गर्भावस्था

गर्भावस्था में मां के लाइफस्टाइल से बढ़ सकता है बच्चे का मोटापा

Deepak Pratihast
गर्भावस्था

Deepak Pratihast के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Oct 06, 2018

गर्भावस्था में मां के लाइफस्टाइल से बढ़ सकता है बच्चे का मोटापा

गर्भावस्था में मां को बहुत ही सावधानी बरतनी होती है। क्योंकि इस दौरान उससे पेट में पल रहा नवजात भी जुड़ा होता है। ऐसे में मां की ओर से की गई लापरवाही शिशु को भी प्रभावित करती है और इसका असर उसके विकास पर पड़ता है। ऐसे में प्रेग्नेंसी के दौरान मां को बेहतर लाइफस्टाइल पर ध्यान देना चाहिए। अनियमित जीवनशैली पेट में पल रहे बच्चे को नुकसान पहुंचा सकती है। इसी में से एक है मोटापा। मां के गलत लाइफस्टाइल से पेट में पल रहे बच्चे का मोटापा बढ़ सकता है और ये दोनों के लिए खतरनाक है। इस ब्लॉग में हम बात करेंगे आखिर इससे क्या-क्या नुकसान हो सकते हैं और इससे कैसे बचा जा सकता है।

गलत लाइफस्टाइल से होने वाले बच्चे पर असर / Impact On The Child With Negligence During Pregnancy In Hindi

  • अगर मां का लाइफस्टाइल प्रेग्नेंसी के दौरान सही नहीं है तो बच्चे पर बहुत असर पड़ता है। अगर मां इस दौरान बहुत ज्यादा खाती है, तो इससे बच्चा मोटा हो जाता है। मोटे बच्चे की डिलिवरी में काफी दिक्कत आती है। 
     
  • अगर मां लंबे समय तक नहीं खाती है या खाली पेट रहती है, तो ये भी बच्चे के लिए खतरनाक है। दरअसल खाली पेट रहने से मां को डायबिटिज होने का खतरा रहता है। इस स्थिति में भी बच्चा मोटा हो सकता है और डिलिवरी में दिक्कत आ सकती है। 
     
  • मोटे बच्चे की नॉर्मल डिलिवरी होने की संभावना बहुत कम होती है। दरअसल नॉर्मल डिलिवरी के दौरान बच्चे का कंधा फंसने का खतरा रहता है। इससे बच्चे की मौत भी हो सकती है। 
     
  • अगर किसी तरह बच्चे का जन्म ठीक से हो भी जाए, तो समस्या बाद में भी बनी रहती है। दरअसल मोटे बच्चे को सांस लेने के अलावा कई अन्य तरह की परेशानियां आती हैं।
     
  • इस तरह के केस में जल्दी प्रसव, मां को हाइपरटेंशन व प्रीक्लेम्सिया होने का भी खतरा रहता है।
     
  • गर्भ में बच्चे के मोटे होने से जन्म के बाद ज्यादा ब्लीडिंग भी होती है।
     
  • बच्चा मोटा हो और ज्यादा वजन हो तो सिजेरियन डिलिवरी कराना पड़ता है। इस दौरान घाव का इन्फेक्शन होने का खतरा रहता है। 
     
  • इसके अलावा इस स्थिति में नसों या फेफड़ों में खून का थक्का बनने का भी खतरा रहता है। 

गर्भावस्था के दौरान इन बातों से करें परहेज / Avoid these things during pregnancy In Hindi

  1. गर्भावस्था में मीठा खाने से बचें। इससे बच्चे का वजन व मोटापा बढ़ सकता है।
     
  2. प्रेग्नेंसी के दौरान धूम्रपान, शराब व अन्य नशा करने से बचें। इसका असर बच्चे की सेहत पर भी पड़ता है। वह मोटा भी हो सकता है।
     
  3. गर्भावस्था में फास्टफूड का सेवन करने से भी पेट में पल रहे बच्चे का मोटापा बढ़ सकता है।
     
  4. प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं को मेकअप पर बहुत कम ध्यान देना चाहिए। ज्यादा चेहरा रगड़ने से बच्चे की स्किन पर भी असर पड़ता है। इसके अलावा बच्चे के मोटे होने का खतरा भी बना रहता है। 
     
  5. गर्भावस्था में तली और भुनी हुई चीजें भी महिलाओं को नहीं खानी चाहिए। दरअसल ज्यादा चिकना खाने से बच्चे के स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है और बच्चे के मोटे होने की संभावना बढ़ जाती है।

गर्भावस्था का समय एक महिला के लिए अति महत्वपूर्ण होता है। आप इन पलों का आनंद उठाएं और बिना किसी तनाव या चिंता के इस वक्त बस अपने होने वाले बच्चे के बारे में विचार करें। खान-पान और आपके लाइफस्टाइल का आपके पेट में पल रहे बच्चे पर सबसे अधिक असर होता है तो बस इसका ध्यान रखें।

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

  • 1
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.

| Jul 31, 2018

Hi

  • रिपोर्ट
+ ब्लॉग लिखें
टॉप गर्भावस्था ब्लॉग
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}