पेरेंटिंग शिशु की देख - रेख

बात करने से बच्चे जल्दी सीखते है बोलना!

Gaurima
1 से 3 वर्ष

Gaurima के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Aug 11, 2018

बात करने से बच्चे जल्दी सीखते है बोलना

बच्चे का बोलना कई बार घर में होने वाले वातावरण पर भी निर्भर करता है। यदि आपके घर में कोई ऐसा नहीं है जो की बच्चे को बोलना सिखाएं, या फिर उससे बाते करे, ऐसे में कई बार बच्चे बोलने में देरी करते हैं। ऐसा होने पर परेशान होने की जरूरत नहीं है। बस बच्चे को थोड़ा माहौल में बदलाव की जरुरत होती हैं। आइये जानते हैं बच्चे को बोलना सिखाने के कुछ टिप्स

बच्चे को जल्दी बोलना सीखाने के लिए ये काम करें/ Do This To teach Your Child To Speak Quickly In Hindi

इन उपायों को आजमाने से बच्चे जल्दी बोलना सीख सकते हैं। 

  1. बच्चो से बातें करे -- कई बार ऐसा भी होता हैं की बच्चा आपके साथ होता हैं परंतु आप केवल उसे गोद में ही उठाये रहते हैं | ऐसे में बच्चा केवल गोद में ही रहता हैं| यदि माँ-बाप उसके साथ बाते करे, उसे बोले की ये बोलो वो बोलो तो बच्चे बोलने का प्रयास करते हैं। शुरुआत में बच्चे बोलते नहीं हैं, बल्कि अपने होंठो को हिलाना सीखते हैं। उसके बाद यदि आप दिन में उसके साथ थोड़ा समय बिताये, और उनसे बाते करे तो ये भी उनको बोलना सिखाने में मदद करते है।
     
  2. बच्चे को दिन में थोड़ा समय बाहर घुमाने जरूर ले जाएं -- बच्चा यदि अकेला रहता है तो वो कई बार बोलना नहीं सिख पाता है| जैसे ही वो दूसरे बच्चो के साथ संपर्क में आता हैं तो उसके अंदर भी खेलने की चाह बढ़ती है। वो भी उनकी हरकतों को देखकर सीखता है उनको बुलाने की कोशिश करता है और कई बार ऐसे में ही वो छोटे-छोटे शब्दो को बोलना सीखता है। बच्चे को दूसरे बच्चों के साथ खिलाने पर वो एक्टिव भी होते हैं। बच्चो को दूसरे बच्चो के साथ खिलाने पर भी आप बच्चे को बोलना सीखने में मदद कर सकते हैं।
     
  3. बच्चो के सामने शब्दो का उच्चारण बार-बार करे -- आपको उसके सामने साधारण शब्दों का उच्चारण बार बार करना चाहिए। ऐसे में आपको बहुत मेहनत करने की जरुरत नहीं हैं, जब भी आप बच्चे के साथ खेल रही होती हैं. तो आपको भी बोलते रहना हैं। थोड़े ही दिनों में आपको इसका असर जरूर दिखाई देगा, उन्हें कुछ ऐसे  खिलोने भी दे जो बोलते हों। एक रिसर्च के मुताबिक बच्चे उन शब्दों को तेजी के साथ सीखते हैं जिनमें दोहराव हो उदाहरण के लिए पापा-मम्मा, बाबा, दादा-दादी, नाना-नानी, चाचा-चाची, मामा-मामी तो सबसे पहले उन शब्दों को अपने बच्चे के सामने बार-बार दोहराएं इससे आपका बच्चा बहुत जल्द इन शब्दों को बोलना सीख जाएगा।
     
  4. बच्चो को टीवी दिखाएं, गेम्स खिलाएं-- आज के समय में टीवी देखकर बच्चे बहुत आसानी से सब कुछ सीख जाते हैं| ऐसे में आपको बच्चे को थोड़े समय के लिए टीवी में पोयम्स और कार्टून्स दीखने चाहिए| जिससे बच्चे का थोड़ा मनोरंजन हो सके और बच्चा उसे देखकर कुछ सीख पाएं| और बच्चे जब टीवी में किसी चीज की सरगम को सुनते हैं तो बच्चे बहुत खुश होते हैं | आपको भी बच्चो के साथ बैठकर टीवी में कार्टून्स के नाम बोलते रहना चाहिए| इससे भी आपके बच्चे के बोलने में सुधार आएगा|

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

  • 3
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.

| Oct 13, 2018

nice

  • रिपोर्ट

| Aug 13, 2018

nice blok

  • रिपोर्ट

| May 27, 2018

Meri beti 1. 5 year old h but wo abhi sifr mumma papa hi bolti h or kuch bhi nhi

  • रिपोर्ट
+ ब्लॉग लिखें
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}