पेरेंटिंग

जानें शिशु के जन्म के बाद कब तक सेक्स से दूर रहना चाहिए ?

Anubhav Srivastava
0 से 1 वर्ष

Anubhav Srivastava के द्वारा बनाई गई
संशोधित किया गया Nov 12, 2018

जानें शिशु के जन्म के बाद कब तक सेक्स से दूर रहना चाहिए

बच्चे के जन्म के बाद सेक्स ! दिन बीतने के साथ जैसे-जैसे मां जन्म देने के दर्द से उबरने लगती है, ये सवाल सभी कपल्स के दिमाग में आता है कि जन्म के कितने दिन बाद सेक्स करना सुरक्षित होता है। बच्चे के जन्म के कितने दिन बाद तक सेक्स नहीं करना चाहिए, ये पूरी तरह जन्म के तरीके पर निर्भर करता है। सामान्य डिलीवरी के बाद मां को ठीक होने में कम समय लगता है।शिशु के जन्म के बाद कब तक सेक्स से दूर रहना चाहिए, ये पूरी तरह जन्म के तरीके पर निर्भर करता है...

बच्चे के जन्म के कितने दिन बाद तक सेक्स नहीं करना चाहिए?/ How long should Wait to Have Sex after Baby Birth in Hindi ?

 

  • शरीर ठीक हो जाने के बाद भी अगर आप सेक्स के लिए सहज महसूस नहीं करती हैं, तो आपको खुद को और समय देना चाहिए.
     
  • जन्म के बाद होने वाली ब्लीडिंग रुकने तक इंतज़ार करने की सलाह दी जाती है
     
  • इसके बाद भी सेक्स करते हुए ऐसी पोजीशन ट्राई नहीं करनी चाहियें, जिनमें गर्भाशय पर ज़्यादा दबाव पड़ता हो 

 

इसे भी पढ़ें: क्या हैं गर्भावस्था के दौरान सेक्स के सम्बंधित कंफ्यूजन और उनके जवाब ?

 

जानें 5 बातें शिशु के जन्म के बाद सेक्‍स शुरू करने से पहले / Safety Precautions Starting Sex After Baby Delivery 

सबके अनुभव होते हैं अलग -

इस सवाल का कोई सटीक जवाब नहीं है, क्योंकि सभी के अनुभव अलग होते हैं। बच्चे के जन्म और सेक्स के समय के बीच कितना अन्तर होना चाहिए ये इस पर भी निर्भर करता है कि मां कब खुद को इसके लिए तैयार महसूस करती है. ये हर कपल के लिए बेहद निजी अनुभव होता है।
 

क्या कहते हैं डॉक्टर्स ?

डॉक्टर्स बच्चे के जन्म के 6 हफ़्ते बाद मां के शरीर की जांच कराने की सलाह देते हैं ताकि पता चल सके कि उसका शरीर पूरी तरह जन्म के बाद ठीक हो पाया है या नहीं। शरीर ठीक हो जाने के बाद भी अगर आप सेक्स के लिए सहज महसूस नहीं करती हैं, तो आपको खुद को और समय देना चाहिए।
 

ब्लीडिंग रुकने का करें इंतज़ार -

कुछ महिलाओं को बच्चे के जन्म के बाद पूरी तरह ठीक होने में कुछ हफ़्ते लगते हैं, तो कुछ को महीने लग जाते हैं। जन्म के बाद होने वाली ब्लीडिंग रुकने तक इंतज़ार करने की सलाह दी जाती है, क्योंकि इस दौरान गर्भ दोबारा सामान्य होने की प्रक्रिया में होता है।
 

टाँके लगे होने पर - 

अगर जन्म दे दौरान मां को टांके लगाये गए हैं, तो गर्भ को सामान्य होने में और वक़्त लग सकता है। गर्भाशय के पूरी तरह ठीक होने से पहले संबंध बनाने से संक्रमण होने का भी ख़तरा रहता है।
 

सेक्स पोजीशन सेलेक्ट करने में सावधानी बरतें -

इसके बाद भी सेक्स करते हुए ऐसी पोजीशन ट्राई नहीं करनी चाहियें, जिनमें गर्भाशय पर ज़्यादा दबाव पड़ता हो। मां बनने पर आपमें कई शारीरिक और मानसिक बदलाव आते हैं. ये एक बदलाव की प्रक्रिया है, जिससे गुज़रने में आपको कोई हड़बड़ी नहीं करनी चाहिए।

आपका एक सुझाव हमारे अगले ब्लॉग को और बेहतर बना सकता है तो कृपया कमेंट करें, अगर आप ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पैरेंट्स के साथ शेयर जरूर करें।

  • 1
कमैंट्स()
Kindly Login or Register to post a comment.

| Aug 21, 2018

ji ha thoda thik tha

  • रिपोर्ट
+ ब्लॉग लिखें
Loading
{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}

{{trans('web/app_labels.text_Heading')}}

{{trans('web/app_labels.text_some_custom_error')}}