्य है |

  3. बच्चो में रिकेट्स होने से बचाता है -- शरीर में कैल्शियम होने पर बच्चों में रिकेट्स नहीं होते। क्युंकी हड्डियों को मजबूती प्रदान करने के अलावा भी कैल्शियम के शरीर में और भी अनेक कार्य हैं जैसे कि मांसपेशियों एवं खून के प्रवाह का समुचित संचालन, दिमाग की तरंगों को शरीर के अन्य भाग में पहुंचाना आदि। कैल्शियम की कमी से बच्चों की हड्डियों में लचीलापन आ जाता है जिससे की रिकेट्स नामक बीमारी का खतरा बढ़ जाता है।

  4. इम्युनिटी सिस्टम को मजबुत करना -- कैल्शियम बच्चो को बीमारी से लड़ने की ताकत देते है।  एक कप सोया मिल्क का उपयोग करने से आपके बच्चे को 200 मि.ग्रा. कैल्शियम की प्राप्ति होती है। इसमें मौजूद कैल्शियम आपके बच्चे के इम्युनिटी सिस्टम को मजबूत बनाता है। सोया मिल्क आपके बच्चे को अंदरूनी तौर से मजबूत बनाता है

  5. बच्चो के विकास में सहायक -- बच्चों के हड्डियों के विकास के लिए कैल्शियम बहुत महत्वपूर्ण है। ऐसे में, अपने बच्चों को रोजाना दो बार दूध पीने के लिए जरूर दें। क्योंकि, दूध में कैल्शियम के अलावा प्रोटीन, पोटेशियम, बी12 और राइबोफ्लेविन आदि भी प्रचुर मात्रा में होता है। 1 गिलास दूध से आपके बच्चे को 240 मि.ग्रा.कैल्शियम की प्राप्ति होती है।

बच्चो के लिए कैल्शियम के स्रोत/ Calcium sources for children in Hindi

दूध ,दही ,संतरे का ज्यूस , पालक, संतरा, आइस्क्रीम, रतालु या शकरकंद, बीन्स ,हरी सब्जियाँ, मसूर, बादाम, मटर, ब्रोकली आदि में भी कैल्शियम अच्छी मात्रा में पाया जाता है। वे पदार्थ जो दूध से बने होते हैं जैसे चीज, मिल्क शेक, पनीर आदि भी कैल्शियम के अच्छे स्रोत होते हैं। अन्य खाद्य पदार्थों के अलावा मछली भी कैल्शियम की पूर्ति के लिए अच्छा माना जाता है, मछली में, कैल्शियम के अलावा, ओमेगा3 फैटी, आयरन, जिंक, आयोडीन, मैग्नीशियम, पोटेशियम एसिड भी पाया जाता है जो बच्चों के सम्पूर्ण विकास के लिए अहम माना जाता है। नट्स जैसे बादाम में भी कैल्शियम प्रचुर मात्रा में होता है, जो हड्डियों को मजबूती प्रदान करता है। क्योंकि, बादाम में कैल्शियम के साथ ही विटामिन ई और ओमेगा-3 फैटी एसिड भी होता है।

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

  • 2
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.

| Aug 08, 2018

meri beti 2 years 11 month ki h usko hr month fever ho jata h medicine leti h to theak h nhi to phr fever

  • रिपोर्ट

| Jun 22, 2018

nice article

  • रिपोर्ट
+ ब्लॉग लिखें
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}