• लॉग इन करें
  • |
  • रजिस्टर
गर्भावस्था

गर्भावस्था में पैरों के दर्द से कैसे पाएं राहत?

Sadhna Jaiswal
गर्भावस्था

Sadhna Jaiswal के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Mar 25, 2021

गर्भावस्था में पैरों के दर्द से कैसे पाएं राहत
विशेषज्ञ पैनल द्वारा सत्यापित

प्रेगनेंसी एक ऐसा दौर होता है, जिसमे आपको अपना खास ख्याल रखने की जरुरत होती है। इस समय शरीर में कई तरह के हार्मोनल चेंजेस होते है और इन्ही हार्मोनल चेंजेस से पैरो में दर्द की समस्या भी बनी रहती है। इस अवस्था में ये आम बात है।पैरों में दर्द की समस्या आयरन की कमी से होने वाले एनीमिया के कारण भी हो सकती है। प्रेग्नेंसी के दौरान एनीमिया के कारण और उपचार जानने के लिए यहां इस लिंक पर क्लिक करके जानकारी प्राप्त कर सकते हैं :- क्या है गर्भावस्था में एनीमिया के कारण, लक्षण और एनीमिया से निजात पाने के उपाय। गर्भावस्था के दौरान पैरों में दर्द के कारण व उपचार (Feet Pain While Pregnant: Reasons & Treatment) के लिए आपको एक बार डॉक्टर से भी सलाह लेनी चाहिए या फिर हो सकता है इसका कोई जेनेटिक कारण हो। कई बार ऐसी अवस्था में अच्छी नींद ना मिल पाने के कारण भी पैरो में बैचेनी और दर्द की समस्या हो जाती है।

 

गर्भावस्था के दौरान क्यों होता है पैरों में दर्द? / Why Is Pain In The Feet During Pregnancy in hindi

विशेषज्ञों की माने तो पैरों के दर्द की समस्या अधिक तनाव या फिर आहार में कमी की वजह से हो सकती है। इस समय आपको अपने खान-पान और जीवनशैली की आदतों पर ध्यान देना होगा।

  • गर्भावस्था में शरीर का वजन तीसरे महीने से ही बढ़ने लगता है और बढे हुए वजन का दबाव आपके पैरो पर पड़ता है, इसलिए भी रात में सोते समय जब पैरो को आराम मिलता है तो मॉसपेशियों में दर्द होने लगता है।
     
  •  इस अवस्था में खान-पान पर ज्यादा ध्यान न देने से शरीर में विटामिन्स, मिनरल्स, मैगनिशियम और पोटेशियम की कमी हो जाती है जिससे पैरो में दर्द होता है। 
     
  • इस अवस्था में यदि आप रात में कार्बोहाईड्रेट की मात्रा ज्यादा ले रही है तो भी आपके पैरों में बेचैनी का अहसास होने लगता है। 
     
  • कभी-कभी कुछ मामलो में देखा जाता है की गर्भाशय के बढ़ जाने के कारण पैरों तक जाने वाली कुछ नसें दब जाती है, जिससे पैरों में खून का प्रवाह कम हो सकता है और ये दर्द का कारण बन सकता है। 
     
  • पैरों में दर्द की समस्या आयरन की कमी से होने वाले अनीमिया के कारण भी हो सकता है।
     
  • ऐसी अवस्था में शरीर में  इलेक्ट्रोलाईट और पोषण की कमी के कारण मांसपेशियों में ऐंठन होने लगती है। 

 

प्रेगनेंसी में पैरो के दर्द से निजात पाने के उपाय / Some Ways To Get Rid Of Pain In The Feet In Hindi

गर्भावस्था में पैरों के दर्द से निजात दिलाने के लिए आज हम इस ब्लॉग में आपको कुछ अचूक उपायों को बताने जा रहे हैं।

  • पैरो के दर्द से निजात पाने का सबसे अच्छा उपाय है नियमित रूप से व्यायाम करना, चाहे ये कुछ ही समय के लिए क्यों ना किया गया हो लेकिन नियमित रूप से सुबह के समय और सोने से पहले पैरो को स्ट्रेचिंग जरुर करें। 
     
  • इस अवस्था में अक्सर पानी की कमी से भी पैरो में बैचेनी, जलन होती है तो इसके लिए भरपूर मात्रा में पानी पीयें। रात में सोने से पहले भी पानी पीना ना भूले, क्योकि ऐसी अवस्था में शरीर से तरल पदार्थ भी निकलते है। 
     
  • पैरो के दर्द को कम करने के लिए आप गुनगुने पानी में एक चम्मच नमक डालकर अपने पैरो को उसमे डुबोकर रखें इससे पैरो में होने वाली जलन, सूजन भी कम हो जाएगी और आपके पैरो को आराम मिलेगा। 
     
  • इस अवस्था में बहुत अधिक एक ही अवस्था में बैठे रहना या लेटे रहना भी आपके और आपके बच्चे के स्वास्थ्य के लिए ठीक नहीं होता है, इसलिए इस दौरान कुछ समय के लिए जरुर चलना-फिरना चाहिए, यह आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा होता है और पैरों की मासपेशीयां भी मजबूत होती है।
     
  • यदि पैरो में दर्द और सुजन अधिक हो गयी हो तो आप उसकी सिकाई भी कर सकती है, इसके लिए आप गर्म पानी रबर के थैली में भरकर या फिर गर्म पानी की बोतल का भी उपयोग कर सकती है।
     
  • इस अवस्था में पैरो के दर्द को कम करने के लिए योगा, ध्यान या फिर एक्यूपंचर का भी सहारा लिया जा सकता है। 

 

यदि आपके पैरो में ज्यादा दर्द हो रहा हो और ये लगातार बना हुआ हो या फिर पैरो में सुजन और लालिमा ज्यादा बढ़ गयी हो तो, ऐसे में आपको डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए क्योकि हो सकता है शरीर में इस दौरान किसी तत्व की कमी आई हो इसलिए आपको डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।

 

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

इस ब्लॉग को पेरेंट्यून विशेषज्ञ पैनल के डॉक्टरों और विशेषज्ञों द्वारा जांचा और सत्यापित किया गया है। हमारे पैनल में निओनेटोलाजिस्ट, गायनोकोलॉजिस्ट, पीडियाट्रिशियन, न्यूट्रिशनिस्ट, चाइल्ड काउंसलर, एजुकेशन एंड लर्निंग एक्सपर्ट, फिजियोथेरेपिस्ट, लर्निंग डिसेबिलिटी एक्सपर्ट और डेवलपमेंटल पीड शामिल हैं।

  • 5
कमैंट्स ()
Kindly Login or Register to post a comment.

| Jan 13, 2019

mujhe 37 week chl rha h doctor ne kha ki apka baby down nhi ho rha h mujhe kya krna chahiye

  • Reply | 1 Reply
  • रिपोर्ट

| Jan 16, 2019

mere pairo me dard bhut hota h morning me kya kru

  • Reply
  • रिपोर्ट

| Aug 03, 2019

Mere paro me dard hota h me keya karu

  • Reply
  • रिपोर्ट

| Nov 22, 2020

Mera 9monthchl rha h muje normal dilevery ke liye kya krna chaiye

  • Reply
  • रिपोर्ट
+ ब्लॉग लिखें

टॉप गर्भावस्था ब्लॉग

Ask your queries to Doctors & Experts

Download APP
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}